1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. लोकसभा में पर्चा उछालने वालों पर कार्रवाई की तैयारी, 10 सांसदों को सस्‍पेंड करने का प्रस्‍ताव लाएगी मोदी सरकार

लोकसभा में पर्चा उछालने वालों पर कार्रवाई की तैयारी, 10 सांसदों को सस्‍पेंड करने का प्रस्‍ताव लाएगी मोदी सरकार

संसद के मॉनसून सत्र में लगातार हंगामा हो रहा है। इस बीच सरकार ने 10 लोकसभा सांसदों को निलंबित करने का प्रस्ताव लाने की योजना बनाई है। आज सदन में कुछ विपक्षी सांसदों को कागज उछालते देखा गया था।

Anand Prakash Pandey Anand Prakash Pandey @anandprakash7
Updated on: July 28, 2021 15:42 IST
Modi govt to move motion seeking suspension of 10 MPs for throwing paper in Lok Sabha- India TV Hindi
Image Source : LS संसद के मॉनसून सत्र में लगातार हंगामा हो रहा है।

नई दिल्ली: संसद के मॉनसून सत्र में लगातार हंगामा हो रहा है। इस बीच सरकार ने 10 लोकसभा सांसदों को निलंबित करने का प्रस्‍ताव लाने की योजना बनाई है। लोकसभा में आज चेयर का अपमान करने के लिए मणिकम टैगोर, ए एम आरिफ, टीएन प्रथापन, सप्तगिरी शंकर, दीपक बैज, डीन कुरियकोज, हिबी इडेन, एस ज्योयिमनी, रवनीत बिट्टू और गुरजीत औजला के खिलाफ कार्रवाई के लिए सत्ता पक्ष की तरफ से सदन में प्रस्ताव पेश किया जा सकता है। स्पीकर पूरे मॉनसून सत्र के लिए इन्हें निलंबित कर सकते हैं। आज लोकसभा में कागज फाड़कर चेयर की तरफ उछाला गया था और वेल में लगातार कागज फाड़कर टुकड़े उड़ाए गए थे।

आज भी संसद के दोनों सदनों में सत्र की शुरुआत से ही विपक्षी सदस्‍यों ने पैगसस, किसान आंदोलन समेत कई मुद्दों पर चर्चा को लेकर हंगामा किया है। लोकसभा में विपक्ष के सांसदों ने खेला होबे के नारे लगाए और पर्चे फेंके गए। जिस वक्त विपक्ष के सांसदों ने पर्चे फेंके उस वक्त चेयर पर राजेंद्र अग्रवाल मौजूद थे। भारी शोरगुल और हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही कर दी गई। सदन में आज पेगासस जासूसी मामला और केंद्रीय कृषि कानूनों समेत विभिन्न विषयों पर कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के सदस्यों के हंगामे के बीच ही लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने पूरा प्रश्नकाल चलाया। इससे पहले पिछले सप्ताह में और इस सप्ताह के शुरुआती दो दिन में विपक्ष के हंगामे के बीच पूरा प्रश्नकाल बाधित रहा था।

बता दें कि विपक्षी दलों के सदस्य पेगासस जासूसी मामले और केंद्र के तीन नये कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर मौजूदा सत्र के पहले दिन से सदन में नारेबाजी कर रहे हैं। इस कारण से सदन में अब तक कामकाज बाधित रहा है और कार्यवाही सुचारू रूप से नहीं चल पा रही। आज सुबह भी सदन की बैठक शुरू होते ही जब अध्यक्ष बिरला ने प्रश्नकाल चलाने का निर्देश दिया तो कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के सदस्य उक्त विषयों पर नारेबाजी करते हुए और तख्तियां लहराते हुए आसन के समीप आ गये। शोर-शराबे के बीच ही अध्यक्ष ने पूरा प्रश्नकाल चलाया और रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जितेन्द्र सिंह और विधि एवं न्याय मंत्री किरेन रीजीजू ने अनेक सदस्यों के पूरक प्रश्नों के उत्तर दिये। 

ये भी पढ़ें

Click Mania
Modi Us Visit 2021