1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पेट्रोल-डीजल पर अंधाधुंध टैक्स वसूल रही है सरकार: राहुल गांधी

पेट्रोल-डीजल पर अंधाधुंध टैक्स वसूल रही है सरकार: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सरकार पेट्रोलियम उत्पादों पर आम लोगों से अंधाधुंध कर (Tax) वसूल रही है तथा अपने ‘मित्र वर्ग’ के कर्ज माफ कर रही है। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 09, 2021 19:30 IST
पेट्रोल-डीजल पर अंधाधुंध टैक्स वसूल रही है सरकार: राहुल गांधी- India TV Hindi
पेट्रोल-डीजल पर अंधाधुंध टैक्स वसूल रही है सरकार: राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की बढ़ती कीमतों को लेकर मंगलवार को सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि सरकार पेट्रोलियम उत्पादों पर आम लोगों से अंधाधुंध कर (Tax) वसूल रही है तथा अपने ‘मित्र वर्ग’ के कर्ज माफ कर रही है। 

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘एलपीजी-पेट्रोल-डीज़ल पर आम जन से अंधाधुंध टैक्स वसूली करके केंद्र सरकार अपने ‘मित्र’ वर्ग का टैक्स व क़र्ज़ माफ़ कर रही है। सच साफ़ है!’’ उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के सांसद पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों पर चर्चा की मांग को लेकर संसद में पिछले दो दिनों से हंगामा कर रहे हैं, जिससे दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित हुई।

कांग्रेस ने सोमवार को आरोप लगाया कि केंद्र सरकार पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी के मुद्दे पर संसद में चर्चा करने के लिए तैयार नहीं है। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने यह भी कहा कि कांग्रेस महंगाई के मुद्दे पर संसद में चर्चा के लिए सरकार पर दबाव बनाती रहेगी।

उन्होंने संसद भवन के बाहर संवाददाताओं से कहा, ‘‘राज्यसभा में हमने नियम 267 के तहत नोटिस देकर कहा था कि देश में पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतें दिन-प्रतिदिन बढ़ रही हैं और इससे आम लोगों को बहुत परेशानी हो रही है, ऐसे में इस पर चर्चा हो।’’ 

खड़गे के मुताबिक, कांग्रेस की सरकार के समय अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 109 डॉलर प्रति बैरल थी तो उस वक्त 71 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल मिल रहा था। अब कच्चे तेल की कीमत 65 डॉलर प्रति बैरल है तो पेट्रोल करीब 100 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। 

उन्होंने दावा किया, ‘‘पेट्रोलियम उत्पादों के दाम बढ़ाकर मोदी सरकार ने पिछले साढ़े छह साल में 21 लाख करोड़ रुपये कमाये हैं। हमारा सवाल है कि इस रकम का कहां इस्तेमाल किया गया? यह सरकार अमीरों का कर्ज माफ कर रही है। लेकिन गरीबों और मध्य वर्ग पर बोझ बढ़ता चला जा रहा है।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X