1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिल्ली हिंसा: IB अफसर अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से हुए ये खुलासे!

दिल्ली हिंसा: IB अफसर अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से हुए ये खुलासे!

उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा में मारे गए आईबी अफसर अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से सामने आया कि अंकित के शरीर पर 51 चोट के निशान हैं। दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने यह जानकारी दी।

Abhay Parashar Abhay Parashar @abhayparashar
Published on: March 13, 2020 23:55 IST
अंकित शर्मा- India TV Hindi
अंकित शर्मा

नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा में मारे गए आईबी अफसर अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से सामने आया कि अंकित के शरीर पर 51 चोट के निशान हैं। दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि रिपोर्ट के मुताबिक अंकित के शरीर पर कुल 51 चोट के निशानों में से 12 चाकू से गोदने के निशान हैं जो थाई, पैर, चेस्ट समेत शरीर के पिछले हिस्से में हैं। ये चाकू से वार के गहरे निशान हैं।

सूत्रों ने बताया कि 'अंकित के शरीर पर 6 कट के निशान हैं, जो स्क्रेच की तरह दिखे हैं। वहीं, बाकि 33 चोट के निशान हैं, जिसमें भारी ऑब्जेक्ट से अंकित के सिर और बॉडी पर वार किया गया था, जैसे- रॉड और डंडे के वार।' सूत्रों ने बताया कि 'शरीर पर ज्यादातर रेड, पर्पल और ब्लू कलर के मार्क मिले हैं। ऐसे ज्यादातर मार्क्स थाई और कंधे पर मिले हैं, जिन्हें रेलवे ट्रैक कंटयूशन कहते है।'

बता दें कि अंकित शर्मा 25 फरवरी को गायब हुए थे। परिवार के मुताबिक, वह दफ्तर से आकर बाहर हिंसा कर रहे लोगों को समझाने गए थे। तभी ताहिर के घर के बाहर भीड़ ने उन्हें पकड़कर पीटा और चाकुओं से हमला किया। उनका आरोप है कि हमलावर अंकित को ताहिर के घर अंदर ले गए और फिर मार डाला। इस मामले में सलमान नाम के शख्स की गिरफ्तार हो चुका है।

CAA समर्थक और विरोधियों के बीच हुई इस हिंसा में अंकित शर्मा और दिल्ली पुलिस के एक हेड कॉन्सटेबल रतन लाल समेत 50 से ज्यादा लोगों की जान गई थी जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। यह हिंसा करीब तीन दिन तक चली थी। इसके बाद प्रशासन ने जब हिंसा करने वालों को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए, तब हिंसा रुकी थी। हिंसा के कई वीडियो भी वायरल हुए थे, जो डराने वाले थे।

गुरुवार को गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में बताया कि दंगों के बाद 700 से अधिक प्राथमिकी दर्ज की गयी हैं। उन्होंने कहा कि 12 थानों के लिए विशेष अभियोजक नियुक्त किए गए हैं। शाह ने कहा कि 2647 लोगों को गिरफ्तार किया गया है या हिरासत में लिया गया है। उन्होंने कहा कि 1922 चेहरों एवं व्यक्तियों की पहचान कर ली गयी है। दंगा करने वाला व्यक्ति किसी भी धर्म या पार्टी का होगा, उसको नहीं छोड़ा जाएगा।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X