रूसी सैनिकों के हमले से यूक्रेन हुआ तबाह, देश के कई हिस्सों में छाया अंधेरा

यूक्रेन के सरकारी बिजली ऑपरेटर ने ऊर्जा बुनियादी ढांचे पर रूस के भीषण हमलों के बाद शनिवार को कीव और सात अन्य क्षेत्रों में निर्धारित कार्यक्रम के तहत बिजली आपूर्ति रोकने का ऐलान किया है। यह कदम ऐसे समय उठाया जा रहा है, जब रूसी सेना ने मिसाइल और ड्रोन के साथ यूक्रेन के शहरों और गांवों पर बमबारी को जारी रखा है।

Ravi Prashant Edited By: Ravi Prashant @iamraviprashant
Published on: November 05, 2022 22:20 IST
यूक्रेन में बिजली आपूर्ति ठप - India TV Hindi
Image Source : AP यूक्रेन में बिजली आपूर्ति ठप

रूस पूरी तरह से अटैकिंग मोड में दिखाई दे रहा है। यूक्रेन पर लगातार बमबारी करने में लगा है। रूसी सैनिकों ने यूक्रेन पर इतनी मिसाइल दागी है कि यूक्रेन के कई हिस्सों में अंधेरा हो गया है। यूक्रेन अपने लोगों से अपील कर रहा है कि अपने सभी उपकरणों को चार्ज कर लें। जिन क्षेत्रों में बिजली है वहां कभी भी जा सकती है। रूस के इस घातक आक्रमण से जेंलेस्की बैकफुट पर आ गए हैं। अब यूक्रेन के राष्ट्रपति को समझ नहीं आ रहा है कि क्या करा जाए, वो बार-बार अपने लोगों से अपील पर अपील किए जा रहे हैं। 

रूसी सैनिकों ने यूक्रेन में कर दिया अंधेरा 

यूक्रेन के सरकारी बिजली ऑपरेटर ने ऊर्जा बुनियादी ढांचे पर रूस के भीषण हमलों के बाद शनिवार को कीव और सात अन्य क्षेत्रों में निर्धारित कार्यक्रम के तहत बिजली आपूर्ति रोकने का ऐलान किया है। यह कदम ऐसे समय उठाया जा रहा है, जब रूसी सेना ने मिसाइल और ड्रोन के साथ यूक्रेन के शहरों और गांवों पर बमबारी को जारी रखा है, जिससे बिजली संयंत्रों, पानी की आपूर्ति तथा अन्य बुनियादी ढांचे को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया है।

ईरानी ड्रोन से हमला 
रूस ने इस बात से इनकार किया है कि यूक्रेन में इस्तेमाल किए गए ड्रोन ईरान से आए थे। हालांकि, ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियन ने पहली बार शनिवार को आक्रमण से पहले मॉस्को को सीमित संख्या में ड्रोन की आपूर्ति करने की बात स्वीकार की। विदेश मंत्री ने दावा किया कि ईरान को यह नहीं पता कि यूक्रेन के खिलाफ उसके ड्रोन का इस्तेमाल किया गया या नहीं।

यूक्रेन इन क्षेत्रों में अंधकारमय  
उन्होंने संघर्ष को रोकने के लिए ईरान की प्रतिबद्धता को दोहराया। यूक्रेन की हाई-वोल्टेज ट्रांसमिशन लाइन के एकमात्र ऑपरेटर यूक्रेनर्गो ने शनिवार को एक बयान में कहा कि राजधानी और विस्तारित कीव क्षेत्र के साथ-साथ इसके आसपास के कई इलाकों चेर्निहाइव, चर्कासी, जाइटॉमिर, सूमी, पोल्तावा और खारकीव में बिजली आपूर्ति रोकी जाएगी। 
 
बिजली काटना ही आखिर रास्ता 
कंपनी ने एक अद्यतन बयान में कहा कि कुछ खास घंटों के लिए बिजली आपूर्ति रोकना पर्याप्त नहीं हैं और इसके बजाय आपातकालीन आपूर्ति रोकी जाएगी, जो अनिश्चित समय तक जारी रह सकती है। यूक्रेन बिजली कटौती और पानी की आपूर्ति में व्यवधान से जूझ रहा है क्योंकि रूस सैन्य बलों ने पिछले महीने देश के ऊर्जा बुनियादी ढांचे को निशाना बनाते हुए मिसाइल और ड्रोन हमले शुरू किए थे।

रूसी सेना लगातार बमबारी कर रही है
इस बीच यूक्रेन के कई क्षेत्रों में रूसी गोलाबारी शनिवार तड़के जारी रही। निप्रॉपेतोस के गवर्नर वैलेंटाइन रेजिनचेंको ने टेलीग्राम पर कहा कि निकोपोल शहर में रात भर लगभग 40 गोले दागे गए। रूसी सेना ने भारी तोपखाने से शहर और उसके आसपास के इलाकों को निशाना बनाया। दक्षिण में, मायकोलाइव के गवर्नर विटाली किम ने टेलीग्राम पर कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में गोलाबारी से कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन