1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. या खुदा पाकिस्‍तान को बचा! इमरान सरकार की शह पर चीनी कंपनी ने शुरू किया गैर-इस्‍लामिक काम

या खुदा पाकिस्‍तान को बचा! इमरान सरकार की शह पर चीनी कंपनी ने शुरू किया गैर-इस्‍लामिक काम

पाकिस्तान में मुस्लिमों को छोड़कर बाकी नागरिकों को परमिट के साथ शराब खरीदने की अनुमति है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: March 31, 2021 14:18 IST
Allah save pakistan Chinese company starts non Islamic work under Imran government- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Allah save pakistan Chinese company starts non Islamic work under Imran government

इस्‍लामाबाद। चीन की एक शराब कंपनी ने पाकिस्‍तान के बलोचिस्‍तान प्रांत में अपने प्‍लांट में बीयर का उत्‍पादन आधिकारिक तौर पर शुरू कर दिया है। इसे 2018 में बीयर बनाने के लिए लाइसेंस मिला था। उल्‍लेखनीय है कि पाकिस्‍तान आधिकारिक रूप से एक ड्राई कंट्री है और यहां मुस्लिम नागरिकों को शराब पीने और खरीदने पर प्रतिबंध है। चीन की यह पहली शराब कंपनी है, जिसने इस्‍लामिक देश में अपना प्रोडक्‍शन प्‍लांट शुरू किया है।

पाकिस्‍तान है एक ड्राई कंट्री

1947 में गठन के बाद पाकिस्‍तान में शराब कानून काफी लचीला था। यहां के प्रमुख शहरों में शराब पीने का चलन था और 1970 के मध्‍य तक यहां शराब खुलेतौर पर बेची जाती थी। 1970 में भुट्टो सरकार ने मुस्लिम नागरिकों के लिए शराब पर प्रतिबंध लगा दिया। तब से पाकिस्‍तान की अधिकांश मुस्लिम जनता कानूनी रूप से शराब नहीं खरीद सकती है। पाकिस्‍तान में मुस्लिमों को छोड़कर बाकी नागरिकों को परमिट के साथ शराब खरीदने की अनुमति है।

चीनी नागरिकों को बेची जाएगी बीयर  

हुई कोस्‍टल ब्रेवरी एंड डिस्‍टलरी लिमिटेड (Hui Coastal Brewery and Distillery Limited) ने बलोचिस्‍तान के औद्योगिक शहर हब में अपने प्‍लांट में शराब का उत्‍पादन शुरू कर दिया है। कंपनी ने कहा है कि वह इस प्‍लांट में बनने वाली बीयर को पूरे पाकिस्‍तान में विभिन्‍न परियोजनाओं में काम कर रहे चीनी नागरिकों को बेचा जाएगा।  

कंपनी ने लिकर प्‍लांट का काम पूरा होने के बाद सिक्‍यूरिटीज एंड एक्‍सचेंज कमीशन ऑफ पाकिस्‍तान के साथ अपने आप को 30 अप्रैल, 2020 को पंजीकृत करवाया है। एक्‍साइज एंड टैक्‍सेशन साउथ के डायरेक्‍टर जनरल मोहम्‍मद जमान खान ने कहा कि कंपनी ने पिछले हफ्ते बीयर उत्‍पादन शुरू किया है, जिसे चीन-पाकिस्‍तान इकोनॉमिक कॉरीडोर और बलोचिस्‍तार में माइंस एंड मिनरल्‍स प्रोजेक्‍ट्स में काम कर रहे लाखों चीनी नागरिकों को बेचा जाएगा।

इमरान सरकार ने दिया लाइसेंस

चीन की इस शराब कंपनी को 2018 में लाइसेंस दिया गया। उसने 2017 में इसके लिए आवेदन किया था। कंपनी ने इस लाइसेंस के लिए वादा किया है कि वह चीन में बनने वाली बीयर और शराब को पाकिस्‍तान में नहीं बेचेगी। चीन में शराब निर्माण का बहुत अधिक अनुभव के साथ यह पहली चीनी कंपनी है, जिसने पाकिस्‍तान में अपना शराब कारखाना लगाया है। यह कंपनी दुनिया के लोकप्रिय ब्रांड्स को बनाने के लिए जानी जाती है और यह पाकिस्‍तान में भी अपने दो लोकप्रिय ब्रांड्स को पेश करेगी। प्रांत के तटीय जिले लासबेला में स्थित प्‍लांट में विनिर्माण, पैकेजिंग से जुड़े सभी काम किए जाएंगे।  

30 लाख रुपये का किया न‍िवेश

सूत्रों ने बताया कि चीन की शराब कंपनी ने हब में पांच एकड़ जमीन पर मॉडर्न लिकर प्‍लांट लगाने पर 30 लाख रुपये का निवेश किया है। कंपनी ने कहा है कि वह पाकिस्‍तान में काम कर रहे चीनी नागरिकों की जरूरत को पूरा करने के लिए यहां बीयर का निर्माण करेगी। पाकिस्‍तान में महत्‍वाकांक्षी चीन-पाकिस्‍तान आर्थिक गलियारे समेत कई विकास परियोजनाओं में हजारों चीनी श्रमिक और इंजीनियर्स काम कर रहे हैं।

एक अप्रैल से SBI देशभर में अपनी 29 शाखाओं के जरिये करेगी ये काम, मोदी सरकार ने दी मंजूरी

बिल व अन्‍य सेवाओं के ऑटोमैटिक पेमेंट के लिए 1 अप्रैल से लागू होंगे नए नियम...

एक अप्रैल से बीयर पीना होगा सस्‍ता, घर पर शराब रखने के लिए लेना होगा लाइसेंस

पाकिस्‍तान ने टेके भारत के आगे घुटने, खुद प्रधानमंत्री ने लगाई ये गुहार

नया नियम: अपने अकाउंट से पैसा निकालने पर देना होगा इतना टैक्‍स

Write a comment
X