1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कोरोना टीकाकरण से पहले जानिए जरूरी प्रश्नों के जवाब, इन दस्तावेजों से करा सकेंगे रजिस्ट्रेशन

कोरोना टीकाकरण से पहले जानिए जरूरी प्रश्नों के जवाब, इन दस्तावेजों से करा सकेंगे रजिस्ट्रेशन

केंद्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय ने कोरोना टीकाकरण को लेकर सभी तरह की जानकारी दी है कि आखिर आपको कोरोना टीका लगवाने के लिए किन-किन जरूरी दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 13, 2021 21:21 IST
Documents required for corona vaccination India Latest...- India TV Hindi
Image Source : PTI Documents required for corona vaccination India Latest update news

नई दिल्ली। 16 जनवरी से देशभर में कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू हो रहा है। ऐसे में आपको कोरोना वैक्सीन कैसे लगेगी इसको लेकर कई तरह के सवाल मन में आ रहे होंगे। केंद्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय के एक ट्वीट में इसको लेकर सभी तरह की जानकारी दी गई है कि आखिर आपको कोरोना टीका लगवाने के लिए किन-किन जरूरी दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को वर्चुअल तरीके से राष्ट्रीय राजधानी से कोविड के टीकाकरण अभियान की शुरुआत करेंगे। 

कोविड वैक्सीन इंजेक्शन के ज़रिए दी जाएगी

सबसे पहले आपको बता दें कि, कोविड वैक्सीन इंजेक्शन के ज़रिए दी जाएगी। केंद्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, COVID-19 से पहले संक्रमित हो चुके लोगों को भी इसके टीके की दो खुराक लगवानी चाहिए, जिससे शरीर में इस रोग से लड़ने की रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो सके। कोरोना वैक्सीन Covishield और Covaxin की 1.65 करोड़ खुराक की पूर्ण प्रारंभिक खरीद राशि सभी राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को हेल्थ केयर वर्कर्स डेटाबेस के अनुपात में आवंटित की जा चुकी है।

कोविड वैक्सीन भी इंजेक्शन के ज़रिए दी जाएगी

Image Source : @MOHFW_INDIA
कोविड वैक्सीन भी इंजेक्शन के ज़रिए दी जाएगी

पंजीकरण के लिए इन चीजों की होगी आवश्यकता 

कोरोना टीकाकरण पंजीकरण करने के लिए आपको किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी इसकी हम आपको पूरी जानकारी दे रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना टीकाकरण पंजीकरण में इस्तेमाल होने वाले दस्तावेंजों को लेकर पूरी सूची जारी की है।

  • आपको अपने पंजीकरण के लिए एक फोटो आईडी की आवश्यकता होगी, जिसे टीकाकरण स्थल पर सत्यापित किया जाएगा। वैक्सीन लगवाने के लिए अपने साथ उसी आईडी को ले जाना अनिवार्य है। पंजीकरण के लिए कोई भी फोटो आधारित दस्तावेज दिया जा सकता है जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, बैंक/डाकघर द्वारा जारी पासबुक, पासपोर्ट, केंद्रीय/राज्य सरकार/ सार्वजनिक कंपनियों द्वारा दिए गए कर्मचारी पहचान पत्र। 
  • इसके साथ ही आप NPR के तहत RGI की तरफ से जारी किया गया स्मार्ट कार्ड और मनरेगा जॉब कार्ड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही आप श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड और तस्वीर के साथ पेंशन दस्तावेंज का भी इस्तेमाल कर सकेंगे।
  • आप सांसदों/विधायकों/एमएलसी से जारी किए गए आधिकारिक पहचान पत्र के जरिए भी कोरोना टीकाकरण में पंजीकरण करा सकते हैं। आप इन सब में से कोई एक ले जा सकते हैं। 

Documents required for corona vaccination

Image Source : @MOHFW_INDIA
Documents required for corona vaccination

देशभर में 16 जनवरी से शुरू होगा टीकाकरण अभियान 

बता दें कि, देश में भारत बायोटेक की स्वदेशी 'कोवैक्सीन' और सीरम इंस्टीट्यूट की 'कोविशील्ड' को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने आपात इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। कोविड-19 के खिलाफ भारत के टीकाकरण अभियान की तैयारियों ने जोर पकड़ लिया है। विमानों के जरिये देश भर में विभिन्न हवाईअड्डों पर टीके की खेप पहुंचाई जा रही है, जहां से ये छोटे शहरों को भेजी गईं। देशभर में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है।

जानिए कहां पहुंची कितनी वैक्सीन

भारत बायोटेक ने बुधवार को एक बयान में कहा, ‘‘सरकार से 55 लाख खुराक के लिए खरीद का आर्डर प्राप्त होने के बाद, कंपनी ने टीके की प्रथम खेप (प्रत्येक शीशी में 20 डोज है) रवाना की।’’ भारत बायोटक ने कहा कि टीके की खेप गणवरम (आंध्र प्रदेश), गुवाहाटी, पटना, दिल्ली, कुरूक्षेत्र, बेंगलुरु, पुणे, भुवनेश्वर, जयपुर, चेन्नई और लखनऊ भेजी गई। ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के कोविशील्ड टीके की पहली खेप पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) विनिर्माण केंद्र से रवाना की गई थी। एसआईआई ने कोविशील्ड की करीब 56 लाख खुराक भेजी है, वहीं हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने कहा कि उसने भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान संस्थान (आईसीएमआर) और राष्ट्रीय विषाणुविज्ञान संस्थान के सहयोग से स्वेदश विकसित टीके कोवैक्सीन को 11 शहरों में भेजा है। उसने केंद्र को 16.5 लाख खुराक दान में देने की बात कही है।

दिल्ली में फ्री में लगेगा कोरोना टीका- केजरीवाल

दिल्ली में 89 केंद्रों पर टीकाकरण अभियान शुरू होगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर केंद्र सरकार लोगों को कोरोना वायरस का टीका नि:शुल्क उपलब्ध कराने में नाकाम रहती है, तो दिल्ली सरकार राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों को मुफ्त में इसे उपलब्ध कराएगी। केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने पहले ही केंद्र सरकार से अपील की है क्योंकि ऐसे बहुत लोग हैं जो टीका खरीद कर नहीं लगवा सकते हैं। 

जानिए क्यों बनाया गया है कोविन एप

गौरतलब है कि अभी सरकार की ओर से कोरोना टीका लगवाने में मददगार कोविन एप लॉन्च नहीं किया गया है। हालांकि, प्रधानमंत्री के वर्चुअल सेशन को लेकर राज्यों को नोटिफिकेशन भेज दिया गया है और कहा गया है कि वीडियो दिखाने के लिए कुछ जगहों को चिन्हित किया जाए और सरकार के कोविन एप पर साइट के पंजिकरण का निर्धारण किया जाए। यानि अभी आप कोई कोविन एप डाउनलोड न करें और रजिस्ट्रेशन न कराएं वरना आप ठगी का शिकार हो सकते हैं। वैक्सीनेशन यानी टीकाकरण के लिए सरकार ने 'कोविन' (कोविड वैक्सीन इंटेलीजेंस नेटवर्क) एप बनाया है। ये एप शुरू से लेकर आखिरी तक पूरी प्रक्रिया पर निगरानी रखेगा। Co-Win इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क (eVIN) का अपग्रेडेड वर्जन है। बता दें कि, पहले चरण में सबसे पहले फ्रंटलाइन वर्कर्स को मुफ्त में वैक्सीन का टीका लगाया जाएगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने पहले ही इस एप के बारे में जानकारी दी थी और कहा था कि वैक्सीन लगवाने के लिए इस एप में लोगों को खुद से रजिस्टर करना होगा।

कोविन एप में होंगे 4 मॉडयूल

  • जब एक बार कोविन एप लॉन्च होगा तो इसके चार मॉड्यूल होंगे। इसमें यूजर एडमिनिस्ट्रेटर मॉड्यूल, बेनिफिशियरी (लाभार्थी) रजिस्ट्रेशन, वैक्सीनेशन और बेनिफिशियरी एकनॉलेजमेंट और स्टेटस अपडेशन शामिल होगा।
  • बेनिफिशियरी रजिस्ट्रेशन के तहत तीन विकल्प होंगे। इसमें तहत सेल्फ रजिस्ट्रेशन, इंडिविजुअल रजिस्ट्रेशन और बल्क अपलोड का विकल्प होगा। सेल्फ रजिस्ट्रेशन के तहत बेव और मोबाइल एप्लीकेशन दोनों के जरिए लाभार्थी खुद को डायरेक्ट रजिस्टर कर सकेंगे। इसके बाद उनका डाटा चेक होगा कि वे पचास साल से ज्यादा या कम उम्र के हैं, या फिर को-मोरबिड यानी दूसरी बीमारी से पीड़ित है।
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment