1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. केएल राहुल ने टेस्ट कप्तानी पर कहा, ऐसा होता है तो टीम को आगे ले जाने की पूरी कोशिश करूंगा

केएल राहुल ने टेस्ट कप्तानी पर कहा, ऐसा होता है तो टीम को आगे ले जाने की पूरी कोशिश करूंगा

राहुल ने कहा ‘‘देश की अगुवाई करना किसी भी खिलाड़ी का सपना होता है और यह ऐसा है जिसे वह लंबे समय तक संजोकर रखेगा। मैं भी कोई अपवाद नहीं हूं।’’ 

India TV Sports Desk Edited by: India TV Sports Desk
Published on: January 18, 2022 17:39 IST
KL Rahul India vs south africa odi series india test team captain - India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGES KL Rahul India vs south africa odi series india test team captain 

Highlights

  • केएल राहुल ने कहा कि वह टेस्ट टीम का कप्तान बनने के लिए तैयार है
  • राहुल ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस की
  • तीन मैच की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला 19 जनवरी को खेला जाएगा

पार्ल। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 19 जनवरी से तीन मैच की वनडे सीरीज का आगाज होगा। इस सीरीज से पहले जब कप्तान केएल राहुल से प्रेस कॉन्फ्रेंस में टेस्ट टीम की कप्तानी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा यदि उन्हें इस प्रतिष्ठित पद के लिये चुना जाता है तो वह टीम को आगे ले जाने की अपनी तरफ से पूरी कोशिश करेंगे। 

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला के लिये कार्यवाहक कप्तान की भूमिका निभा रहे राहुल ने पहले वनडे की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘देश की अगुवाई करना किसी भी खिलाड़ी का सपना होता है और यह ऐसा है जिसे वह लंबे समय तक संजोकर रखेगा। मैं भी कोई अपवाद नहीं हूं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘यह रोमांचक होगा लेकिन मैं अभी वास्तव में इस बारे में नहीं सोच रहा हूं लेकिन यदि ऐसा होता है तो अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता से टीम और भारतीय क्रिकेट को आगे बढ़ाने की कोशिश करूंगा।’’ 

ऑस्ट्रेलिया ओपन: धमाकेदार जीत के साथ मेदवेदेव अगले दौर में, फर्नांडिज बाहर

भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला 1-2 से गंवाने के बाद विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ दी थी। कोहली के चोटिल होने पर राहुल ने ही जोहानिसबर्ग में दूसरे टेस्ट मैच में टीम की कमान संभाली थी। राहुल ने कहा कि जब तक उनके नाम पर चर्चा नहीं होने लगी थी तब तक उन्होंने इस पर खास ध्यान नहीं दिया था। 

उन्होंने कहा,‘‘मैंने तब तक इस पर विचार नहीं किया था जब तक कि मेरे नाम पर चर्चा होने लगी थी।’’ 

राहुल ने कहा, ‘‘मुझे जोहानिसबर्ग में टीम की अगुवाई करने का मौका मिला और वह बेहद खास था। हमें वहां उस तरह के परिणाम की उम्मीद नहीं थी लेकिन सीखने के लिहाज से वह अच्छा अनुभव रहा जिस पर मुझे हमेशा गर्व रहेगा।’’ 

राहुल से जब कप्तानी में उनके खराब रिकार्ड के बारे में पूछा गया तो उन्होंने पहले इस पर व्यंग्यात्मक अंदाज में टिप्पणी की। राहुल की कप्तानी में भारत ने एकमात्र टेस्ट गंवाया है जबकि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में उन्होंने जिन 27 मैचों में कप्तानी की उनमें से केवल 12 में उनकी टीम जीती। उन्होंने कहा, ‘‘आंकड़ों के लिये आभार भाई। इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ेगा।’’ 

राहुल का मानना है कि जिंदगी के प्रत्येक पहलू में संतुलन बनाना आवश्यक है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं हर मैच को उसी तरह से लेता हूं और मैं उन लोगों में नहीं हूं जो बहुत चिंतित या बहुत खुश रहते हैं। मैं परिणामों के मामले में संतुलित बने रहने का प्रयास करता हूं। हमारे पास सेंचुरियन के बाद श्रृंखला जीतने का बेहतरीन मौका था।’’ 

राहुल ने कहा, ‘‘भाग्य ने भी हमारा साथ नहीं दिया और हमने इससे काफी कुछ सीखा।’’ 

उन्होंने कहा कि समय के साथ वह बेहतर होते जाएंगे। राहुल ने कहा, ‘‘मैं कई दिग्गज कप्तानों के साथ खेला हूं जैसे विराट और अन्य। मैं जब देश के लिये अधिक मैचों में कप्तानी करूंगा तो इस अनुभव का उपयोग कर सकता हूं। मैं इंसान हूं और मैं गलतियां करूंगा लेकिन इससे मैं अपने कार्य में बेहतर भी होता जाऊंगा।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘यही बात मेरे दिमाग में है। वनडे नयी शुरुआत है और यह मेरे लिये देश की कप्तानी करने का शानदार मौका है।’’ 

(With PTI Inputs)

लाइव स्कोरकार्ड

erussia-ukraine-news