Shrikant Tyagi Case: श्रीकांत त्यागी पर 25 हजार का इनाम घोषित, नोएडा-गाजियाबाद में है इतनी संपत्ति, डिप्टी CM और MLA पंकज सिंह का भी बयान सामने आया

Shrikant Tyagi Case:नोएडा पुलिस ने श्रीकांत त्यागी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया है। श्रीकांत त्यागी के पास नोएडा के भंगेल में प्रॉपर्टी है, जहां एक दर्जन के करीब छोटी-मोटी दुकानें हैं। इसके अलावा गाजियाबाद के सिहानी गांव में भी उसके पास बहुत प्रॉपर्टी है

Reported By : Kumar Sonu, Bhaskar Mishra, Atul Bhatia Edited By : Rituraj Tripathi Updated on: August 08, 2022 13:21 IST
Shrikant Tyagi Case- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV GFX Shrikant Tyagi Case

Highlights

  • श्रीकांत त्यागी के पास नोएडा के भंगेल में भी प्रॉपर्टी
  • एक दर्जन के करीब छोटी-मोटी दुकानें, आता है हर महीने किराया
  • गाजियाबाद के सिहानी गांव में भी प्रॉपर्टी, कई कमरे किराये पर उठे

Shrikant Tyagi Case: नोएडा के गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। आज उसके अवैध अतिक्रमण पर नोएडा अथॉरिटी ने बुलडोजर चलाया है और पुलिस उसकी तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है। इस बीच खबर मिली है कि नोएडा पुलिस ने श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) पर 25 हजार का इनाम घोषित किया है। गौतमबुद्ध नगर पुलिस की मीडिया सेल ने बताया कि कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर के थाना फेस-2 पर मु0अ0सं0 329/22 में नामजद अभियुक्त श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) की गिरफ्तारी पर कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर पुलिस द्वारा 25,000 रुपए का इनाम घोषित किया गया है।

भंगेल में श्रीकांत त्यागी की प्रॉपर्टी पर पहुंचे GST अधिकारी

श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) के पास नोएडा के भंगेल में भी प्रॉपर्टी है, जहां एक दर्जन के करीब छोटी-मोटी दुकानें हैं। इनका किराया 6-7 हजार रुपए प्रति महीना है। इन दुकानों में मोटर पार्ट्स और गैराज बना हुआ है। यहीं पर वर्षा धर्म कांटा भी है, जो पिछले कई महीनों से बंद पड़ा है। यहां पर पुल बन रहा रहा है, जिस वजह से रास्ता बंद है। इस बिल्डिंग के एक रूम में श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) का दफ्तर भी है। जो बंद पड़ा है। GST से जुड़े अधिकारी भी यहां पहुचे हैं। इनका कहना है कि प्रशासन के आदेश के बाद जांच करने के लिए आए हैं।

गाजियाबाद में भी है श्रीकांत त्यागी की प्रॉपर्टी

श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) के पास गाजियाबाद के सिहानी गांव में बहुत प्रॉपर्टी है। कई दुकाने किराए पर हैं और बहुत से रूम किराए पर उठे हुए हैं। यहीं से उसको मोटा किराया मिलता है।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने बीजेपी को घेरा

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) मामले में बीजेपी को घेरा है। उन्होंने कहा कि क्या इतने सालों से भाजपा सरकार को नहीं पता था कि नोएडा के भाजपा नेता का निर्माण अवैध है? बुलडोजर कार्रवाई दिखावटी है। सवालों के जवाब से सरकार बच रही है। एक महिला के साथ खुलेआम अभद्रता व 10-15 गुंडे भेजकर महिलाओं को धमकाने की हिम्मत उसे कौन दे रहा है? कौन है जो उसको बचाता रहा? किसके सरंक्षण में उसका गुंडाराज और अवैध कारोबार फला-फूला?

श्रीकांत त्यागी के समर्थन में आए लोगों के खिलाफ FIR, सोसाइटी के लोगों ने कही ये बात

श्रीकांत त्यागी (Shrikant Tyagi) के समर्थन में नोएडा की ओमैक्स सोसाइटी में आए लोगों के खिलाफ FIR दर्ज हुई है। सोसायटी की सेक्रेटरी महिमा जोशी ने कहा है कि हमें यहां 24 घंटे पुलिस की सुरक्षा चाहिए। ऐसी सुरक्षा जो समय आने पर एक्शन ले। पिछले दिन गुंडे आ गए, कोई एक्शन नहीं लिया गया। वहीं सोसाइटी की निवासी नमिता सिंह ने कहा कि ये नोएडा की नंबर 1 सोसाइटी है, उस आदमी ने सोचा कि वो हाथापाई कर सकता है, गाली गलौच कर सकता है। उनकी फैमिली ने पहले भी ऐसी ही बदतमीजी लोगों के साथ की है। हमने शिकायत पहले भी की थी। 48 घंटे में श्रीकांत के गिरफ्तार होने की बात की गई थी। लेकिन वो आदमी अब तक नही पकड़ा गया है।

सोसाइटी की पूर्व प्रेसीडेंट स्वाति अग्रवाल सिंह ने कहा कि नोएडा अथॉरिटी ने पहले कोई कार्रवाई नहीं की थी। प्राधिकरण के लोग गलत कह रहे हैं। जब मैं RWA में थी तो ये स्विमिंग पूल पर अपने बाउंसर लेकर वर्दी में लोगों को लेकर आ जाते थे। अक्सर अपने बाउंसर के साथ दिखते थे। ये हर जगह अपनी मनमानी करते रहे हैं। ये ना हो कि ये फिर से छूट कर यहां आ जाएं। हमारी सुरक्षा कौन करेगा, हमें लिखित में चाहिए।

ऐना ने कहा कि महिलाओं की जीत नहीं हुई है क्योंकि वो अब तक पकड़ा नहीं गया है। कल इन्होंने डेढ़ लाख से ज्यादा का बकाया बिल जमा किया। ये बिल उनकी कजिन सिस्टर ने जमा किया है। 

श्रीकांत त्यागी केस पर डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने क्या कहा?

श्रीकांत त्यागी केस पर यूपी के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने कहा कि यूपी में किसी भी तरह का कोई अपराधी बख्शा नहीं जाएगा। आरोपियों पर निश्चित तौर पर कार्रवाई की जाएगी। सीएम योगी ने इस मामले को संज्ञान में लिया है। 

नोएडा के विधायक पंकज सिंह ने क्या कहा? 

श्रीकांत के मामले पर नोएडा के विधायक पंकज सिंह का बयान भी सामने आया। उन्होंने कहा कि जो गलत है वो ध्वस्त होगा। योगी सरकार में कोई अपराधी बच नहीं सकता है। मेरा श्रीकांत से कोई संबंध नहीं है। हमारी चिंता पीड़ित परिवार को लेकर है। 

 

Latest Uttar Pradesh News

navratri-2022