Budget 2023
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. आप भी हैं ट्रेडिंग के शौकीन तो ठहर जाएं! RBI ने टाइमिंग में किया है बड़ा बदलाव

आप भी हैं ट्रेडिंग के शौकीन तो ठहर जाएं! RBI ने टाइमिंग में किया है बड़ा बदलाव

अगर आप भी ट्रेडिंग करते हैं या फिर इसके बारे में जानकारी रखने के शौकिन है तो आपको ये खबर जान लेनी चाहिए। RBI ने ट्रेडिंग की टाइमिंग में बड़ा बदलाव किया है।

Vikash Tiwary Edited By: Vikash Tiwary @ivikashtiwary
Updated on: December 08, 2022 14:03 IST
आप भी हैं ट्रेडिंग के शौकीन तो ठहर जाएं और ये जान लें- India TV Paisa
Photo:INDIA TV आप भी हैं ट्रेडिंग के शौकीन तो ठहर जाएं और ये जान लें

Trading Time: भारतीय रिजर्व बैंक ने ट्रेडिंग टाइमिंग में बड़ा बदलाव किया है। अब से कोरोना महामारी से पहले की ट्रेडिंग घंटे के हिसाब से कारोबार हो सकेगा। यह आदेश 12 दिसंबर से लागू होगा। केंद्रीय बैंक के इस फैसले से ट्रेडिंग करने वाले लोगों को पहले से डेढ़ घंटे अधिक समय मिल सकेगा।

अब अधिक मिलेंगे ट्रेडिंग के लिए समय

बता दें, महामारी से पहले ट्रेडिंग के लिए टाइमिंग सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक हुआ करती थी, जिसे बाद में बदल कर 9 बजे से 3:30 बजे तक कर दिया गया था। आरबीआई ने कहा कि इंटरबैंक कॉल मनी मार्केट, कमर्शियल पेपर मार्केट, डिपॉजिट सर्टिफिकेट मार्केट और कॉरपोरेट बॉन्ड में रेपो के लिए अब अधिक समय मिल सकेगा। सरकारी सिक्योरिटी में बाजार रेपो भी सुबह 9 बजे से दोपहर 2:30 बजे के बाद के COVID समय के साथ जारी रहेगा।

7 अप्रैल को हुआ था बदलाव

केंद्रीय बैंक ने कहा कि सरकारी बॉन्ड बाजार और मुद्रा बाजार विदेशी मुद्रा डेरिवेटिव सहित सुबह 9 बजे से दोपहर 3:30 बजे के बाद के समय के साथ जारी रहेगा। रिजर्व बैंक द्वारा विनियमित विभिन्न बाजारों के लिए व्यापारिक घंटों को 7 अप्रैल 2020 से संशोधित किया गया था, जो परिचालन अव्यवस्थाओं और COVID-19 द्वारा उत्पन्न स्वास्थ्य जोखिमों के उच्च स्तर को देखते हुए संशोधित किया गया था।

ये रहे जरूरी अपडेट्स

Image Source : INDIA TV
ये रहे जरूरी अपडेट्स

महामारी से संबंधित समस्याओं को कम करने के साथ 09 नवंबर 2020 से चरणबद्ध तरीके से बाजार के घंटों की बहाली शुरू की गई थी। उस समय सभी मार्केट सेगमेंट के लिए ट्रेड टाइमिंग को संशोधित कर सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक कर दिया गया था।

Latest Business News