1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. न्यायपालिका को कमजोर करने के लिए 'गेम खेल रही है' सरकार: कांग्रेस

न्यायपालिका को कमजोर करने के लिए 'गेम खेल रही है' सरकार: कांग्रेस

सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीश पद के लिए जस्टिस केएम जोसेफ के नाम को मंजूरी नहीं दिए जाने को लेकर कांग्रेस ने आज सरकार पर फिर हमला बोला और आरोप लगाया कि सरकार 'न्यायपालिका को कमजोर करने के लिए गेम खेल रही है'।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 27, 2018 17:48 IST
Govt wants to appoint 'own people' in higher judiciary: Cong - India TV Hindi
Govt wants to appoint 'own people' in higher judiciary: Cong 

नयी दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीश पद के लिए जस्टिस केएम जोसेफ के नाम को मंजूरी नहीं दिए जाने को लेकर कांग्रेस ने आज सरकार पर फिर हमला बोला और आरोप लगाया कि सरकार 'न्यायपालिका को कमजोर करने के लिए गेम खेल रही है'। पार्टी प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने कहा कि कोलेजियम को न्यायमूर्ति जोसेफ के नाम की फिर से अनुशंसा करनी चाहिए और सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि वह इस मामले में नहीं झुकेगी। उन्होंने कहा, '' पहली बार देश में न्यायपालिका पर इस तरह का हमला किया गया है। अदालत के फैसले के आधार पर हमले हो रहे हैं। सरकार कह रही है कि अगर कोई फैसले सरकार के मन मुताबिक नहीं है तो संबंधित न्यायाधीश को पदोन्नति नहीं मिलेगी। '' 

उन्होंने कहा, ''जोसेफ को सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीश नियुक्त नहीं करना निंदनीय है। उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन के मामले में संविधान के मुताबिक फैसला देने की वजह से सरकार ने उनकी नियुक्ति से जुड़ी कोलेजियम की अनुशंसा को स्वीकार नहीं किया। सरकार उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन के मामले में आये फैसले को पचा नहीं पाई है।" 

उन्होंने आरोप लगाया कि यह सरकार हर संस्था में उन्ही लोगों की नियुक्ति कर रही है जो 'तुस्सी ग्रेट हो' बोलते हैं। सिंघवी ने कहा कि जस्टिस जोसेफ के नाम को स्वीकृति नहीं देने के लिए कानून मंत्री ने जो कारण दिए हैं, वो गलत हैं। गौरतलब है कि मार्च, 2016 में उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाया था। कुछ दिनों बाद ही जस्टिस जोसेफ की अध्यक्षता वाली हाईकोर्ट की पीठ ने इसे निरस्त कर दिया था। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment