1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अन्य देश
  5. न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य मंत्री क्लार्क ने इस्तीफा देकर चुकाई लॉकडाउन के नियम तोड़ने की कीमत!

न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य मंत्री डेविड क्लार्क ने निजी गलतियों के चलते पद से इस्तीफा दिया

डेविड क्लार्क ने देश के लॉकडाउन संबंधी नियमों को तोड़ने के लिए खुद को ‘बेवकूफ’ बताया था और इसके बाद बीते सप्ताह उन्होंने सीमा पर हुई गलतियों के लिए देश के एक लोकप्रिय स्वास्थ्य अधिकारी को जिम्मेदार ठहराया था।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 02, 2020 15:11 IST
David Clark resigns, New Zealand health minister resigns, Ashley Bloomfield, Jacinda Ardern- India TV Hindi
Image Source : AP New Zealand health minister David Clark resigns over Covid-19 lapse.

वेलिंगटन: न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारियों के दौरान अपनी निजी गलतियों के कारण गुरुवार को इस्तीफा दे दिया। डेविड क्लार्क ने देश के लॉकडाउन संबंधी नियमों को तोड़ने के लिए खुद को ‘बेवकूफ’ बताया था और इसके बाद बीते सप्ताह उन्होंने सीमा पर हुई गलतियों के लिए देश के एक लोकप्रिय स्वास्थ्य अधिकारी को जिम्मेदार ठहराया था। इसके बाद जनता ने उनके खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया था। अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए क्लार्क ने कहा कि उन्होंने पूरी लगन से अपना काम किया।

क्लार्क के बयानों से उड़ा उनका मजाक

डेविड क्लार्क ने कहा, ‘लेकिन यह मुझे स्पष्ट होने लगा है कि इस पद पर बने रहने से सरकार का कोविड-19 से निपटने में ध्यान भंग हो रहा है।’ न्यूजीलैंड की कोरोना वायरस को समुदायों के बीच फैलने से रोकने में कामयाबी के लिए दुनियाभर में तारीफ की गई लेकिन क्लार्क ने अपने कुछ बयानों से अपना उपहास बनाया। उन्होंने गत सप्ताह देश लौटने वाले कुछ लोगों को बिना जांच किए जाने देने के लिए स्वास्थ्य महानिदेशक एश्ले ब्लूमफील्ड को जिम्मेदार ठहराया। क्लार्क जब बोल रहे थे तो ब्लूमफील्ड उनके पीछे ही खड़े थे और वह इस आलोचना से एकदम हैरान रह गए और इधर-उधर देखने लगे।

लॉकडाउन तोड़कर सैर पर गए थे क्लार्क
इस वीडियो को लाखों बार देखा गया। ब्लूमफील्ड देश के विश्वसनीय चिकित्सा विशेषज्ञ रहे हैं। क्लार्क के बयान से कई लोग नाराज हो गए और ट्विटर पर ब्लूमफील्ड के लिए फूल खरीदने का अभियान चल पड़ा। वहीं, अप्रैल में क्लार्क देश के लॉकडाउन संबंधी सख्त नियमों का उल्लंघन करते हुए 19 किलोमीटर का सफर तय कर समुद्र तट तक गए और अपने परिवार के साथ वहां सैर की। उन्होंने ऐसा तब किया जब सरकार लोगों से घरों पर रहने की अपील कर रही थी। क्लार्क ने उस समय कहा, ‘मैं मूर्ख हूं और मैं समझता हूं कि क्यों लोग मुझसे नाराज होंगे।’

PM ने कही थी क्लार्क को बर्खास्त करने की बात
प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने उस समय कहा था कि वह क्लार्क को बर्खास्त कर देतीं लेकिन जब देश कोरोना वायरस से लड़ रहा है तो ऐसे समय में उसके स्वास्थ्य क्षेत्र में बड़ी बाधा पैदा नहीं की जा सकती। अर्डर्न ने गुरुवार को कहा कि वह क्लार्क का इस्तीफा मंजूर करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने एक बयान में कहा, ‘यह जरूरी है कि हमारे स्वास्थ्य नेतृत्व के पास न्यूजीलैंड की जनता का भरोसा हो।’ अर्डर्न ने शिक्षा मंत्री क्रिस हिप्किंस को अस्थाई तौर पर स्वास्थ्य मंत्री का कार्यभार सौंपा है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X