ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Koo पर पोस्ट कर Twitter को रविशंकर प्रसाद का संदेश? कहा-Social Media का Misuse रोकने के लिए हैं नए नियम

Koo पर पोस्ट कर Twitter को रविशंकर प्रसाद का संदेश? कहा-Social Media का Misuse रोकने के लिए हैं नए नियम

केंद्र सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियों के लिए जो नए नियम बनाए हैं उनको लेकर Twitter, Facebook, Instagram तथा WhatsApp के रवैए को देखते हुए सरकार सख्त नजर आ रही है...

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: May 27, 2021 12:53 IST
ravi shankar prasad- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Koo पर पोस्ट कर Twitter को रविशंकर प्रसाद का संदेश? कहा-Social Media का Misuse रोकने के लिए हैं नए नियम

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियों के लिए जो नए नियम बनाए हैं उनको लेकर Twitter, Facebook, Instagram तथा WhatsApp के रवैए को देखते हुए सरकार सख्त नजर आ रही है और ऐसा लग रहा है कि देसी सोशल मीडिया कंपनी Koo पर पोस्ट करके इन कंपनियों को संदेश दिया जा रहा है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को Koo पर एक पोस्ट किया जिसमें सोशल मीडिया कंपनियों के लेकर बनाए गए नए नियमों पर सरकार का पक्ष रखा। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि नए नियम सिर्फ सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल रोकने के लिए ही बनाए गए हैं। 

सोशल मीडिया कंपनियों ने नए नियमों को लेकर प्रश्न उठाया था और कहा था कि इससे निजता खत्म होगी। Koo पर लिखे अपने पोस्ट में रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार पूरी तरह से निजता के अधिकार को समझती है और उसका सम्मान करती है, तथा WhatsApp के सामान्य उपयोगकर्ताओं को इन नियमों से डरने की भी जरूरत नहीं है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि नए नियमों का पूरा मकसद यह पता करना है कि असल में पहली बार विवादित मैसेज का पोस्ट किसने किया था जिसकी वजह से अपराध होते हैं। 

प्रसाद ने आगे कहा कि ऑफेंसिव मैसेज के पहले ओरिजिनेटर के बारे में जानकारी देना पहले से ही प्रचलन है। ये मैसेज भारत की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा, सार्वजनिक व्यवस्था, बलात्कार, बाल यौन शोषण से संबंधित अपराधों से संबंधित है। उन्होंने कहा कि नए नियम के तहत सोशल मीडिया कंपनियों को भारत में शिकायत निवारण अधिकारी, अनुपालन अधिकारी और नोडल अधिकारी स्थापित करने की आवश्यकता है जिससे सभी सोशल मीडिया यूजर्स को शिकायत निवारण के लिए एक मंच प्राप्त हो सके।

elections-2022