1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. केरल रणजी टीम के कोच ने कहा, 'श्रीसंत के लिए वापसी के दरवाजे खुले हैं'

केरल रणजी टीम के कोच ने कहा, 'श्रीसंत के लिए वापसी के दरवाजे खुले हैं'

 केरल क्रिकेट संघ (केसीए) श्रीसंत पर प्रतिबंध खत्म होने से खुश है और संघ का कहना है कि आगामी घरेलू क्रिकेट सीजन में खेलने के लिए श्रीसंत को अपनी फॉर्म और फिटनेस साबित करनी होगी।

IANS IANS
Published on: September 14, 2020 19:07 IST
bcci, domestic cricket, kerala cricket association, ranji trophy, S Sreesanth, Tinu Yohanan- India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGES S Sreesanth

भारतीय तेज गेंदबाज शांताकुमार श्रीसंत पर 2013 में बीसीसीआई द्वारा तथाकथित आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में लगाया गया आजीवन प्रतिबंध अब समाप्त हो गया है और केरल का यह तेज गेंदबाज अब फिर से क्रिकेट मैदान पर वापसी करना चाहता है। केरल क्रिकेट संघ (केसीए) श्रीसंत पर प्रतिबंध खत्म होने से खुश है और संघ का कहना है कि आगामी घरेलू क्रिकेट सीजन में खेलने के लिए श्रीसंत को अपनी फॉर्म और फिटनेस साबित करनी होगी।

केरल रणजी टीम के कोच टीनू योहानन ने क्रिकइंफो से कहा, " श्रीसंत ने कड़ी मेहनत करके और खुद को फिट रखते हुए फिर से खेलने की इच्छा जाहिर की है।"

यह भी पढ़े- दूसरे वनडे में इंग्लैंड के हाथों ऑस्ट्रेलिया को मिली हार से निराश हैं शेन वार्न

उन्होंने कहा, "हम उनके साथ संपर्क में हैं। हम उनके नाम पर विचार करेंगे, लेकिन यह उनके फॉर्म और फिटनेस पर निर्भर करेगा। लेकिन उनके लिए दरवाजे खुले हैं।"

बीसीसीआई ने 2013 में आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। 2015 में हालांकि दिल्ली की एक विशेष अदालत ने उन पर लगे सभी आरोपों से उन्हें बरी कर दिया था।

वर्ष 2018 में केरल उच्च न्यायालय ने बीसीसीआई द्वारा उन पर लगाए गए आजीवन प्रतिबंध को खत्म कर दिया था और उसके खिलाफ सभी कार्यवाही को भी रद्द कर दिया था। हालांकि, उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने प्रतिबंध की सजा को बरकरार रखा था।

श्रीसंत ने इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल मार्च में उनके अपराध को बरकरार रखा था, लेकिन बीसीसीआई को उनकी सजा कम करने निर्देश दिया था और भारतीय बोर्ड ने उनकी आजीवन प्रतिबंध की सजा को घटाकर सात साल कर दिया था, जोकि पिछले महीने अगस्त में समाप्त हो गया है।

यह भी पढ़ें- IPL 2020 : मुंबई इंडियंस के लिए ख़िताब बचाने में कमजोर कड़ी साबित हो सकती है 'स्पिन गेंदबाजी'

जून में लॉकडाउन के हटने के बाद से श्रीसंत केरल की अंडर 23 टीम के कुछ खिलाड़ियों और कई सीनियर क्रिकेटरों के साथ एर्नाकुलम में केसीए सुविधा सेंटर में ट्रेनिंग कर रहे है।

श्रीसंत ने हाल में अपने ट्विटर पर कहा था, " मैं हर तरह के आरोपों से और अन्य चीजों से अब आजाद हूं और जिस खेल को सबसे ज्यादा पसंद करता हूं उसके लिए तैयार हूं। जितनी भी गेंद मैं डालूंगा, हर किसी में अपनी पूरी जान लगा दूंगा, फिर चाहे वो अभ्याय में ही क्यों न हो। मेरे पास ज्यादा से ज्यादा पांच-सात साल हैं, इस खेल में अपना सबकुछ देने के लिए और मैं जिस भी टीम से खेलूंगा उसके लिए अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगा।"

37 वर्षीय श्रीसंत ने भारत के लिए अब तक 27 टेस्ट, 53 वनडे और 10 टी 20 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने क्रमश : 87, 75 और सात विकेट झटके हैं।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X