1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. सिनेमा
  4. वेब सीरीज
  5. सैफ अली खान की वेब सीरीज 'तांडव' के विवादित सीन में होगा बदलाव, अली अब्बास जफर ने ट्वीट करके दी जानकारी

सैफ अली खान की वेब सीरीज 'तांडव' के विवादित सीन में होगा बदलाव, अली अब्बास जफर ने ट्वीट करके दी जानकारी

वेब सीरीज पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप था, कल अली अब्बास जफर ने स्टेटमेंट जारी करके बिना शर्त माफी मांगने की बात की थी।

India TV Entertainment Desk India TV Entertainment Desk
Updated on: January 19, 2021 20:47 IST
tandav- India TV Hindi
Image Source : INSTA- AMAZON PRIME VIDEO  'तांडव' से विवादित सीन हटाया गया

सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, जीशान आयूब और सुनील ग्रोवर जैसे सितारों से सजी वेब सीरीज 'तांडव' पर काफी विवाद हो रहा है। वेब सीरीज के एक सीन पर आपत्ति जताई जा रही है, जिसके बाद वेब सीरीज के मेकर्स ने माफी मांग ली और अब वेब सीरीज से वो विवादित सीन में बदलाव की बात भी सामने आ रही है। वेब सीरीज पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लग रहा है। अली अब्बास जफर ने ट्वीट करके विवादित सीन में बदलाव की बात कही है।

कल अली अब्बास जफर ने स्टेटमेंट जारी करके बिना शर्त माफी मांगने की बात की थी। ट्वीट में अली अब्बास जफर ने जो स्टेटमेंट जारी किया है उसमें क्या लिखा है- आइए देखते हैं।

सलमान खान की 'राधे' ईद पर थियेटर्स में होगी रिलीज, थिएटर मालिकों ने की थी रिक्वेस्ट

''हम वेब सीरीज 'तांडव' के लिए दर्शकों की प्रतिक्रियाओं की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और आज एक चर्चा के दौरान, सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने हमें गंभीर चिंताओं और आशंकाओं के साथ वेब सीरीज के विभिन्न पहलुओं पर प्राप्त बड़ी संख्या में शिकायतों और याचिकाओं के बारे में सूचित किया है। इसके कंटेंट ने लोगों की भावनाओं को आहत किया है। वेब सीरीज 'तांडव' फिक्शनल वर्क है और जिसका किसी भी एक्ट, व्यक्तियों  और घटनाओं से समानता पूरी तरह से संयोग है। किसी भी व्यक्ति, जाति, समुदाय, नस्ल, धर्म या धार्मिक विश्वासों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने या किसी संस्था, राजनीतिक दल या व्यक्ति का अपमान करने या भावनाओं को चोट पहुंचाने का हमारा इरादा नहीं था। 'तांडव' के कलाकारों और क्रू मेंबर्स ने लोगों द्वारा व्यक्त की गई चिंताओं का संज्ञान लिया और बिना किसी की भावनाओं को आहत किए, बिना शर्त माफी मांग ली है।टट

किसी करीबी ने भी नहीं देखा है विराट-अनुष्का की बेटी का चेहरा

लखनऊ में दर्ज हुई है एफआईआर

इससे पहले लखनऊ में हजरतगंज कोतवाली में तांडव वेबसीरीज के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। यह एफआईआर हजरतगंज कोतवाली के सब इंस्पेक्टर ने दर्ज कराई है। इस एफआईआर में अमेज़न प्राइम की इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित समेत वेबसीरीज के निर्माता, निर्देशक और राइटर को आरोपी बनाया गया है। इनके खिलाफ समाज में विद्वेष फैलाने, अशांति फैलाने जैसी तमाम धाराओं में केस दर्ज कराया गया है। इसके साथ ही सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने वेब सीरीज के खिलाफ शिकायतों का संज्ञान लिया है और अमेज़न प्राइम वीडियो से स्पष्टीकरण मांगा है।

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने अमेजन प्राइम वीडियो को कानूनी नोटिस भेजकर मांग की है कि वेब सीरीज 'तांडव' को उनके मंच से तुरंत हटा दिया जाए, अन्यथा उनके खिलाफ आपराधिक कार्रवाई शुरू की जाएगी। 

बीजेपी एमएलए रामकदम ने वेब सीरीज के मेकर्स के खिलाफ घाटकोपर पुलिस थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने कहा, 'वेब सीरीज के प्रोड्यूसर, डायरेक्टर और एक्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।'

इससे पहले बीजेपी एमपी मनोज कोटक ने केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर उनसे वेब सीरीज 'तांडव' पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा, "ऐसा लगता है कि तांडव के निर्माताओं ने जानबूझकर हिंदू देवताओं का अपमान किया है और हिंदू धार्मिक भावनाओं का अपमान किया है।' 

9 एपिसोड का यह राजनीतिक ड्रामा गौरव सोलंकी द्वारा लिखित है, जिसमें सैफ के अलावा डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्मांशु धूलिया, डीनो मोरिया, कुमुद मिश्रा, गौहर खान, अमायरा दस्तूर, मोहम्मद जीशान अयूब, कृतिका कामरा, सारा जेन डायस, संध्या मृदुल, अनूप सोनी, हितेन तेजवानी, परेश पाहुजा और शोनाली नागरानी सहित अन्य कई अन्य कलाकार शामिल हैं।

तांडव फिल्म विवाद पर आज हुई  बैठक 

बताया जा रहा है कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में तांडव फिल्म विवाद पर आज बैठक हुई है। सरकार पहले ही साफ कह चुकी है कि ओटीटी प्लेटफ़ॉर्म दिखाए जाने वाले फिल्म, कंटेट को लेकर सेल्फ रगुलेशन कोड बनाएं। अगर ओटीटी प्लेटफार्म अपने लिए सेल्फ रेगुलेशन कोड नहीं बनाते हैं तो फिर सरकार कोड बनाने पर विचार कर सकती है। मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के साथ कुछ ज़िम्मेदारियां भी निहित होती है। लेकिन क्रिएटिव फ्रीडम के नाम पर कानून.व्यवस्था को बिगाड़ने की अनुमति नहीं दी जा सकती।

FIR में ये हैं आरोप

एफआईआर में कहा गया है कि वेबसीरीज के पहले एपिसोड के 17वें मिनट में हिंदू देवी देवताओं को लेकर निम्नस्तरीय एवं अभद्र ​भाषा और टीका टिप्पणी का प्रयोग किया गया है। यह धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाला है। इसके साथ ही 22वें मिनट में धार्मिक भावनाएं भड़काने वाली बातें कही गई हैं। वहीं इस सीरीज में भारतीय प्रधानमंत्री को अशोभनीय ढंग से पेश किया गया है। एफआईआर में कहा गया है कि वेबसीरीज में जातियों को ऊंचा नीचा दिखाने और महिलाओं को अपमानित करने वाले दृश्य भी हैं। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Web Series News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन
Write a comment