Monday, February 26, 2024
Advertisement

'रिजॉर्ट में विधायक' और वसुंधरा की नड्डा से मुलाकात, दिलचस्प होती जा रही है राजस्थान की सियासत

राजस्थान की सियासत में गुरुवार का दिन काफी मायनों में दिलचस्प रहा है। माना जा रहा है कि वसुंधरा राजे और भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के बीच सीएम पद को लेकर ठनी हुई है। इस बीच वसुंधरा राजे की भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात भी हुई है।

Subhash Kumar Written By: Subhash Kumar @ImSubhashojha
Updated on: December 08, 2023 6:16 IST
राजस्थान में सियासत तेज।- India TV Hindi
Image Source : PTI राजस्थान में सियासत तेज।

नई दिल्ली/जयपुर। राजस्थान में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद अब मुख्यमंत्री पद को लेकर जारी खींचतान और दिलचस्प हो गई है। भाजपा ने राजस्थान में कांग्रेस को सत्ता से बेदखल कर के पूर्ण बहुमत हासिल किया था। हालांकि, पार्टी ने अब तक सीएम के पद पर कोई भी फैसला नहीं लिया है। माना जा रहा है कि राज्य की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के बीच सीएम पद को लेकर ठन गई है। आइए जानते हैं कि गुरुवार को राजस्थान की सियासत में क्या-क्या देखने को मिला है। 

वसुंधरा पर विधायकों की गोलबंदी का आरोप

राजस्थान में भाजपा के पांच विधायकों के मंगलवार को जयपुर के एक रिसॉर्ट में एक साथ ठहरने से गोलबंदी की अटकलें लगाई जा रही हैं। पांच भाजपा विधायक मंगलवार रात सीकर रोड स्थित एक रिसॉर्ट में ठहरे थे। हालांकि, विधायकों में शामिल ललित मीणा ने अपने पिता हेमराज मीणा को फोन कर दिया। इसके बाद विधायक के पिता द्वारा जयपुर स्थित पार्टी कार्यालय को सूचित किया गया और बुधवार की सुबह विधायक ललित मीणा को वहां से लाया गया। ललित मीणा ने वसुंधरा के बेटे दुष्यंत सिंह पर गोलबंदी की कोशिश का आरोप लगाया है। राजस्थान से लेकर दिल्ली तक इस गोलबंदी के आरोप की चर्चा होने लगी है। हालांकि, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी ने इस तरह की किसी भी संभावना को खारिज किया है। 

पीएम मोदी के लिए वसुंधरा का ट्वीट

राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के लिए चल रही खींचतान के बीच वसुंधरा राजे ने पार्टी आलाकमान को अपनी तरफ से सहयोग का संकेत दिया था। उन्होंने राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा की जीत का श्रेय पीएम मोदी को दिया था। उन्होंने पीएम मोदी के लिए भी ट्वीट किया था और लिखा था कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा की प्रचंड विजय इस बात का प्रतीक है कि कि मोदी जी की गारंटी के आगे कांग्रेस के झूठे वादे और दावे नहीं चले। 

कमजोर पड़ने लगीं वसुंधरा?

सूत्र बताते हैं कि वसुंधरा राजे की हालत पिछले 24 घंटे में काफी कमजोर हो गई है। करीब 17 घंटे से वसुंधरा राजे दिल्ली में थीं और लगातार बीजेपी के टॉप लीडर्स से मिलने का वक्त मांग रही थीं। हालांकि, ना तो जेपी नड्डा और ना ही दूसरे बड़े नेताओं ने उन्हें मिलने का समय दिया था। पहले कहा गया कि दोपहर 3 बजे मुलाकात होगी, फिर कहा गया कि शाम 5 बजे, इसके बाद शाम 7 बजे मिलने की खबर आई। तब जाकर भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने वसुंधरा को मिलने का समय दिया। 

जेपी नड्डा से वसुंधरा की मुलाकात

काफी लंबे इंतजार के बाद वसुंधरा राजे की मुलाकात जेपी नड्डा से हो पाई। राजे के साथ उनके बेटे दुष्यंत भी पहुंचे थे जिनपर विधायकों की गोलबंदी का आरोप लगा है। नड्डा के आवास पर दोनों नेताओं की मुलाकात लगभग डेढ़ घंटे तक चली। जानकारी के मुताबिक, वसुंधरा राजे ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से उनके आवास पर मुलाकात कर अपना पक्ष रखा है।

ये भी पढ़ें- CM पर सस्पेंस बरकरार! जेपी नड्डा से मिलकर निकलीं वसुंधरा राजे, बेटे दुष्यंत भी थे साथ

ये भी पढ़ें- इधर राज्यों में BJP के CMs को लेकर नहीं हुआ फैसला, उधर केंद्र में कई सांसदों को मिला नया मंत्रालय

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें राजस्थान सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement