1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. कमला हैरिस के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार बनने पर बयानबाजी तेज, ट्रम्प के बाद चीनी मीडिया ने कही यह बात

कमला हैरिस के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार बनने पर बयानबाजी तेज, ट्रम्प के बाद चीनी मीडिया ने कही यह बात

चीन की तरफ से इस मुद्दे पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है लेकिन चीन के आधिकारिक मीडिया की ओर से यह कहा गया है कि यह फैसला दोनों देशों के संबंधों के बीच आग में घी डालने जैसा होगा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 13, 2020 0:48 IST
कमला हैरिस के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार बनने पर बयानबाजी तेज- India TV Hindi
Image Source : SOCIAL MEDIA कमला हैरिस के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार बनने पर बयानबाजी तेज

नई दिल्ली: अभी तक कई भारतीय मूल के नेता अमेरिका में सीनेटर बन चुके हैं लेकिन ये पहला मौका है जब भारतीय मूल की सीनेटर कमला हैरिस  उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बनी हैं। कमला हैरिस के उपराष्ट्रति उम्मीदवार बनने के बाद से ही बयानों की हलचल भी तेज हो गई है। ट्रंप का मानना है कि कमला हैरिस उपराष्ट्रपति बनने लायक नहीं हैं वहीं चीन की तरफ से इस मुद्दे पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है लेकिन चीन के आधिकारिक मीडिया की ओर से यह कहा गया है कि यह फैसला दोनों देशों के संबंधों के बीच आग में घी डालने जैसा होगा। 

ट्रम्प का कहना है कि कमला हैरिस ने सुप्रीम कोर्ट के जज के साथ बेहद बुरा बर्ताव किया था। इतना ही ट्रम्प ने यह भी कहा कि कमला ने बिडेन के खिलाफ भी बयान दिए थे। लेकिन बिडेन ने कमला को चुनकरमुझे आश्चर्यचकित कर दिया है।

कमला हैरिस अपने बेबाक तेवर के लिए जानी जाती हैं। पिछले दिनों हैरिस ने चीन के शिनजियांग के विगर मुसलमानों के खिलाफ मानवाधिकारों के उल्लंघन और हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक आंदोलन के खिलाफ चीन पर दबाव बढ़ाने की बात कही थी। हालांकि हैरिस ने चीन पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के टैरिफ युद्ध को भी यह कहते हुए खारिज कर दिया कि इससे कैलिफोर्निया के व्यापार को नुकसान होगा। 

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने इस पर टिप्पणी करने से इनकार करते हुए बुधवार को कहा कि 'अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव एक आंतरिक मामला है। इस मामले में हस्तक्षेप करने में हमारी कोई रुचि नहीं है।

अमेरिका में नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव होने हैं लेकिन उससे पहले ही कयास लगाए जा रहे हैं कि रूस और चीन अपनी-अपनी पसंद के उम्मीदवारों को राष्ट्रपति पद पर देखना चाहते हैं। 

रूस चाहता है डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर अमेरिका के राष्ट्रपति बनें। इसलिए रूस डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन को लगातार बदनाम करने की कोशिशें कर रहा है। चीन जो बिडेन को अमेरिकी राष्ट्रपति के पद पर देखना चाहता है। चीन का मानना है कि ट्रंप बड़बोले हैं और अपनी मनमानी करते हैं जिससे चीन को नुकसान होता है। अब कमला हैरिस का उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में जो बिडेन द्वारा ऐलान करने से मामला दिलचस्प मोड़ पर आ गया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन ने मंगलवार को भारतीय मूल की कैलिफोर्निया सीनेटर कमला हैरिस को उपराष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया।  जो बिडेन ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। जो बिडेन ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'ये बताते हुए मुझे गर्व हो रहा है कि कमला हैरिस को मैंने अपना उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना है।' जो बिडेन ने कमला को एक बहादुर योद्धा और अमेरिका के सबसे बेहतरीन नौकरशाहों में से एक बताया।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X