Saturday, February 24, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. जून में 12.19 लाख नई नौकरियों का हुआ सृजन, ESIC ने जारी किए आंकड़े

जून में 12.19 लाख नई नौकरियों का हुआ सृजन, ESIC ने जारी किए आंकड़े

देश में जून महीने में 12.19 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) के ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। हालांकि, इससे पिछले महीने की तुलना में जून में रोजगार में कमी आई है। मई में 12.88 लाख नए रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ था।

India TV Business Desk Written by: India TV Business Desk
Published on: August 24, 2019 13:25 IST
ESIC payroll data Says 12.19 lakh new jobs created in June- India TV Paisa

ESIC payroll data Says 12.19 lakh new jobs created in June

नयी दिल्ली। देश में जून महीने में 12.19 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) के ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। हालांकि, इससे पिछले महीने की तुलना में जून में रोजगार में कमी आई है। मई में 12.88 लाख नए रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ था। 

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) ने कहा कि 2018-19 में ईएसआईसी में कुल मिलाकर 1.49 करोड़ नए अंशधारक जुड़े। एनएसओ की रिपोर्ट ईएसआईसी, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) तथा पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) द्वारा संचालित विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के नए अंशधारकों के वेतन रजिस्टर आंकड़ों पर आधारित है। 

एनएसओ अप्रैल, 2018 से इन तीन निकायों में नए अंशधारकों के आंकड़े जारी कर रहा है। सितंबर, 2017 की अवधि से ये आंकड़े जारी किए जा रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि सितंबर, 2017 से मार्च, 2018 के दौरान ईएसआईसी से कुल मिलाकर 86.73 लाख नए अंशधारक जुड़े। 

आंकड़ों के अनुसार जून में शुद्ध रूप से ईपीएफओ के पास 12.36 लाख नए नामांकन हुए, जो मई के 8.56 लाख से अधिक है। वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान ईपीएफओ संचालित सामाजिक सुरक्षा योजनाओं से शुद्ध रूप से 61.12 लाख नए अंशधारक जुड़े। सितंबर,2017 से मार्च, 2018 के दौरान शुद्ध रूप से 15.52 लाख नए नामांकन हुए। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement