1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. सिंपल से दिखने वाले इन संकेतों को न करें इग्नोर हो सकता है CPOD रोग, जानें लक्षण, कारण और बचाव

सिंपल से दिखने वाले इन संकेतों को न करें इग्नोर हो सकता है CPOD रोग, जानें लक्षण, कारण और बचाव

सीओपीडी दुनियाभर में होने वाली मौतों का तीसरा सबसे बड़ा और विकलांगता का पांचवा सबसे बड़ा कारण होगा। अगर आपको लगे कि उन्हें दो महीने से लगातार बलगम वाली खांसी आ रही है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: January 15, 2020 23:16 IST
Copd- India TV Hindi
Copd

हवा में प्रदूषण के बढ़ते स्तर के कारण जहरीले तत्व हमारे फेफड़ों और श्वास प्रणाली को नुकसान पहुंचा रहे हैं। जिसके कारण सीओपीडी यानी क्रॉनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज  के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं। कई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि जो हम सांस लेते है वह बेहद जहरीली है।  सीओपीडी दुनियाभर में होने वाली मौतों का तीसरा सबसे बड़ा और विकलांगता का पांचवा सबसे बड़ा कारण होगा। अगर आपको लगे कि उन्हें दो महीने से लगातार बलगम वाली खांसी आ रही है, तो वे समझ लें कि आपको डॉक्टर से तुरंत मिलने की जरूरत है। जानें इसके लक्षण, कारण और कैसे करें बचाव।

सीओपीडी के लक्षण

इसके लक्षण अक्सर दिखाई नहीं देते हैं जब तक कि आपके फेफड़ों की कोई क्षति न पहुंचे। आमतौर पर वे समय के साथ खराब हो जाते हैं, खासकर अगर धूम्रपान करते है तो। जानें कुछ लक्षणों के बारे में। 

  • सांस की तकलीफ  खासकर शारीरिक गतिविधियों के दौरान
  • घरघराहट
  • सीने में जकड़न
  • जुकाम व फ्लू
  • सांस लेने में दिक्कत
  • पैरों में सूजन
  • लगातार वजन घटना
  • याददाश्त में कमी
  • तनाव
  • सांस प्रणाली में संक्रमण
  • हृदय की समस्याएं
  • फेफड़ों का कैंसर

सीओपीडी के होने का कारण
सीओपीडी रोग होने का सबसे बड़ा कारण प्रदूषण और स्मोकिंग है। वहीं जो लोग गांवों में रहते हैं उन्हें चूल्हें से निकलने वाले धुंए से इस बीमारी के शिकार हो सकते है। इसी कारण वहां की महिलाएं सबसे ज्यादा इस बीमारी के शिकार होती है। 

शरीर में दिखें ये संकेत जो समझ लें कि बढ़ गया है कोलेस्ट्रॉल, बन सकता है स्ट्रोक, हार्ट अटैक का कारण

CPOD

CPOD

सीओपीडी के कारण होने वाली बीमारियां

  • सीओपीडी के कारण आप कभी भी सर्दी-जुकाम के शिकार हो सकती है। 
  • सीओपीडी के कारण  हार्ट अटैक की समस्या सबसे अधिक होती है। 
  • लिवर कैंसर का सबसे अधिक खतरा। 
  • सीओपीडी आपके फेफड़ों में रक्त लाने वाली धमनियों में रक्तचाप बढ़ा सकता है। 
  • सीओपीडी के कारण डिप्रेशन की समस्या हो सकती है। 

बच्चों में सिरदर्द कहीं इस गंभीर बीमारी के लक्षण तो नहीं, जानें कारण और बचाव

सीओपीजी से बचाव

  • आपको बता दें कि सीओपीडी पूर्ण रुप से सही नहीं सकता है। बस इसे कंट्रोल किया जा सकता है। 
  • अगर आप स्मोकिंग करते है तो उसे बंद कर दें। 
  • ऐसे जगह जाने से बचें जहां पर वायु प्रदूषण, धूल आदि हो। 
  • समय से दवाई लेते रहें। 
  • रेग्लुलर चेकअप कराते रहें। 
  • रोजाना थोड़ी एक्सरसाइज जरुर करें। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
X