1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. पटाखों के कारण हो सकती हैं कई खतरनाक बीमारियां, जानिए बचाव और जलने में अपनाएं ये टिप्स

पटाखों के कारण हो सकती हैं कई खतरनाक बीमारियां, जानिए बचाव और जलने में अपनाएं ये टिप्स

पटाखों में ऐसे केमिकल्स इस्तेमाल होते हैं तो आपको कैंसर सहित कई खतरनाक बीमारियां दे सकते हैं। जानिए पटाखे होने वाले नुकसान के साथ बचने के तरीके और जल जाए तो क्या करे।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: November 17, 2020 13:27 IST
पटाखों के कारण हो सकती हैं कई खतरनाक बीमारियां, जानिए बचाव और जलने में अपनाएं ये टिप्स- India TV Hindi
Image Source : INSTA/___C_L_I_C_K_S__/GSAKHIL007 पटाखों के कारण हो सकती हैं कई खतरनाक बीमारियां, जानिए बचाव और जलने में अपनाएं ये टिप्स

उत्तर प्रदेश से बीजेपी की सीनियर नेता और प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी की पोती की पटाखे से झुलस कर मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक रीता बहुगुणा जोशी के बेटे मयंक जोशी की 6 साल की बेटी किया जोशी दिवाली की रात पटाखों से बुरी तरह झुलस गई थी।। यह छोटी बच्ची ही नहीं कई ऐसे लोग हैं जो पटाखे जलाते समय जरा सी लापरवाही के कारण अपना जान गवां देते हैं या फिर गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं। दिवाली, छठ, क्रिसमस से लेकर शादी तक में पटाखों की धूम होती है। तरह-तरह के पटाखों को जलाकर हम अपनी खुशी जाहिर करते हैं। लेकिन इसी बीच हम ये भूल जाते हैं कि पटाखा पर्यावरण को नुकसान पंहुचाने के साथ-साथ हमारी सेहत के लिए काफी खतरनाक है।

कोरोना और बढ़ते प्रदूषण के कारण दिल्ली, उत्तर प्रदेश सहित कई प्रदेशों में पटाखों का जलाना बैन है लेकिन फिर भी लोग इन्हें जलाने से बाज नहीं आ रहे हैं। आपको बता दें कि पटाखों में ऐसे केमिकल्स इस्तेमाल होते हैं तो आपको कैंसर सहित कई खतरनाक बीमारियां दे सकते हैं। जानिए पटाखे होने वाले नुकसान के साथ बचने के तरीके और जल जाए तो क्या करे। 

सर्दियों में नाक, कान और गले में इंफेक्शन का खतरा अधिक, स्वामी रामदेव से जानें ईएनटी की हर समस्या का इलाज

पटाखा जलाने से होने वाले नुकसान

  • पटाखों में पौटेशियम क्लोरेट तेज रोशनी पैदा करते है। जिससे हवा जहरीली हो जाती है। जिससे फेफड़ों का कैंसर होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। 
  • पटाखों से निकलने वाली हानिकारक कार्बन मोनोऑक्साइड गैस सांस के माध्यम से गर्भ में पल रहे बच्चे तक पहुंच सकती है। जिससे उसे सांस लेने में समस्या हो सकत है। जिससे गर्भपात तक हो सकता है। 
  • पटाखा के धुएं में टॉक्सिन अधिक मात्रा में पाया जाता है। जिससे आंखों की रोशनी कम होने के साथ जलन और पानी निकलने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • तेज आवाज और धुएं से सांस लेने की समस्या के कारण  के हार्ट अटैक और स्ट्रोक आ सकता है। 
  • पटाखों के धुंए से दमा के मरीजों का दम घूम सकता हैं।  

तेजी से वजन घटाने में असरदार है एलोवेरा, ये है इस्तेमाल करने का तरीका

पटाखों  के धुएं से बचने के लिए अपनाएं ये सावधानियां

  • कोशिश करें कि पटाखे न जलाएं क्योंकि इससे निकलने वाली कार्बन डाईऑक्साइड, कार्बन मोनोऑक्साइड और सल्फर ऑक्साइड जैसी गैसें दमा के मरीजों के लिए खतरनाक है।
  • एलर्जी से बचने के लिए अपने मुंह पर मास्क या फिर रूमाल या कपड़ा बांधे।
  • दमा के मरीज है तो हमेशा अपने साथ इन्हेलर रखें। जिससे सांस की समस्या होने पर तुरंत यूज कर सके।
  • अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो रही हो तो तुंरत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • दिवाली की रात घर के दरवाजे और खिड़कियां बंद करके रखें। जिससे पटाखों का धुंआ अंदर प्रवेश न कर पाएं। इससे आपको घुटन की समस्या हो सकती हैं। 
  • पटाखे जलाने से पहले इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आसपास बुजुर्ग और जानवरों को इससे काफी परेशानी हो सकती हैं। 

अगर जल गए हैं तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

पटाखे जलाते समय हमारी जरा सी लापरवाही के आप जल जाते हैं। इतना ही नहीं की बार जानपर भी बन आती हैं। इसलिए अगर आप जल जाए तो तुरंत इन उपायों को अपनाने के साथ तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे। 

गाय का घी

पटाखों से जल गए हैं तो गाय का घी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप एक पीतल की थाली में सरसों का तेल, नीम की छाल का पेस्ट और गाय का घी डालकर अच्छे से मिक्स कर लें। अब इसे घाव में लगाए। इससे आपको लाभ मिलेगा। 

नारियल तेल
नारियल तेल लगाने से जलन कम होगी। इसके साथ ही जलने वाली जगह ठंडी रहेगी जिससे वह जल्द सही हो जाएगी। 

अचानक बढ़ गया है ब्लड शुगर तो इन घरेलू उपायों से इंस्टेंट करें कंट्रोल

तुलसी
औषधिय गुणों से भरपूर तुलसी की पत्ती में एंटीबैक्टीरियल के साथ ऐसे गुण पाए जाते हैं जो आपको घाव को भरने में मदद करते हैं। इसके लिए इसके रस या पेस्ट को घाव में लगाए। 

आलू
अगर आप जल गए हैं तो फफोले न पड़े इसके लिए आलू का पेस्ट बनाकर गाव में लगा लें। इससे आपका जलने का दाग भी चला जाएगा। 

तिल
तिल को पीसकर इसका पेस्ट बना लें। इसे घाव में लगाने से जलन और दर्द में राहत मिलेगी। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। पटाखों के कारण हो सकती हैं कई खतरनाक बीमारियां, जानिए बचाव और जलने में अपनाएं ये टिप्स News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment