1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Lockdown: एयर इंडिया ने 30 अप्रैल तक के लिए घरेलू व अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की बुकिंग बंद की

Lockdown: एयर इंडिया ने 30 अप्रैल तक के लिए घरेलू व अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की बुकिंग बंद की

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया ने शुक्रवार को कहा कि उसने 30 अप्रैल तक टिकट की बुकिंग बंद कर दी है।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: April 04, 2020 8:05 IST
Air India, flight Ticket Booking- India TV Paisa

Air India stops bookings for domestic and international flights till April 30

नयी दिल्ली। सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया ने शुक्रवार को कहा कि उसने 30 अप्रैल तक टिकट की बुकिंग बंद कर दी है। कंपनी ने कहा कि वह 14 अप्रैल को लॉकडाउन की समाप्त हो रही अवधि के बाद निर्देश का इंतजार कर रही है। कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा कि अब बुकिंग शुक्रवार से 30 अप्रैल तक बंद कर दी गयी है। उसने कहा, ‘‘हम 14 अप्रैल के बाद के निर्देश का इंतजार कर रहे हैं।’’

नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने हालांकि, गुरुवार को कहा था कि विमानन कंपनियां 14 अप्रैल के बाद की तारीख के लिये टिकट बुकिंग शुरू करने के लिये स्वतंत्र हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण पर रोकथाम के लिये 25 मार्च से 21 दिनों के लॉकडाउन (बंद) की घोषणा की है। लॉकडाउन 14 अप्रैल को समाप्त होने वाला है। इसके मद्देनजर 14 अप्रैल तक एयर इंडिया की घरेलू व अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित हैं। 

वहीं, 14 अप्रैल के बाद ट्रेन के चलाए जाने की संभावना है। लेकिन कोरोना वायरस के डर के कारण रेल टिकट की बुकिंग 20 फीसदी से ऊपर नहीं हो रही है। यह स्थिति आगामी 30 अप्रैल तक बनी हुई है। भारत सहित विश्व में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए यात्री ट्रेन के रद्द रखने की अवधि बढ़ाए जाने की पूरी संभावना है। रेल मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार आगामी 15 अप्रैल की ई-टिकट की बुकिंग लगभग दो लाख हुई है। इसके बाद आगामी 30 अप्रैल तक यह आंकड़ा दो लाख तक नहीं पहुंच सका है। 21 व 22 अप्रैल को एक लाख 10 हजार के बीच ही टिकट की बुकिंग हुई है।

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि 31 मार्च तक जनता कर्फ्यू की घोषणा होने पर लोगों ने टिकट बुकिंग की, लेकिन बाद में 21 दिन का लॉकडाउन होने के बाद 80 फीसदी लोगों ने टिकट रद्द कराने शुरू कर दिए। उन्होंने बताया कि देश मे कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है, इस कारण आम लोग एडवांस रेल टिकट बुक कराने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। 

2,000 करोड़ रुपए का घाटा

पहले प्रतिदिन ऑनलाइन और काउंटर से औतसन 16 लाख ट्रेन टिकट की बुकिंग होती थी। लेकिन यह संख्या अब घटकर दो लाख से कम हो गई है। इससे रेलवे को लगभग दो हजार करोड़ रुपये से अधिक का घाटा हुआ है। देशव्यापी लॉकडाउन के तहत 13,524 यात्री ट्रेन को 14 अप्रैल तक बंद किया गया है।

Write a comment
X