1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. यमन पर बाइडेन के फैसले के बाद हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के खिलाफ उठाया बड़ा कदम

यमन पर बाइडेन के फैसले के बाद हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब के खिलाफ उठाया बड़ा कदम

अमेरिका के यमन के हूती विद्रोहियों पर से आतंकी संगठन होने का दर्जा हटाए जाने के फैसले के बाद हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब पर बड़ा हमला किया है। हूती विद्रोहियों ने दक्षिण पश्चिम सऊदी अरब में अभा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे को निशाना बनाते हुए हमला किया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 10, 2021 18:42 IST
Yemen rebel attack on airport sets plane on fire: Saudi TV- India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIONAL IMAGE (AP) हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब पर बड़ा हमला किया है।

दुबई: अमेरिका के यमन के हूती विद्रोहियों पर से आतंकी संगठन होने का दर्जा हटाए जाने के फैसले के बाद हूती विद्रोहियों ने सऊदी अरब पर बड़ा हमला किया है। हूती विद्रोहियों ने दक्षिण पश्चिम सऊदी अरब में अभा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे को निशाना बनाते हुए हमला किया, जिससे वहां खड़े एक यात्री विमान में आग लग गई। सऊदी सरकारी टीवी ने यह जानकारी दी। अल अखबारिया टीवी की बुधवार की खबर के मुताबिक दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पा लिया है। इस घटना में किसी के हताहत होने के बारे में फिलहाल कोई सूचना नहीं है। यह हवाईअड्डा यमन की सीमा के नजदीक है। हूती विद्रोही अक्सर ही सीमावर्ती इलाकों में मिसाइल और ड्रोन हमले करते रहते हैं। हाल के वर्षों में इन हमलों में कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई और दर्जनों अन्य घायल हुए थे। 

हालांकि, बुधवार की घटना पहला हमला है जिसमें हवाईअड्डे पर कोई यात्री विमान क्षतिग्रस्त हुआ है। उड़ानों की जानकारी देने वाली वेबसाइटों पर उड़ानों के आवागमन में विलंब होने या उन्हें रद्द कर दिये जाने की जानकारी दी जा रही है। बता दें कि सऊदी अरब के नेतृत्व में खाड़ी के कई मुल्क यमन में हूती विद्रोहियों के खिलाफ पिछले पांच सालों से युद्ध लड़ रहे हैं। वहीं, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन हूतियों के खिलाफ युद्ध में सऊदी और इसके गुट को समर्थन दे रहा था।

वहीं, अब बाइडेन प्रशासन ने कहा कि वह यमन के हूती विद्रोहियों पर से आतंकी संगठन होने का दर्जा हटाने जा रहा है। ट्रंप ने अपने कार्यकाल के अंतिम क्षणों में हूतियों को आतंकी संगठन का दर्जा दिया था, जिस कारण उनकी काफी आलोचना हुई। बता दें कि कि यमन में सऊदी और ईरान समर्थित हूथी विद्रोहियों के बीच वर्षों से जंग चल रही है। इसका खामियाजा वहां के आम लोगों को भुगतना पड़ा रहा है। 

पूर्व राष्‍ट्रपति ट्रंप ने इस युद्ध में सऊदी अरब समर्थित गुटों का समर्थन करते हुए उन्‍हें हथियार समेत अन्‍य सामान की भी आपूर्ति में मदद की थी। बाइडेन ने साफ कर दिया है कि वो यमन में सऊदी नेतृत्‍व के तहत चलाए जा रहे सैन्‍य अभियानों से अपना समर्थन वापस ले रहे हैं। यमन के मसले पर उन्‍होंने जोर देकर कहा कि अब ये संघर्ष समाप्‍त होना चाहिए। इसकी वजह से ये गरीब देश भुखमरी की कगार पर पहुंच गया है।

ये भी पढ़ें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X