1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Corona Vaccine: हर्षवर्धन बोले- 2021 की शुरुआत में हमारे पास होगा सुरक्षित और प्रभावी टीका

Corona Vaccine: हर्षवर्धन बोले- 2021 की शुरुआत में हमारे पास होगा सुरक्षित और प्रभावी टीका

Coronavirus Vaccine: स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि हमारे साथ उपलब्ध आंतरिक रिपोर्टों के अनुसार, जो वार्ता चल रही है, मैं पूरी तरह से उम्मीद कर रहा हूं कि 2021 की शुरुआत में एक वैक्सीन उपलब्ध होगी, जो पूरी तरह से प्रभावी और सुरक्षित होगी। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 30, 2020 10:50 IST
Corona Vaccine Harshvardhan says we will have effective and safe vaccine in 2021 start । Corona Vacc- India TV Hindi
Image Source : FILE Corona Vaccine: हर्षवर्धन बोले- 2021 की शुरुआत में हमारे पास होगा सुरक्षित और प्रभावी टीका

नई दिल्ली. पूरी दुनिया को इस वक्त कोरोना महामारी के खात्मे के लिए वैक्सीन का इंतजार है। भारत में वैक्सीन कब उपलब्ध होगी, इसपर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा, "हमारे साथ उपलब्ध आंतरिक रिपोर्टों के अनुसार, जो वार्ता चल रही है, मैं पूरी तरह से उम्मीद कर रहा हूं कि 2021 की शुरुआत में एक वैक्सीन उपलब्ध होगी, जो पूरी तरह से प्रभावी और सुरक्षित होगी। उन्होंने कहा कि जह भी ये वैक्सीन उपलब्ध होगी, इसके बारे में देशवासियों को जानकारी दी जाएगी, लेकिन हम एक साथ 135 करोड़ लोगों को टीका नहीं लगा सकते।" अंग्रेजी समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस ने ये जानकारी दी।

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार, स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हमारी योजना अनुसार, जून-जुलाई तक करीब 30 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जाएगी, जिसमें सबसे पहले हेल्थ वर्कर, पुलिस, पैरामिलेट्री, आर्मी, निगम कर्मचारी और सफाई कर्मचारी शामिल हैं। इनके बाद 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी, फिर 50 से 65 साल के बीच की आयु वाले लोगों का नंबर आएगी।

उन्होंने कहा कि टीकों के उत्पादन में भारत की क्षमता और क्षमता सर्वविदित है। हम विकासशील देशों द्वारा आवश्यक टीकों का 60 प्रतिशत और दुनिया की आवश्यकता का लगभग एक-चौथाई प्रदान करते हैं। मोटे तौर पर, कोविड वैक्सीन के लिए 100 से अधिक उम्मीदवार दुनिया भर में विकास के विभिन्न चरणों में हैं, और उनमें से 30 भारत में हैं। इन 30 में से, पांच क्लिनिकल ट्रायल के विभिन्न चरणों में हैं, दो एडवांस स्टेज में, दो प्रीक्लिनिकल परीक्षण चरण में…

वैक्सीन के स्टोरेज को लेकर चिंताओं को दूर करते हुए उन्होंने कहा कि भारत ने दिखाया है कि वह 2014 में पोलियो की बीमारी से छुटकारा पाकर इस तरह की उपलब्धि हासिल कर सकता है। देश के लाखों केंद्रों पर, पोलियो वैक्सीन को माइनस 20 डिग्री सेंटीग्रेड पर संग्रहित किया जाता है और फिर बच्चों को दो बूंदें पिलाई जाती हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पास अनुभव है, और 2021 में लक्षित समूहों को कैसे कवर किया जाए, इस बारे में विस्तृत तैयारी की जा रही है।

उन्होंने कहा कि हम यह पता लगाएंगे कि टीके को किस तापमान पर कहां संग्रहित किया जाना है। हम सरकारी के साथ-साथ ही गैर-सरकारी संगठनों से जुड़े वैक्सीनेटर्स को ट्रेनिंग देंगे, जिसके लिए अभी से विभिन्न NGO से बातचीत शुरू कर दी गई है। इसलिए इसलिए मैं लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि बहुत जल्द, अगले कुछ महीनों में, हमारे पास देश में विकसित एक सुरक्षित, प्रभावी वैक्सीन विकसित होगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment