1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. लखीमपुर खीरी कांड में पूर्व केंद्रीय मंत्री का भतीजा भी गिरफ्तार, कोर्ट ने 3 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा

लखीमपुर खीरी कांड में पूर्व केंद्रीय मंत्री का भतीजा भी गिरफ्तार, कोर्ट ने 3 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा

लखीमपुर खीरी कांड में दो और गिरफ्तारियां की गई हैं। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम- अंकित दास और लतीफ उर्फ काले है। कोर्ट ने दोनों को तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: October 13, 2021 19:10 IST
लखीमपुर खीरी कांड में पूर्व केंद्रीय मंत्री का भतीजा भी गिरफ्तार, कोर्ट ने 3 दिन की पुलिस रिमांड में- India TV Hindi
Image Source : PTI/FILE लखीमपुर खीरी कांड में पूर्व केंद्रीय मंत्री का भतीजा भी गिरफ्तार, कोर्ट ने 3 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा

लखीमपुर खीरी (उत्तर प्रदेश): लखीमपुर खीरी कांड में दो और गिरफ्तारियां की गई हैं। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम- अंकित दास और लतीफ उर्फ काले है। अंकित दास, लखीमपुर खीरी कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा का दोस्त है और पूर्व केंद्रीय मंत्री अखिलेश दास का भतीजा है।

किसानों को कुचलने वाली थार के पीछे जो काले रंग की फॉर्च्यूनर चल रही थी, वह अंकित दास की ही थी। गिरफ्तार किया गया लतीफ उर्फ काले, अंकित दास का प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड है। पुलिस ने दोनों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया, जिसके बाद कोर्ट ने दोनों को तीन दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया। 

गौरतलब है कि इससे पहले हिंसा की घटना के बाद पुलिस ने अंकित दास के ड्राइवर शेखर भारती से 3 अक्टूबर को पूछताछ की थी। पूछताछ में मिली जानकारी और की गई जांच के आधार पर पुलिस ने अंकित दास और लतीफ उर्फ काले को गिरफ्तार किया।

शेखर भारती को भी बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया था, उसे भी कोर्ट ने तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेजा है। इसकी पुलिस रिमांड 14 अक्टूबर की सुबह 10 बजे से 17 अक्टूबर की सुबह 10 बजे तक रहेगी।

गौरतलब है कि बुधवार को ही लखीमपुर खीरी वारदात के मुख्य आरोपी आशीष की जमानत याचिका एक स्थानीय अदालत ने नामंजूर कर दी। मामले के विवेचना अधिकारी एसपी यादव ने बताया कि आशीष उर्फ मोनू की जमानत याचिका को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट चिंताराम की अदालत ने नामंजूर कर दिया है।

उन्होंने बताया कि आशीष को पिछली नौ अक्टूबर को करीब 12 घंटे तक चली पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया था और वह 12 अक्टूबर से तीन दिन की पुलिस हिरासत में है। गौरतलब है कि गत तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया इलाके में किसानों के प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोग मारे गए थे। 

इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा तथा अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था।

Click Mania
bigg boss 15