1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कृषि क्षेत्र में मजबूत रिकवरी के सहारे चालू वित्त वर्ष में ग्रोथ 10% से ज्यादा होगी: नीति आयोग

कृषि क्षेत्र में मजबूत रिकवरी के सहारे चालू वित्त वर्ष में ग्रोथ 10% से ज्यादा होगी: नीति आयोग

रिजर्व बैंक ने पिछले महीने ही चालू वित्त वर्ष 2021-22 के लिए सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में वृद्धि के अनुमान को 9.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा था।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: November 11, 2021 19:14 IST
चालू वित्त वर्ष में...- India TV Hindi
Photo:PTI

चालू वित्त वर्ष में ग्रोथ 10% से ज्यादा होगी: नीति आयोग

नई दिल्ली। नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा है कि रिकॉर्ड खरीफ फसल और रबी फसल की उज्ज्वल संभावनाओं को देखते हुए चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था के 10 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि करने की उम्मीद है। हालांकि कुमार ने आगाह किया कि आपूर्ति श्रृंखला संबंधी बाधाओं और बढ़ती ऊर्जा कीमतों के साथ स्थायी वैश्विक आर्थिक सुधार के लिए मुद्रास्फीति एक प्रमुख जोखिम के रूप में उभर रही है। 

उन्होंने नीति आयोग के न्यूजलेटर 'अर्थनीति' में लिखा "हमें उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2021-22 में भारत की वास्तविक जीडीपी वृद्धि रिकॉर्ड खरीफ फसल, और रबी फसल की उज्ज्वल संभावनाओं को देखते हुए 10 प्रतिशत से अधिक होगी। इससे ग्रामीण मांग को बढ़ावा मिलेगा और क्षमता उपयोग में सुधार के साथ विनिर्माण क्षेत्र में पुनरुद्धार होगा।" कुमार ने कहा कि निर्यात में जोरदार वृद्धि होने से आर्थिक वृद्धि और रोजगार सृजन को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा, "संपर्क-गहन सेवा क्षेत्र के धीर-धीरे जोर पकड़ने से वृद्धि की रफ्तार बढ़ने की संभावना है। भारत ने 21 अक्टूबर को कोविड-19 टीके की एक अरब खुराक देने का ऐतिहासिक मुकाम हासिल किया।" नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने यह भी कहा कि देश भर में तेज टीकाकरण अभियान से यह सुनिश्चित होगा कि भविष्य में महामारी की लहर का जोखिम कम से कम हो। 

रिजर्व बैंक ने पिछले महीने ही चालू वित्त वर्ष 2021-22 के लिए सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में वृद्धि के अनुमान को 9.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा था। वहीं विश्व बैंक ने भारतीय अर्थव्यवस्था के वित्त वर्ष 2021-22 में 8.3 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद जताई है।  फिच रेटिंग्स ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 8.7 प्रतिशत कर दिया। इसके साथ ही उद्योग संगठन  फिक्की ने वित्त वर्ष 2021-22 में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 9.1 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद जताई है।

Latest Business News

gujarat-elections-2022