1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. आइसक्रीम में निकला कोरोना का वायरस, इस देश में मचा हड़कंप

आइसक्रीम में निकला कोरोना का वायरस, इस देश में मचा हड़कंप

कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया में कहर मचा रखा है। पूरी दुनिया में 9 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 18, 2021 16:57 IST
Ice Cream Samples Test Positive For Coronavirus In China- India TV Hindi
Image Source : FILE (REPRESENTATIONAL IMAGE) कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया में कहर मचा रखा है।

बीजिंग: कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया में कहर मचा रखा है। पूरी दुनिया में 9 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। कोरोना की वैक्सीन आने के बाद महामारी से निजात मिलने की उम्मीद जगी है लेकिन इस बीच एक ऐसा मामला सामने आया कि चीन में हड़कंप मच गया। गौरतलब है कि चीन में पहला मामला सामने आने के बाद से वायरस से जुड़े नए-नए खुलासे होने से वैज्ञानिक भी हैरान हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब उत्तरी चीन के तियानजिन शहर में आइसक्रीम में कोरोना वायरस मिला है।

आइसक्रीम पैकेट स्थानीय बाजार में भी पहुंच गए थे

चाइना डेली की रिपोर्ट के मुताबिक Tianjin Daqiaodao फूड कंपनी को 4,836 बॉक्स के संक्रमित होने की जानकारी मिली। इसमें से 2,089 स्टोरेज में सील पड़े हैं, पर चिंता की बात यह है कि 1812 बॉक्स को दूसरे राज्यों में भेज दिया गया था और 935 आइसक्रीम पैकेट स्थानीय बाजार में भी पहुंच गए थे। गनीमत यह रही कि कि इनमें से केवल 65 आइसक्रीम के पैकेट ही बिके थे।

आइसक्रीम का पॉजिटिव टेस्ट इंसान के संपर्क के कारण हो सकता है
इस बीच एंटी-एपिडेमिक अधिकारी कंपनी के उत्पादों को सील करने की कार्रवाई सुनिश्चित कर रहे हैं। एक वायरोलॉजिस्ट ने बताया कि आइसक्रीम का पॉजिटिव टेस्ट इंसान के संपर्क के कारण और एकबारगी हो सकता है। यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स के वायरोलॉजिस्ट डॉक्टर स्टीफेन ग्रिफिन ने स्काई न्यूज को बताया कि पैनिक होने की कोई बात नहीं है। रिपोर्ट में कहा गया कि कंपनी के 1,600 से ज्यादा कर्मचारियों को क्ववारंटीन किया गया।

विदेश से मंगाए गए थे कच्चे माल
प्रारंभिक जांच में पता चला है कि कंपनी ने विदेश से मंगाए गए कच्चे माल का इस्तेमाल करके आइसक्रीम का उत्पादन किया है। मिल्क पाउडर न्यूजीलैंड और वे पाउडर यूक्रेन से आयात किया गया था। डॉक्टर ग्रिफिन ने आगे कहा कि आइसक्रीम को कोल्ड टेंपरेचर पर रखा जाता है और इसमें वायरस के जीवित रहने की संभावना बढ़ जाती है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इस बात को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है कि आइसक्रीम भी अब कोरोना से संक्रमित होने जा रही है।

ये भी पढ़ें

Click Mania
bigg boss 15