1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पंजाब में सम्भावित आतंकी हमला नाकाम, पुलिस ने एक कंट्टरपंथी को किया गिरफ्तार

पंजाब में सम्भावित आतंकी हमला नाकाम, पुलिस ने एक कंट्टरपंथी को किया गिरफ्तार

बयान के मुताबिक, हाल में, ग्रेनेड विस्फोट की घटनाएं सामने आई हैं, जिनमें राज्य में नवांशहर में अपराध जांच एजेंसी के कार्यालय और पठानकोट में छावनी क्षेत्र में हुए विस्फोट भी शामिल हैं। फिरोजपुर के जीरा में एक ग्रेनेड मिला था। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 24, 2021 21:03 IST
Punjab Police Foil Possible Terrorist Attack, One Held- India TV Hindi
Image Source : PTI पंजाब पुलिस ने बुधवार को दावा किया कि उसने राज्य में एक संभावित आतंकवादी हमले को विफल कर दिया है।

चंडीगढ़: पंजाब पुलिस ने बुधवार को दावा किया कि उसने राज्य में एक संभावित आतंकवादी हमले को विफल कर दिया है और विदेशी आतंकवादी संगठनों से कथित तौर पर जुड़े एक अत्यधिक कट्टरपंथी शख्स को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि अत्यधिक कट्टरपंथी व्यक्ति की पहचान तरनतारन जिले के सोहल गांव के निवासी रंजीत सिंह के रूप में हुई है। वह सोशल मीडिया के जरिए ब्रिटेन और अन्य देशों में स्थित विभिन्न कट्टरपंथी और आतंकवादी तत्वों के संपर्क में था। 

पुलिस के एक बयान के अनुसार, यह घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ है जब पंजाब में ग्रेनेड और टिफिन बमों के साथ-साथ अन्य हथियारों की भारी आमद देखी जा रही है। बयान के मुताबिक, हाल में, ग्रेनेड विस्फोट की घटनाएं सामने आई हैं, जिनमें राज्य में नवांशहर में अपराध जांच एजेंसी के कार्यालय और पठानकोट में छावनी क्षेत्र में हुए विस्फोट भी शामिल हैं। फिरोजपुर के जीरा में एक ग्रेनेड मिला था। 

पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) इकबाल प्रीत सिंह सहोता ने कहा कि पंजाब पुलिस ने राज्य में संभावित आतंकी हमले को नाकाम कर दिया है। उन्होंने कहा कि अमृतसर में रंजीत की मौजूदगी के बारे में खुफिया सूचनाओं पर कार्रवाई करते हुए, स्थानीय राज्य विशेष अभियान प्रकोष्ठ (एसएसओसी) की विशेष टीमों को निर्दिष्ट क्षेत्र में भेजा गया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया। 

सहोता ने बताया, “जांच के दौरान, रंजीत ने बताया कि उसने सामाजिक कार्यों के बहाने धन इकट्ठा करने के लिए 'कौम दे राखे' नाम का एक समूह बनाया था। इस समूह के जरिए, वह सोशल मीडिया के माध्यम से ब्रिटेन और अन्य देशों में स्थित विभिन्न कट्टरपंथी और आतंकवादी तत्वों के संपर्क में आया और अपने सामाजिक कार्यों की आड़ में स्लीपर सेल स्थापित करने में मदद की।” 

डीजीपी ने कहा, "रंजीत ने बताया कि हाल में उसे हथियारों और विस्फोटकों की एक खेप मिली थी और वह सीमावर्ती राज्य (पंजाब) में भय और अराजकता का माहौल बनाने के लिए एक आतंकी हमले को अंजाम देने की योजना बना रहा था।” उन्होंने कहा, “पुलिस ने उसके (रंजीत के) कब्जे से चीन में निर्मित दो पी-86 हैंड ग्रेनेड और दो पिस्तौल, कारतूस के अलावा एक काले रंग की बाइक भी बरामद की है।"

पुलिस ने बताया कि एसएसओसी अमृतसर थाने में एक प्राथमिकी दर्ज की गई है और आगे की जांच जारी है। सहोता ने कहा कि रंजीत कथित तौर पर उस समूह का भी हिस्सा था, जिसने 15 जनवरी, 2020 को अमृतसर में स्वर्ण मंदिर की ओर जाने वाली हेरिटेज स्ट्रीट पर स्थापित लोक नर्तकियों की मूर्तियों को तोड़ा था। 

bigg boss 15