ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. ओमिक्रॉन को लेकर खतरा अभी टला नहीं! दिल्ली से लेकर मुंबई, गुजरात, कर्नाटक तक आपात बैठक

द. अफ्रीका से लौटे 2 लोगों में ओमिक्रॉन नहीं, लेकिन खतरा अभी टला नहीं! दिल्ली से लेकर मुंबई, गुजरात, कर्नाटक तक आपात बैठक

दक्षिण अफ्रीका से 2 दिन पहले लौटे जिन दो लोगों में ओमिक्रॉन होने का संदेह था, वो डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित है। ये दोनों लोग बेंगलुरु आए थे, दोनों के टेस्ट में मिले वायरस को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेज दिया गया है लेकिन खतरा अभी टला नहीं है।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 28, 2021 10:29 IST
द.अफ्रीका से लौटे 2...- India TV Hindi
Image Source : AP द.अफ्रीका से लौटे 2 लोगों में ऑमिक्रॉन नहीं, लेकिन खतरा अभी टला नहीं!

Highlights

  • बेंगलरु पहुंचे 2 लोगों के RT-PCR टेस्ट में डेल्टा वायरस की पुष्टि।
  • ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए केन्द्र ने राज्यों को किया अलर्ट।

नई दिल्ली: पूरी दुनिया कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का खौफ खाए हुए है। अफ्रीका में मिला कोरोना का ये नया वैरियंट दुनिया के दर्जन भर देशों में दस्तक दे चुका है। भारत के लिए एक राहत की बात है। दक्षिण अफ्रीका से 2 दिन पहले लौटे जिन दो लोगों में ओमिक्रॉन होने का संदेह था, वो डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित है। ये दोनों लोग बेंगलुरु आए थे, दोनों के टेस्ट में मिले वायरस को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेज दिया गया है लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। केन्द्र सरकार ने सभी राज्यों को एहतियात बरतने का अलर्ट जारी किया है। शनिवार को पीएम मोदी ने शीर्ष अधिकारियों के साथ करीब 2 घंटे तक मीटिंग की।

कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर पूरी दुनिया की चिंताओं के बीच पीएम मोदी कोरोना से नई जंग की तैयारी करने में जुट गए हैं। इसे लेकर चली 2 घंटे की मीटिंग में-

  • मोदी ने अधिकारियों को राज्यों में ऑक्सीजन और वेंटिलेटर पर समीक्षा करने को कहा।
  • कोरोना के वक्त दवाईयों की कमी ना हो इसके लिए तैयारी करने को कहा।
  • जिन इलाकों में ज्यादा केस आ रहे हैं, वहां पर निगरानी और कंटेनमेंट जैसी सख्ती जारी रखी जाए।
  • ओमिक्रोन वेरिएंट के बारे में रिसर्च करने को भी कहा गया।
  • इसके अलावा पीएम ने कहा नए वेरिएंट से जनता को जागरुक करना होगा।
  • इंटरनेशल फ्लाइट की योजना की समीक्षा की जाए, वैक्सीनेशन को तेजी से बढ़ाना होगा।
  • कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज की कवरेज बढ़ाने पर फोकस करना चाहिए।
  • मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसी चीजों का पालन सही तरह से किया जाए।

पीएम मोदी ने सबको अलर्ट रहने के साथ वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाने पर भी जोर दिया क्योंकि बड़ी आबादी को वैक्सीन के दोनों डोज लगने बाकी है। बेंगलुरु, तिरुवनंतपुरम, मुंबई, दिल्ली और अहमदाबाद ये देश के ये 5 बड़े शहर हैं जहां केन्द्र सरकार के अलर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा एहतियात बरतने की जरूरत है। दुनिया के देशों की तरह भारत ने हालांकि अभी ओमिक्रॉन प्रभावित देशों से आने जाने वाली फ्लाइट बंद नहीं की है लेकिन एयरपोर्ट्स पर आते ही कोरोना टेस्ट जरूरी कर दिया गया है।

इन देशों से आने वालों पर नजर-

ब्रिटेन समेत सभी यूरोपीय देश, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरिशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग और इजरायल हैं। यहां से भारत आने वाले सभी यात्रियों की एयरपोर्ट पर ही RT PCR टेस्ट कराया जाएगा, और जरूरत पड़ी तो क्वारंटीन किया जाएगा।

ओमिक्रॉन को लेकर सबसे ज्यादा खतरा बेंगलुरु में बताया जा रहा है, जहां पिछले 1 महीने में अफ्रीकी देशों से 1000 लोग आए हैं। इनमें से दो लोगों की रिपोर्ट ओमिक्रॉन निगेटिव आई है बाकी अभी तक किसी में संक्रमण की कोई सूचना नहीं है। इसे लेकर सीएम बीआर बोम्मई ने आपात बैठक बुलाई। ओमिक्रॉन पर हाई अलर्ट को देखते हुए तमाम राज्यों ने तैयारियां शुरू कर दी है। कई राज्यों ने ठोस कदम भी उठाने शुरू कर दिए है।  किस राज्य ने क्या क्या तैयारियां शुरू की है-

कर्नाटक

सीएम बोम्मई ने अधिकारियों के साथ शनिवार को बैठक बुलाई, जिसमें एयरपोर्ट्स पर विदेश से आने वाले यात्रियों की फौरन कोरोना टेस्टिंग के निर्देश दिए गए। सभी जिला कलेक्टर्स को केरल, महाराष्ट्र से लगने वाले इलाकों और हाईवे पर निगरानी बढ़ाने को कहा गया। कर्नाटक में पिछले 24 घंटे में 322 मामले आए जिसे देखते हुए वैक्सीन के दूसरे डोज की रफ्तार बढ़ाने के निर्देश दिए गए।

महाराष्ट्र
सीएम उद्धव ठाकरे ने शनिवार को बैठक में कोरोना गाइडलाइन को सख्त करने के निर्देश दिए। राज्य में आने वाले सभी विदेशी यात्रियों की फौरन टेस्टिंग की बात कही गई। घरेलू यात्रियों को डबल डोज का सर्टिफिकेट होने के बाद ही महाराष्ट्र में एंट्री दी जाएगी इसके अलावा मुंबई महानगरपालिका ने भी ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए निगरानी बढ़ाने को कहा। जिन देशों में ओमिक्रॉन पाया गया, वहां से आने वाले यात्रियों को टेस्टिंग के साथ क्वारंटीन करने को कहा गया। मुंबई के सभी कोविड सेंटर्स को पूरी तरह एक्टिव रखने के निर्देश दिए गए।

मध्य प्रदेश
ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज दोपहर आपात बैठक बुलाई है। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री और चिकित्सा मंत्री के साथ राज्य डीजीपी और मुख्य सचिव मौजूद रहेंगे।

uttar-pradesh-elections-2022
elections-2022