1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लगवाया टीका, सेना के RR अस्पताल जाकर ली वैक्सीन

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लगवाया टीका, सेना के RR अस्पताल जाकर ली वैक्सीन

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज का टीका लगवा लिया है। राष्ट्रपति ने बुधवार को दिल्ली में स्थित आरआर अस्पताल में जाकर वैक्सीन का टीका लगवाया।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 03, 2021 13:23 IST
- India TV Hindi News
Image Source : TWITTER @RASHTRAPATIBHVN President Ram Kovind Receives first dose of Covid-19 Vaccine

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज का टीका लगवा लिया है। राष्ट्रपतिभवन की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार राष्ट्रपति ने बुधवार को दिल्ली में स्थित सेना के आरआर अस्पताल में जाकर वैक्सीन का टीका लगवाया। 60 वर्ष से ऊपर की आयु और 45 वर्ष से ऊपर की आयु के ऐसे लोग जिन्हें ऐसी बीमारियां हैं जो कोरोना को लेकर घातक हो सकती हैं, के लिए टीकाकरण की शुरुआत पहली मार्च से हो चुकी है और उसी दिन प्रधानमंत्री मोदी भी टीका लगवा चुके हैं। 

प्रधानमंत्री मोदी की पहल के बाद देशभर में कोरोना की वैक्सीन का टीका लगवाने वालों की संख्या में तेजी आई है, देश में कोरोना मामले भी फिर से बढ़ने लगे हैं जिस वजह से भी वैक्सीन का टीका लगवाने वालों की संख्या बढ़ने लकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार मंगलवार शाम तक देशभर में 1.56 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन का टीका लग चुका है, मंगलवार को ही देशभर में 7.68 लाख से ज्यादा लोगों ने टीका लगवाया है। 

देश में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी को हुई थी और शुरुआत में फ्रंट लाइन कोरोना वारियर्स को वैक्सीन का टीका लगवाया गया था। लेकिन पहली मार्च से ऐसे आम नागरिकों के लिए भी टीकाकरण शुरू हुआ है जिनकी आयु 60 वर्ष से ऊपर हो या 45 वर्ष से ऊपर के ऐसे नागरिक जिन्हें ऐसी बीमारियों ने जकड़ा हो जो कोरोना की वजह से घातक हैं। 

भारत में कोरोना वायरस की अबतक 2 वैक्सीन का टीका लगाया जा रहा है और दोनो वैक्सीन का उत्पादन भारत में ही हो रहा है। हालांकि भारत सिर्फ अपने लिए ही वैक्सीन का उत्पादन नहीं कर रहा बल्कि दुनिया के कई बड़े देशों को भी वैक्सीन भेज रहा है। अबतक भारत से दुनियाभर के 25 से ज्यादा देशों को वैक्सीन भेजी जा चुकी है। 

Latest India News

>independence-day-2022