1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. EXCLUSIVE | चेतन सकारिया ने माना, कैसे जडेजा की एक सलाह से उन्होंने तय किया IPL 2021 तक का सफर

EXCLUSIVE | चेतन सकारिया ने माना, कैसे जडेजा की एक सलाह से उन्होंने तय किया IPL 2021 तक का सफर

चेतन सकारिया ने Indiatv.in से ख़ास बातचीत में देते हुए बताया है कि क्या उनकी ताकत है और आगामी आईपीएल में वो कैसे सबको चौंकाने वाले हैं।

Shubham Pandey Shubham Pandey @21shubhamPandey
Updated on: February 21, 2021 9:50 IST
Ravindra Jadeja and Chetan Sakaria- India TV Hindi
Image Source : GETTY/INSTA -@SAKARIYA.CHETAN Ravindra Jadeja and Chetan Sakaria

दुनिया की सबसे बड़ी इंडियन प्रीमीयर लीग (आईपीएल) के आगामी 2021 सीजन की नीलामी में भारतीय घरेलू क्रिकेट का एक छोटा सितारा जसे ही करोड़पति बना। चारों तरफ उसके नाम और कारनामे के चर्चे होने लगे। हर एक फैंस के मन में सवाल उठने लगा आखिर 20 लाख के बेस प्राइस वाले चेतन सकारिया को क्यों राजस्थान रॉयल्स ने 1.2 करोड़ रुपए में खरीदा है। जिसका जवाब चेतन ने Indiatv.in से ख़ास बातचीत में देते हुए बताया है कि क्या उनकी ताकत है और आगामी आईपीएल में वो कैसे सबको चौंकाने वाले हैं। इतना ही नहीं कैसे सौराष्ट्र से निकलकर चेतन ने आईपीएल तक का सफर तय किया। जिसमें उन्हें तमाम तरह की दिक्कतों व आर्थिक तंगियों से भी जूझना पड़ा है। 

चेतन के सफर को शुरू करने से पहले एक पंक्ति याद आती है कि बुलंद हो हौसला तो मुट्ठी में हर मुकाम है, मुश्किलें और मुसीबतें तो ज़िंदगी में आम हैं। कुछ इसी तरह चेतन अपनी जिंदगी में मुश्किलों और मुसीबतों को आम बनाते हुए खुद एक ख़ास खिलाड़ी बनते चलते गये। 

पिता चलाते थे ट्रक'

चेतन ने अपने करियर में पड़ने वाली मुसीबतों और उस समय उनका साथ देने वाले खिलाड़ियों के बारे में कहा, "एक समय था जब मेरे पिता जी ट्रक ड्राईवर थे। जो बाद में वरतेज (गुजरात) में टेम्पो चलाने लगे। इस तरह कई बार खेलने के लिए कभी - कभी उपकरण नहीं होते थे तो टीम में शेल्डन जैकसन भईया हमेशा मेरी मदद करते आए। इतना ही नहीं भावसिंहजी क्रिकेट अकादमी में भी मेरी फीस नहीं लगती थी। जिससे मैं क्रिकेट आगे खेल पाया।"

पहले थे बल्लेबाज

चेतन ने आगे कहा, "मैं पहले एक बल्लेबाज के तौर पर सर भावसिंहजी क्रिकेट अकादमी में खेलने गया था। लेकिन एक दिन बारिश हो रही थी तो हम लोग टेनिस से क्रिकेट खेल रहे थे, तभी कोच सर ने मुझसे गेंदबाजी करने को बोला। उसके बाद जब मैंने गेंदबाजी करना शुरू किया तो उन्हें मेरा एक्शन पसंद आया।इतना ही नहीं मैंने कई विकेट भी लिए। जिसके बाद कोच ने मुझे गेंदबाजी पर फोकस करने को कहा और मैं गेंदबाज बनता चला गया।"

जडेजा की सलाह से कैसे पहुंचा आईपीएल तक 

बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज चेतन घरेलू क्रिकेट में सौराष्ट की टीम से खेलते हैं। जिसमें टीम इंडिया के रविन्द्र जडेजा, चेतेश्वर पुजारा और जयदेव उनाद्कट भी खेलते आ रहे हैं। ऐसे में चेतन ने जडेजा के बारे में एक बहुत ही शानदार बात शेयर की है। चेतन ने बताया कि कैसे घरेलू क्रिकेट के डेब्यू मैच में जडेजा ने उनकी ड्रेसिंग रूम से मैदान में आकर मदद की थी। जिससे वो आगे खेल पाए और आज आईपीएल के मंच तक में उनका नाम आ चुका है। 

चेतन ने कहा, "साल 2017-18 में विजय हजारे ट्राफी के क्वार्टर फ़ाइनल में मेरा डेब्यू हुआ था। जिसमें जडेजा भाई नहीं खेल रहे थे क्योंकि उन्हें थोडा निगल था। इस तरह मेरे डेब्यू की शुरुआत शानदार नहीं रही थी और जहां मैं गेंद डालना चाह रहा था। वहाँ नहीं जा रही थी। जिसके बाद मैं मैदान में जब फील्डिंग कर रहा था तो खासतौर पर मेरे लिए वो दिल्ली के अरुण जेटली मैदान में ड्रेसिंग रूम से चलकर आए और उन्होने मुझसे कहा कि तेरा डेब्यू मैच है। मैं समझ सकता हूँ कि तुम दबाव में होगे। इसलिए अगर नहीं अच्छा करेगा तो क्या होगा बाहर ही बैठेगा ना। लेकिन अभी तू मैदान में अंदर है तो अपनी पूरी जान छिड़क दे। इस तरह जडेजा भाई की सलाह से प्रेरित होने के बाद मैंने अपनी लय पाई और दो विकेट हासिल किए।"

चेतन का मानना है कि अगर उस दिन जडेजा भाई आकर मेरे को ना समझाते और मेरे उत्साह वर्धन ना करते तो शायद मैं घरेलू क्रिकेट में आगे ना बढ़ पाता। इस तरह शुरुआत के बाद चेतन घरेलू क्रिकेट में और खतरनाक होते चले गये व बल्लेबाजों को अपनी गेंदबाजी से पानी पिलाते हुए अब आईपीएल के दरवाजे आ पहुंचे हैं। 

गेंदबाजी में क्या है चेतन की ताकत 

घरेलू क्रिकेट में चेतन अभी तक 16 टी20 मैच खेल चुके हैं। जिसमें उन्होने अपनी घातक गेंदबाजी से 28 विकेट चटकाए हैं। जबकि 11 रन पर 5 विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है। ऐसे में चेतन से जब उनकी गेंदबाजी में क्या खासित और ताकत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "मैं अपनी गेंदबाजी में ज्यादातर स्विंग पर ही फोकस कर रहा हूँ। दोनों तरफ स्विंग कराने की कोशिश जारी रहती है। गति मेरे पास ज्यादा तो नहीं पर ठीक है। लेकिन अभी पूरा फोकस स्विंग कराने पर ही है।"

टी20 क्रिकेट में अगर किसी गेंदबाज को सफल होना है तो उसके तरकश में गति और स्विंग के अलावा कई वैरियेशन यॉर्कर, स्लोवर गेंद, नकल बॉल जैसे भी तीर होने चाहिए। जिससे वो बल्लेबाज को कभी भी चौंका सकता है, ऐसे में चेतन ने भी अपने ख़ास वैरियेशन के बारे में बताया। जिसे वो अपनी ताकत मानते हैं। चेतन ने कहा, "मेरी गेंदबाजी में बैक ऑफ द लेंथ मेरी ताकत है और सबसे पहले मैंने इसका इस्तेमाल चेन्नई सुपर किंग्स के लिए मोहित शर्मा को करते देखा था। उस साल उन्होने काफी विकेट लिए थे। तबसे मैं भी इस पर काम कर रहा था और मैं अब इस गेंद को ताकत बनाकर आईपीएल में जाऊँगा।"

राजस्थान के ड्रेसिंग रूम जाने को उत्साहित 

बता दें कि चेतन को राजस्थान रॉयल्स ने अपनी टीम में शामिल किया है। जिसमें पहले से ही जोफ्रा आर्चर जैसे धाकड़ गेंदबाज मौजूद हैं। ऐसे में राजस्थान के ड्रेसिंग रूम जाने और इन सबसे सीखने को लेकर चेतन ने अंत में कहा, "मैं राजस्थान रॉयल्स जाने को लेकर काफी उत्साहित हूँ। मैं बस बड़े खिलाड़ियों के काम करने का तरीका और कैसे वो मानसिक तौर पर खुद को तैयार करते हैं। इन दो चीजों को सीखने पर काफी अधिक ध्यान दूंगा।"

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड