ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. Chanakya Niti: हर मनुष्य को इन 2 बातों को जानना है जरूरी, तभी रहेगा खुश

Chanakya Niti: हर मनुष्य को इन 2 बातों को जानना है जरूरी, तभी रहेगा खुश

खुशहाल जिंदगी के लिए आचार्य चाणक्य ने कई नीतियां बताई हैं। अगर आप भी अपनी जिंदगी में सुख और शांति चाहते हैं तो चाणक्य के इन सुविचारों को अपने जीवन में जरूर उतारिए।

India TV Lifestyle Desk Written by: India TV Lifestyle Desk
Published on: December 02, 2021 6:22 IST
चाणक्य नीति - India TV Hindi
Image Source : INDIA TV चाणक्य नीति 

आचार्य चाणक्य की नीतियां और विचार भले ही आपको थोड़े कठोर लगे लेकिन ये कठोरता ही जीवन की सच्चाई है। हम लोग भागदौड़ भरी जिंदगी में इन विचारों को भले ही नजरअंदाज कर दें लेकिन ये वचन जीवन की हर कसौटी पर आपकी मदद करेंगे। आचार्य चाणक्य के इन्हीं विचारों में से आज हम एक और विचार का विश्लेषण करेंगे। आज के विचार में आचार्य चाणक्य ने ज्ञान और अर्थ के बारे में बताया है।

Chanakya Niti: अगर यहां पैसा खर्च करने में की कंजूसी तो बाद में हो सकता है पछतावा

'ज्ञान से शब्द समझ में आते हैं और अनुभव से अर्थ।' आचार्य चाणक्य 

आचार्य चाणक्य ने अपने इस कथन में ज्ञान और अनुभव के बारे में बताया है। आचार्य चाणक्य ने इस कथन में बताया है कि ज्ञान बहुत जरूरी होता है। बिना ज्ञान के मनुष्य अज्ञानता के उस कुएं में होता है जहां से बाहर निकलना हर किसी के लिए मुश्किल होता है। अज्ञानता रूपी अंधेरे में मनुष्य ना समाज में अपने आपको साबित कर पाता है और ना ही वो अपने पैरों पर बिना ज्ञान के सिर उठाकर चल सकता है। इसलिए किसी भी मनुष्य के लिए ज्ञान कितना जरूरी है आप इस बात का अंदाजा उपरोक्त शब्दों से लगा सकते हैं। 

अब बात करते हैं अनुभव की। आचार्य चाणक्य ने अपने इस कथन में अनुभव के बारे में बताया है। आचार्य चाणक्य का कहना है कि जीवन के अज्ञानता रूपी अंधकार को दूर करने के लिए जिस तरह से ज्ञान का प्रकाश जरूरी है। ठीक उसी तरह से जीवन को और भी अच्छी तरह से समझने के लिए अनुभव का होना भी जरूरी है। 

Chankya Niti: दुनिया में इन 4 चीजों से बढ़कर कुछ भी नहीं, सबसे ऊपर है इनका स्थान

अनुभव व्यक्ति को जीवन की उन सच्चाइयों के बारे में अवगत कराता है जो आपको तभी समझ में आएंगी जब आप उसे फेस करोगे। एक जीवन में मनुष्य कई रिश्ते निभाता है। यानी कि वो कई रिश्तों की डोर से बंधा होता है। ये डोर उसके जीवन की आधारशिला होती है। यानी कि इन रिश्तों के सहारे वो अपनी जिंदगी हंसी खुशी गुजार देता है। लेकिन इसी जीवन में मनुष्य को कई उतार चढ़ाव को भी फेस करना होता है। इन उतार चढ़ाव का सामना करना हर व्यक्ति के लिए जरूरी होता है। ये मनुष्य को ना केवल अंदर से मजबूत बनाता है बल्कि उसे जीवन के अनुभव के बारे में भी बताता है। 

 

uttar-pradesh-elections-2022
elections-2022