1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. विपक्षी सांसदों संग नाश्ते के बाद साइकिल पर सवार होकर संसद पहुंचे राहुल गांधी

विपक्षी सांसदों संग नाश्ते के बाद साइकिल पर सवार होकर संसद पहुंचे राहुल गांधी

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के न्योते पर पहुंचे विपक्षी दलों के साथ इस वक्त एकसाथ नाश्ता कर रहे हैं।

Vijai Laxmi Vijai Laxmi @vijai_laxmi
Updated on: August 03, 2021 15:06 IST

नई दिल्ली. विपक्षी सांसदों संग नाश्ते के बाद राहुल गांधी आज साइकिल पर सवार होकर संसद के मॉनसून सत्र में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे। राहुल गांधी का ये साइकिल मार्च ईंधन की बढ़ी हुई कीमतों के विरोध में था। राहुल गांधी के द्वारा निकाले गए इस साइकिल मार्च में विपक्ष के कई सांसद मौजूद थे। इससे पहले दिल्ली के constitutional club में राहुल गांधी संग नाश्ते के लिए 14 विपक्षी दलों के नेता पहुंचे लेकिन आम आदमी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के सांसद ने राहुल संग नाश्ते के लिए नहीं पहुंचे। राहुल गांधी ने नाश्ते से पहले सभी सांसदों से कहा, "मेरे विचार से सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि हमें अपने बल को एक करें। यह आवाज जितनी मजबूत होगी, भाजपा-आरएसएस के लिए इसे दबाना उतना ही मुश्किल होगा।"

राहुल गांधी संग नाश्ते के लिए विभिन्न दलों के 100 से ज्यादा सांसद पहुंचे, जिनमें कांग्रेस के अलावा, एनसीपी, टीएमसी, शिवसेना, राजद, सपा, सीपीआई, सीपीएम, मुस्लिम लीग, आरएसपी, केसीएम, जेएमएम, डीएमके, नेशनल कॉन्फ्रेंस, एलजेडी के सांसद शामिल हैं। बैठक में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, तृणमूल कांग्रेस के नेता कल्याण बनर्जी, शिवसेना के नेता संजय राउत, राजद के मनोज झा और कई अन्य दलों के नेता शामिल हुए।

कांग्रेस नेता ने विपक्षी नेताओं के साथ नाश्ते पर ऐसे समय बैठक की है जब पेगासस और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर पिछले कई दिनों से संसद के दोनों सदनों में गतिरोध बना हुआ है। 19 जुलाई से मॉनसून सत्र आरंभ हुआ था। लेकिन, अब तक दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित रही है। विपक्षी दलों का कहना है कि पेगासस जासूसी मुद्दे पर पहले चर्चा कराने के लिए सरकार के तैयार होने के बाद ही संसद में गतिरोध खत्म होगा। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने विपक्ष की मांग को खारिज करते हुए शुक्रवार को लोकसभा में कहा था कि यह कोई मुद्दा ही नहीं है। 

Click Mania