1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. ब्रिटेन ने कोविड-19 के प्रायोगिक टीका की छह करोड़ खुराक के लिये दो कंपनियों के साथ समझौता किया

ब्रिटेन ने कोविड-19 के प्रायोगिक टीका की छह करोड़ खुराक के लिए 2 कंपनियों के साथ समझौता किया

ब्रिटिश सरकार ने कोविड-19 के टीके के लिये औषधि विनिर्माता ग्लैक्सो स्मिथ क्लाइन (जीएसके) और सनोफी पास्चर के साथ एक समझौते की बुधवार को घोषणा की। इसके तहत करीब छह करोड़ टीके का प्रायोगिक परीक्षण किया जाएगा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 29, 2020 19:17 IST
UK strikes pact for 60 million doses of COVID-19 experimental vaccine- India TV Hindi
Image Source : AP UK strikes pact for 60 million doses of COVID-19 experimental vaccine

लंदन: ब्रिटिश सरकार ने कोविड-19 के टीके के लिये औषधि विनिर्माता ग्लैक्सो स्मिथ क्लाइन (जीएसके) और सनोफी पास्चर के साथ एक समझौते की बुधवार को घोषणा की। इसके तहत करीब छह करोड़ टीके का प्रायोगिक परीक्षण किया जाएगा। ब्रिटिश औषधि विनिर्माता जीएसके और फ्रांस की सनोफी के साथ किये गये समझौते के तहत ब्रिटेन को सनोफी फ्लू टीका उत्पादित करने के लिये उपयोग में लाये जाने वाले मौजूदा डीएनए आधारित प्रौद्योगिकी पर छह करोड़ टीके की आपूर्ति की जाएगी। 

जब यह अनिश्चित है कि दुनिया में विकास के विभिन्न्न चरण के तहत कोविड-19 का क्या कोई टीका आखिरकार काम करेगा, ऐसे में बिटिश सरकार ने कहा है कि यह समझौता देश में टीका विकसित करने वाली कंपनियों को प्रोत्साहित करेगा। ब्रिटिश कारोबार मंत्री आलोक शर्मा ने कहा, ‘‘हमारे वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता अब तक की सबसे तीव्र गति से एक सुरक्षित और कारगर टीका विकसित करने में जुटे हुए हैं। इस दिशा में प्रगति सचमुच में उल्लेखनीय है, लेकिन यह तथ्य भी बरकरार है कि इसमें सफलता मिलने की कोई गारंटी नहीं है। ’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘इस बीच, यह महत्वपूर्ण है कि टीका विकसित कर रही जीएसके और सनोफी जैसी कंपनियों के साथ समझौता कर लिया है, ताकि कारगर टीका की गुंजाइश बढ़ सके और हम लोगों की जान बचा सकें। ’’ यदि जीएसके और सनोफी का टीका मानव पर किये जाने वाले अध्ययन में कारगर साबित होता है ब्रिटेन प्राथमिकता वाले समूहों का टीकाकरण करने में सक्षम हो जाएगा, जिनमें अग्रिम मोर्चे के स्वास्थ्यकर्मी और सामाजिक देखभाल कार्यकता शामिल हैं। यह 2021 की गर्मियों तक हो सकेगा।

टीके का मानव पर क्लीनिकल अध्ययन सितंबर में शुरू होगा, जिसका तीसरे चरण का अध्ययन दिसंबर 2020 में होगा। सरकार ने ताजा घोषणा के साथ कहा है कि उसने चार अलग-अलग तरह के टीकाकरण और 25 करोड़ खुराक तक समय से पहले पहुंच कायम कर ली है। इससे ब्रिटेन के द्रुत गति से एक सुरक्षित एवं कारगर टीका प्राप्त करने की संभावना बढ़ गई है। 

सरकार के टीका कार्यबल की अध्यक्ष केट बिंघम ने कहा, ‘‘टीके की यह विविधता महत्वपूर्ण है क्योंकि हम नहीं जानते कि कौन सा टीका उत्पादित करना कोविड-19 के लिये सुरक्षित प्रतिक्रिया होगी।’’ इस महीने की शुरूआत में ब्रिटिश सरकार ने घोषणा की थी कि उसने बायोनटेक/ फाइजर गठजोड़ और वालनेवा के साथ साझेदारी के तहत कोविड-19 टीके के नौ करोड़ खुराक की व्यवस्था की है। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X