1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. जानें, जेल में बंद आजम खान को क्यों बेचनी पड़ रही है अपनी दोनाली बंदूक

जेल में बंद सपा सांसद आजम खान को मिली अपनी दोनाली बंदूक बेचने की इजाजत

समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खान को अपनी दोनाली बंदूक बेचने की इजाजत मिल गई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 12, 2021 15:45 IST
Azam Khan, Azam Khan Gun, Azam Khan Jail, Azam Khan Samajwadi Party, Azam Khan Rifle- India TV Hindi
Image Source : PTI FILE समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खान को अपनी दोनाली बंदूक बेचने की इजाजत मिल गई है।

रामपुर: समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खान को अपनी दोनाली बंदूक बेचने की इजाजत मिल गई है। बता दें कि जिला प्रशासन ने उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री आजम खान को नोटिस जारी कर कहा था कि वह 2 से ज्यादा लाइसेंसी हथियार नहीं रख सकते हैं। नोटिस मिलने के बाद खान ने अपनी दोनाली बंदूक को बेचने की अनुमति मांगी थी। गौरतलब है कि वर्तमान में आजम खान अपने बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ सीतापुर जेल में बंद हैं। उनके पास एक लाइसेंसी रिवॉल्वर, एक राइफल और एक दोनाली बंदूक है। आजम खान ने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर अपनी दोनाली बंदूक बेचने की अनुमति मांगी थी।

आजम के बेटे और पत्नी के पास भी हैं अग्नेयास्त्र

सिटी मजिस्ट्रेट रामजी मिश्रा ने कहा, ‘सांसद को अपनी दोनाली बंदूक बेचने की अनुमति दी गई है। हमने सीतापुर जेल अधिकारियों को उन्हें दी गई अनुमति के बारे में भी सूचित कर दिया है। इससे पहले, सरकार ने अतिरिक्त अग्नेयास्त्रों को सरेंडर करने के लिए जनवरी की समयसीमा तय की थी, लेकिन बाद में तारीख जून तक बढ़ा दी गई थी।’ केंद्र सरकार ने पिछले साल 1959 आर्म्स एक्ट में संशोधन किया था, जिसमें एक व्यक्ति के पास अग्नेयास्त्रों की संख्या 3 से घटाकर 2 तक सीमित कर दी गई थी। आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम के पास रिवॉल्वर है। वहीं, आजम की विधायक पत्नी तंजीन फातमा के पास राइफल है।

समाजवादी पार्टी ने शुरू की साइकिल यात्रा
आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि संशोधन के बाद, उन सभी को नोटिस दिए गए जिनके पास 3 अग्नेयास्त्र थे। इसके बाद कई राजनेताओं ने अपने हथियारों को सरेंडर कर दिया है। इस बीच समाजवादी पार्टी ने आजम खान के समर्थन में रामपुर से लखनऊ तक की साइकिल यात्रा की आज शुरुआत कर दी है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश के नेतृत्व में शुरू होने वाली इस यात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों पर होने वाली जनसभा और चौपाल में मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के संस्थापक व सांसद मोहम्मद आजम खान के खिलाफ हुई कार्रवाई का मुद्दा पुरजोर तरीके से उठाया जाएगा।

Click Mania
Modi Us Visit 2021