1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. IndiGo लॉकडाउन के कारण रद्द उड़ानों के यात्रियों को 31 जनवरी तक लौटाएगी टिकट का पैसा, एक हजार करोड़ की है रकम

IndiGo लॉकडाउन के कारण रद्द उड़ानों के यात्रियों को 31 जनवरी तक लौटाएगी टिकट का पैसा, एक हजार करोड़ की है रकम

भारत में घरेलू यात्री उड़ानों को 25 मई से दोबारा चालू किया गया था। इससे पहले कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण यात्री उड़ानों का परिचालन पूरे दो महीने बंद रहा था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 07, 2020 13:53 IST
IndiGo to refund all passengers by Jan 31 for flight cancellations due to lockdown- India TV Paisa
Photo:PTI

IndiGo to refund all passengers by Jan 31 for flight cancellations due to lockdown

नई दिल्‍ली। घरेलू विमानन कंपनी इंडिगो (IndiGo) ने सोमवार को घोषणा की है कि वह कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से इस साल की शुरुआत में रद्द हुईं उड़ानों के सभी यात्रियों को टिकट का पैसा 31 जनवरी, 2021 तक लौटा देगी। ये उड़ानें इस साल कोरोना वायरस के प्रसार पर अंकुश के लिए लगाए गए लॉकडाउन के चलते रद्द हुई थीं। इसके बाद एयरलाइन ने रद्द टिकटों पर क्रेडिट शेल बनाया था। क्रेडिट शेल का इस्तेमाल उसी यात्री द्वारा भविष्य में यात्रा की बुकिंग के लिए किया जा सकता है।

एयरलाइन ने सोमवार को बयान में कहा कि उसने करीब 1,000 करोड़ रुपये के रिफंड से संबंधित कामकाज को पूरा कर लिया है। यह यात्रियों को रिफंड की जाने वाली राशि का करीब 90 प्रतिशत है। इंडिगो के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) रोनोजॉय दत्ता ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से मार्च के अंत में एयरलाइन का परिचालन पूरी तरह ठप हो गया था। चूंकि हमारे पास नकदी का प्रवाह रुक गया था, इसलिए हम यात्रियों का पैसा लौटा नहीं पा रहे थे। दत्ता ने कहा कि अब परिचालन शुरू होने तथा हवाई यात्रा की मांग में धीरे-धीरे सुधार के बाद हमारी प्राथमिकता रद्द उड़ानों के यात्रियों का पैसा लौटाने की है।

दत्ता ने कहा कि हम 100 प्रतिशत क्रेडिट शेल का भुगतान 31 जनवरी, 2021 तक कर देंगे। भारत में घरेलू यात्री उड़ानों को 25 मई से दोबारा चालू किया गया था। इससे पहले कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण यात्री उड़ानों का परिचालन पूरे दो महीने बंद रहा था। महामारी के कारण 23 मार्च से वाणिज्यिक अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों पर अभी भी प्रतिबंध लगा हुआ है। हालांकि विमानन कंपनियों को मई से वंदे भारत मिशन और द्विपक्षीय एयर बबल अनुबंध के तहत विशेष अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों का परिचालन करने की अनुमति प्रदान की गई है।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X