Rakesh Jhunjhunwala News: भारत को 'अकासा एयर' देने के लिए याद किए जाएंगे राकेश झुनझुनवाला: उड्डयन मंत्री

Rakesh Jhunjhunwala News: नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को राकेश झुनझुनवाला के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हें एक दशक से अधिक समय के बाद भारत को नयी उड़ान कंपनी 'अकासा एयर' देने के लिए याद किया जाएगा।

Shashi Rai Edited By: Shashi Rai @km_shashi
Published on: August 14, 2022 12:41 IST
Civil Aviation Minister Jyotiraditya Scindia- India TV Hindi News
Image Source : ANI Civil Aviation Minister Jyotiraditya Scindia

Highlights

  • नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राकेश झुनझुनवाला को किया याद
  • उड्डयन मंत्री ने राकेश झुनझुनवाला के निधन पर शोक व्यक्त किया
  • भारत को 'अकासा एयर' देने के लिए याद किए जाएंगे राकेश झुनझुनवाला: उड्डयन मंत्री

Rakesh Jhunjhunwala News: नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को राकेश झुनझुनवाला के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हें एक दशक से अधिक समय के बाद भारत को नयी उड़ान कंपनी 'अकासा एयर' देने के लिए याद किया जाएगा। भारत के 'वारेन बफे' कहे जाने वाले शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक झुनझुनवाला का रविवार सुबह मुंबई में निधन हो गया। झुनझुनवाला का 'नेटवर्थ' 5.8 अरब डॉलर (46,000 करोड़ रुपये) है। अकासा एयर में उनकी 40 प्रतिशत हिस्सेदारी है। सिंधिया ने सात अगस्त को मुंबई से अहमदाबाद के बीच अकासा एयर की पहली उड़ान को हरी झंडी दिखाई थी। अकासा एयर को सात जुलाई को नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) की ओर से उड़ान संचालन प्रमाण पत्र मिला था। 

उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट करता हूं: सिंधिया 

सिंधिया ने रविवार को कहा, ''श्री राकेश झुनझुनवाला जी न केवल एक कुशल व्यवसायी थे, बल्कि भारत के विकास में भी निवेश करते थे। उन्हें एक दशक से अधिक समय के बाद भारत को नयी उड़ान कंपनी अकासा एयर देने के लिए याद किया जाएगा। मैं उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट करता हूं।'' झुनझुनवाला सात अगस्त को अकासा एयर की पहली उड़ान को हरी झंडी दिखाने के दौरान मुंबई हवाई अड्डे पर मौजूद थे।

झुझुनवाला को उड्डयन मंत्री ने किया याद

झुझुनवाला ने तब अपने संबोधन में कहा था, ''मुझे आपको (सिंधिया) धन्यवाद देना चाहिए क्योंकि लोग कहते हैं कि भारत में बहुत खराब नौकरशाही है लेकिन नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने हमें जो सहयोग दिया है, वह अविश्वसनीय है।'' उन्होंने कहा था कि दुनिया में कहीं भी किसी भी एयरलाइन की कल्पना किए जाने के बाद उसे 12 महीनों में मूर्त रूप नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा, ''आम तौर पर एक बच्चा नौ महीने में पैदा होता है, हमें 12 महीने लगे। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सहयोग के बिना यह संभव नहीं होता।''

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
navratri-2022