ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. ठंड में अर्थराइटिस के दर्द से हैं परेशान तो करें ये योगासन, मिलेगी राहत

ठंड में अर्थराइटिस के दर्द से हैं परेशान तो करें ये योगासन, मिलेगी राहत

सूरज के बिना इंसान का वजूद नामुमकिन है। धरती पर एनर्जी का सबसे बड़ा सोर्स सूरज की रोशनी है। आस्था के नजरिए से देखें तो सूर्य 'देव' हैं साइंस की निगाह से सन सोलर सिस्टम का वो स्टार है, जिसके बिना धरती पर ना मौसम बदलेंगे और ना ही जिंदगी पनपेगी।

India TV Health Desk Written by: India TV Health Desk
Published on: January 03, 2022 10:04 IST
ठंड में अर्थराइटिस...- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV ठंड में अर्थराइटिस के दर्द से हैं परेशान तो करें ये योगासन

Highlights

  • हर दिन 20 मिनट की धूप सबके लिए जरूरी है
  • अगर हर रोज सूरज की रोशनी में सूर्य नमस्कार किया जाए तो उसके फायदे भी बेहिसाब हैं
  • सूर्य नमस्कार के 12 पोज आपको 22 बीमारियों से बचा सकते हैं
सूरज के बिना इंसान का वजूद नामुमकिन है। धरती पर एनर्जी का सबसे बड़ा सोर्स सूरज की रोशनी है। आस्था के नजरिए से देखें तो सूर्य 'देव' हैं साइंस की निगाह से सन सोलर सिस्टम का वो स्टार है, जिसके बिना धरती पर ना मौसम बदलेंगे और ना ही जिंदगी पनपेगी।
 
सीधे-सीधे कहें तो सूरज की रोशनी यानि धूप हमारे लिए जीवनदायिनी है। हर दिन 20 मिनट की धूप सबके लिए जरूरी है और अगर हर रोज सूरज की रोशनी में सूर्य नमस्कार किया जाए तो उसके फायदे भी बेहिसाब हैं।देश के सबसे बड़े इंस्टीट्यूट एम्स का मानना है कि सूर्य नमस्कार के 12 पोज आपको 22 बीमारियों से बचा सकते हैं।एम्स ने डिप्रेशन के मरीजों को 2 हिस्सों में बांटा। एक को सिर्फ दवाइयां दी गईं और दूसरे ग्रुप को दवाओं के साथ सूर्य नमस्कार और मेडिटेशन करवाया गया।तीन महीने बाद जब रिजल्ट देखा गया तो दवा लेने वाले ग्रुप को बीमारी में 29 परसेंट ही फायदा हुआ जबकि सूर्य नमस्कार करने वाले ग्रुप का डिप्रेशन 60 परसेंट ठीक हो गया। ये फायदा सिर्फ एक बीमारी में ही नहीं दिखा है बल्कि सूर्य की रोशनी में सूर्य नमस्कार आर्थराइटिस, स्किन डिजीज व तमाम डेफिशिएंसी में भी कारगर साबित हुआ है।
 
ऐसे में स्वामी रामदेव से जानिए अर्थराइटिस व अन्य बीमारियों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए योगासन और आयुर्वेदिक उपाय के बारे में।
 
अर्थराइटिस 2 तरह के होते हैं। पहला ओस्टो अर्थराइटिस और दूसरा रूमेटाइड अर्थराइटिस।  स्वामी रामदेव के अनुसार ओस्टो अर्थराइटिस में कार्टिलेज घिसने का सबसे बड़ा कारण ब्लड सर्कुलेशन ठीक ढंग से ना होना, एनर्जी, कैल्शियम, विटामिन डी, विटामिन बी12, आयरन आदि की कमी के कारण होता है। 
अर्थराइटिस की समस्या से निजात पाने के लिए योगासन-
सूक्ष्म व्यायाम
  • ऊर्जा, स्फूर्ति का संचार करता है। 
  • बॉडी एक्टिव करे
  • शरीर पूरा दिन चुस्त रहता है
  • शरीर की थकान दूर हुआ
 
उष्ट्रासन-
  • कंधों और पीठ दर्द में लाभकारी
  • स्लिप डिस्क, कमर दर्द में लाभकारी
  • किडनी को स्वस्थ रखे
  • मोटापा दूर करने में लाभाकारी
  • शरीर को पोश्चर ठीक करे
  • कंधों और पीठ को करे मजबूत
 
मकरासन-
  • पीठ दर्द और कमर दर्द से राहत दिलाए
  • कूल्हों की मांसपेशियों को करे खिंचाव
  • साइटिका और सर्वाइकल में लाभकारी
 
भुजंगासन-
  • किडनी में लाभकारी
  • कमर दर्द में लाभकारी
  • शरीर को सुंदर और सुडौल बनाए
  • तनाव और चिंता को करे कम
  • इन लोगों को बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए लीची का सेवन, फायदे की जगह होगा भारी नुकसान
 
शलभासन-
  • अस्थमा रोगों में लाभकारी
  • नर्वस सिस्टम को करे मजबूत
  • खून को साफ करे
  • शरीर को मजबूत और लचीला बनाएं
  • कंधों और कमर दर्द को करे मजबूत
  • खून को साफ करे
 
धनुरासन-
  • गैस और कब्ज में लाभकारी
  • मोटापा कम करने में करे मदद
  • रीढ़ की हड्डी को करे मजबूत
 
मर्कटासन-
  • रीढ़ की हड्डी को करे मजबूत
  • कमर दर्द में लाभकारी
  • फेफड़ों के लिए अच्छा
  • पेट संबंधी समस्याओं में लाभकारी
  • गैस और कब्ज से दिलाए निजात
  • लिवर, फेफड़ों को रखे हेल्दी
कोणासन
  • मोटापा में फायदेमंद
  • डायबिटीज को करे दूर
  • ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल
  • शरीर को लचीला बनाए
  • कमर और पेट की चर्बी करे कम
 
चक्की आसन
  • पीठ की अच्छी एक्सरसाइज करे
  • जोड़ों को दर्द के लिए लाफदायक
  • पेट कम करने में फायदेमंद 
 
उत्तानपादासन
  • रीढ़ की हड्डी को दें ताकत
  • भोजन पचाने में कारगर
  • लिवर और किडनी को रखें हेल्दी
  • शरीर को सुंदर और सुडौल बनाए
  • तनाव और डिप्रेशन से दिलाए छुटकारा
  • बीपी को करें कंट्रोल
  •  
  • नौकासन
  • शरीर की ऑक्सीजन बढ़ाए
  • डायबिटीज को करे कंट्रोल
  • टीबी, निमोनिया को करे ठीक
  • शरीर में ऑक्सीजन का स्तर संतुलित रहता है
  • नियमित अभ्यास से मोटापे में कमी
  • पाचन शक्ति अच्छी रहती हैं
  • पेट, कमर, पीठ मजबूत बनती है
 
पवनमुक्तासन
  • फेफड़े स्वस्थ और मजबूत रहते हैं
  • अस्थमा, साइनस में लाभकारी
  • किडनी को स्वस्थ रखता है
  • ब्लड प्रेशर को सामान्य रखता है
  • पेट की चर्बी को दूर करता है
  • मोटापा कम करने में मददगार
  • हृदय को सेहतमंद रखता है
  • ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है
  • रीढ़ की हड्डी मज़बूत होती है
 
मंडूकासन
  • डायबिटीज को  करे कंट्रोल
  • पेट और हृदय के लिए भी लाभकारी
  • कंसंट्रेशन की क्षमता बढ़ती है
  • पाचन तंत्र सही करने में सहायक
  • लिवर, किडनी को स्वस्थ रखता है
  • वजन घटाने में मदद करता है
  • पैन्क्रियाज से इंसुलिन रिलीज करता है
 
गोमुखासन 
  • फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है
  • पीठ, बांहों को मजबूत बनाता है
  • रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है
  • शरीर को लचकदार बनाता है
  • सीने को चौड़ा करने में सहायक
  • शरीर के पॉश्चर को सुधारता है
  • थकान, तनाव, चिंता दूर करता है
  • दृढ़ इच्छाशक्ति का विकास करता है
  • लिवर-किडनी की समस्या में लाभकारी
 
शीर्षासन
  • शीर्षासन से डिप्रेशन दूर होता है
  • चेहरे में चमक आती है, सुंदरता बढ़ती है
  • त्वचा मुलायम और खूबसूरत बनती है
  • मानसिक शांति और स्मरण शक्ति बढ़ती है
  • दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है 
  • आंखों की रोशनी बढ़ाने में कारगर
 
सर्वांगासन
  • दिल तक शुद्ध रक्त पहुंचता है
  • एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है
  • याद की हुई चीजें भूलते नहीं
  • ब्रेन में एनर्जी का फ्लो बेहतर
  • आंखों पर चश्मा नहीं चढ़ेगा
  • थायराइड  ग्लैंड एक्टिव होता है
  • हाथ-कंधे मजबूत बनते हैं
  • ब्रेन को पर्याप्त ब्लड मिलता है
  • हार्ट मसल्स एक्टिव होता है
 
हलासन
 
  • इस आसन से दिमाग शांत होता है 
  • थायराइड की बीमारी ठीक होती है 
  • स्ट्रेस और थकान मिटाता है
  • रीढ़ की हड्डी में खिंचाव आता है 
  • डायबिटीज़ की परेशानी दूर होती है
  • अर्थराइटिस  से निजात पाने के लिए प्राणायाम
  • कपालभाति
  • अनुलोम विलोम
  • भ्रामरी प्राणायाम
  • उद्गीथ प्राणायाम
  • भस्त्रिका
elections-2022