1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. आईपीएल 2020
  5. IPL के इतिहास के पहली बार फाइनल में मुंबई के सामने नहीं होगी धोनी की चुनौती, इस आंकड़े को जानकर होगी हैरानी

IPL के इतिहास के पहली बार फाइनल में मुंबई के सामने नहीं होगी धोनी की चुनौती, इस आंकड़े को जानकर होगी हैरानी

इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस की टीम छठी बार फाइनल में पहुंची है और ऐसा पहली बार होगा जब खिताबी भिड़ंत में महेंद्र सिंह धोनी विपक्षी खेमें में नहीं होंगे।

Jitendra Kumar Jitendra Kumar
Updated on: November 07, 2020 19:21 IST
Mumbai Indians, IPL, IPL 2020, cricket, India, MS Dhoni, Rohit sharma - India TV Hindi
Image Source : IPL2020.COM Rohit sharma and MS Dhoni 

इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस सबसे सफल टीमों में से एक है। इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में मुंबई ने छठी बार फाइनल में अपनी जगह बनाई है। इससे पहले खेले गए पांच फाइनल मुकाबलों में से मुंबई की टीम ने चार में खिताबी जीत हासिल की है। ऐसे में पूरी संभावना है कि साल 2020 के 13वें सीजन में भी यह टीम खिताब अपने नाम कर पांचवी बार चैंपियन टीम बने।

हालांकि, मुंबई टीम इस साल फाइनल में पहुंच तो गई है लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है कि खिताबी भिड़ंत में इस टीम के सामने चेन्नई सुपरकिंग्स के दिग्गज कप्तान महेंद्र सिंह धोनी नहीं होंगे।

यह भी पढ़ें- राशिद खान ने बताया आरसीबी के खिलाफ इस रणनीति से बल्लेबाजों को रखा था खामोश

आपको बता दें कि आईपीएल में मुंबई की टीम ने चार बार खिताब पर अपना कब्जा किया है और इन सभी फाइनल मुकाबलों में कप्तान रोहित शर्मा के सामने धोनी जैसे दिग्गज की चुनौती रही है। धोनी को दुनिया के सबसे चतुर और शांत कप्तानों में से एक माना जाता है लेकिन इसके बावजूद मुंबई के खिलाफ उनकी रणनीति काम नहीं आई है।

अबतक खेले गए पांच फाइनल मैचों में मुंबई को सिर्फ एक बार हार का सामना करना पड़ा है। यह हार भी मुंबई को चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ साल 2010 में मिली थी। मुंबई की टीम इस साल पहली बार फाइनल में पहुंची थी और उसे 22 रन से हार का सामना करना पड़ा था।

इसके बाद यह टीम साल 2013 में एक बार फिर से फाइनल में पहुंची जहां उसका सामना धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपरकिंग्स के हुआ लेकिन इस मुकाबले में मुंबई की टीम ने 23 रनों से जीत दर्ज की।

यह भी पढ़ें- IPL 2020 : हैदराबाद के मजबूत प्रदर्शन में 4 अंतर्राष्ट्रीय कप्तानों की अहम भूमिका

मुंबई का यह पहला आईपीएल खिताब था। इसके बाद यह दोनों टीमें साल 2015 के फाइनल में एक दूसरे से टकराई और यहां भी चेन्नई को 41 रनों से करारी मात मिली। दूसरी बार खिताबी जीत के बाद साल 2017 के फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के साथ मुंबई का भिड़ंत हुआ और भी इस टीम ने 1 रन से रोमांचक जीत दर्ज की। यह संयोग की बात है कि धोनी पुणे टीम की ओर से मैदान पर उतरे थे।

इसके बाद मुंबई साल 2019 में पांचवी बार फाइनल में पहुंची और यहां भी उसका सामना चेन्नई सुपरकिंग्स से हुआ जिसकी कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी कर रहे थे और इस मैच में मुंबई ने सिर्फ एक रन से खिताबी जीत हासिल की।

यह भी पढ़ें- IPL 2020 : गावस्कर का मानना, कोहली को RCB के लिए ढूंढना होगा फिनिशर

ऐसे में यह आईपीएल के इतिहास में पहली बार ऐसा होगा जब मुंबई की टीम फाइनल मैच खेलने उतरेगी तो उसके सामने धोनी की कप्तानी वाली टीम नहीं होगी।

आपको बता दें कि साल 2020 के 13वें सीजन में चेन्नई सुपरकिंग्स का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा और टीम आखिरी स्थान पर रही। वहीं इस सीजन में मुबंई की टीम ने पहले क्वालीफायर मुकाबले को जीतकर फाइनल में पहुंचने वाली टीम बनी है।

वहीं मुंबई के साथ फाइनल में कौन सी टीम भिड़ेगा इसका फैसला दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स के बीच होने वाले क्वालीफायर-2 की विजेता टीम तय करेगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

Social Tracker