Tuesday, May 21, 2024
Advertisement

IAS परमपाल हुईं भाजपा में शामिल, भगवंत मान बोले- खतरे में पड़ जाएगी पूरे जीवन की कमाई

आईएएस रही परमपाल कौर सिद्धू ने भाजपा का दाम थाम लिया है। संभावना जताई जा रही है कि भाजपा उन्हें भटिंडा से अपना उम्मीदवार बना सकती है। इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने उन्हें लेकर बयान देते हुए कहा कि इस्तीफा देने का एक तरीका होता है।

Reported By : Bhaskar Mishra Edited By : Avinash Rai Published on: April 11, 2024 15:52 IST
IAS Parampal kaur Sidhu joins BJP Bhagwant Mann said her resignation not accepted till now- India TV Hindi
Image Source : PTI IAS परमपाल पर सीएम भगवंत मान ने दिया बयान

लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर सभी राजनीतिक दलों ने अपनी-अपनी तैयारियों को तेज कर दिया है। कहीं चुनावी सभाएं की जा रही हैं तो कहीं कोई इस्तीफा देकर दूसरी पार्टी की तरफ भाग रहा है। इस बीच पंजाब में सियासी लड़ाई अंगड़ाई लेने लगी है। यहां गुरुवार को आईएएस अधिकारी रही परमपाल कौर सिद्धू ने भाजपा का दामन थाम लिया। इस बीच ऐसी संभावनाएं जताई जा रही हैं कि परमपाल भटिंडा से लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं। बता दें कि परमपाल ने हाल ही में आईएएस के पद से इस्तीफा दिया था। बता दें कि परमपाल कौर सिद्धू शिरोमणि अकाली दल के नेता सिकंदर सिंह मलूका की बहू हैं। 

भाजपा में शामिल हुईं परमपाल सिद्धू

बता दें कि परमपाल सिद्धू के साथ ही गुरमीत सिंह मलूका भी भाजपा में शामिल हो गए हैं। वर्तमान में गुरमीत सिंह मलूका भटिंडा के जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। बता दें कि ऐसी संभावना जताई जा रही हैं कि परमपाल को भाजपा भटिंडा लोकसभा सीट से अपना उम्मीदवार बना सकती है। अगर ऐसा होता है तो उनका सीधा मुकाबला शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल की पत्नी और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल से हो सकता है। बता दें कि साल 2009 में हरसिमरत कौर पहली बार सांसद चुनी गई थीं। इसके बाद उन्होंने साल 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी।

भगवंत मान का बयान

ऐसी संभावना व्यक्त की जा रही है कि शिरोमणि अकाली दल द्वारा हरसिमरत कौर को भटिंडा से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। वहीं आम आदमी पार्टी ने भटिंडा की लोकसभा सीट से गुरमीत सिंह खुदियान को अपना उम्मीदवार बनाया है। वहीं कांग्रेस के तरफ से उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की गई है। बता दें कि आईएएस परमपाल के इस्तीफे के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बयान देते हुए कहा कि आईएएस अधिकारी के रूप में परमपाल कौर के इस्तीफे को स्वीकार नहीं किया गया है। बीबा जी जितनी जल्दी आईएएस बनने की थी, छोड़ने के कई तौर तरीके होते हैं। कृपया इस्तीफा देने का तरीका समझें। वरना जिंदगी भर की कमाई खतरे में पड़ सकती है। 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें पंजाब सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement