ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. HDFC Bank करेगा 500 संपर्क प्रबंधकों की भर्ती, MSME क्षेत्र में अपनी पहुंच बढ़ाने पर करेगा फोकस

HDFC Bank करेगा 500 संपर्क प्रबंधकों की भर्ती, MSME क्षेत्र में अपनी पहुंच बढ़ाने पर करेगा फोकस

एमएसएमई मद के तहत थोक व्यापारी और खुदरा ऋणों को शामिल करने के बाद मार्च 2021 तिमाही में बैंक का एमएसएमई ऋण खाता मामूली रूप से बढ़कर 2,01,833 करोड़ रुपये हो गया, जो दिसंबर 2020 में 2,01,758 करोड़ रुपये था

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 09, 2021 18:50 IST
HDFC Bank to hire 500 more to expand MSME coverage- India TV Paisa
Photo:PTI

HDFC Bank to hire 500 more to expand MSME coverage

नई दिल्‍ली। देश में निजी क्षेत्र के सबसे बड़े ऋणदाता एचडीएफसी बैंक ने एमएसएमई क्षेत्र में अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए चालू वित्त वर्ष के दौरान 500 अतिरिक्त संपर्क प्रबंधकों को नियुक्त करने का फैसला किया है। इन नियुक्तियों के साथ ही बैंक की सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) शाखा में कुल कर्मचारियों की संख्या 2,500 हो जाएगी। इस समय बैंक की एमएसएमई शाखा की पहुंच 545 जिलों तक है, जहां इसके संपर्क प्रबंधक और निरीक्षक हैं। चालू वित्त वर्ष के अंत तक यह पहुंच बढ़कर कम से कम 575 जिलों तक हो जाएगी।

बैंकिंग कारोबार और स्वास्थ्य देखभाल वित्त के वरिष्ठ कार्यकारी उपाध्यक्ष सुमंत रामपाल ने सोमवार को कहा कि हम अपनी एमएसएमई पहुंच को 545 से बढ़ाकर 575 जिलों तक कर रहे हैं। ऐसे में चालू वित्त वर्ष में एमएसएमई शाखा में 500 से अधिक लोगों को नियुक्त कर रहे हैं। इससे इस शाखा में कुल कर्मचारियों की संख्या 2,500 से थोड़ा अधिक हो जानी चाहिए।

एमएसएमई मद के तहत थोक व्यापारी और खुदरा ऋणों को शामिल करने के बाद मार्च 2021 तिमाही में बैंक का एमएसएमई ऋण खाता मामूली रूप से बढ़कर 2,01,833 करोड़ रुपये हो गया, जो दिसंबर 2020 में 2,01,758 करोड़ रुपये था। रामपाल ने कहा कि बैंक का एमएसएमई पोर्टफोलियो कपड़ा, निर्माण, कृषि-प्रसंस्करण, रसायन, उपभोक्ता सामान, होटल और रेस्टोरेंट, ऑटो कलपुर्जे, फार्मा और कागज उद्योग जैसे क्षेत्रों में फैला हुआ है और इसमें थोक विक्रेता, खुदरा विक्रेता, वितरक और स्टॉकिस्ट शामिल हैं। रामपाल ने कहा कि बैंक पिछले दो वर्षों से इस क्षेत्र पर खासतौर से ध्यान दे रहा है और महामारी के बाद सरकार द्वारा छोटे कारोबारियों के लिए ऋण सुविधा बढ़ाने से क्षेत्र की वृद्धि तेज हुई है। 

सेबी कॉरपोरेट बॉन्ड खंड को मजबूत करने के लिए बाजार निर्माताओं की नियुक्ति करेगा

कॉरपोरेट बॉन्ड खंड को विकसित और मजबूत करने के लिए भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) बाजार निर्माताओं के एक समूह की नियुक्ति करने पर विचार कर रहा है। ये संस्थाएं कॉरपोरेट बॉन्ड के लिए द्वितीयक बाजार में नकदी पैदा करने के लिए ऐसे बॉन्ड की खरीद और बिक्री मूल्य को उद्धृत करती हैं। इसके साथ ही नियामक कॉरपोरेट बॉन्ड खरीदने के लिए बैकस्टॉप सुविधा स्थापित करने के तौर-तरीकों को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में है।

सेबी ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि वह कॉरपोरेट बॉन्ड के डेटाबेस में सुधार करने पर विचार भी कर रहा है। यह डेटाबेस निवेशकों को अधिक बारीक जानकारी उपलब्ध कराएगा। नियामक ने हाल के दिनों में द्वितीयक बाजार में नकदी की सुविधा के लिए कई उपाय किए हैं।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार ने सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड से जुटाए 31290 करोड़ रुपये, ब्‍याज दर बढ़ाने पर FM ने दिया ये बयान

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने की आज किसानों के लिए एक और बड़ी योजना की घोषणा

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने 9.75 करोड़ बैंक खातों में भेजे 2000 रुपये, तुरंत चेक करिए अपना अकाउंट बैलेंस

यह भी पढ़ें: यूरोप, अमेरिका, रूस में धूम मचाने के बाद Hyundai भारत में लेकर आ रही है नया ब्रांड N

यह भी पढ़ें:  Hyundai के SUV मॉडल्‍स के साथ अपनी पकड़ मजबूत बनाने की योजना

Write a comment
elections-2022