1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. बॉर्डर पर भारतीय की हत्या करने के बाद नेपाल पुलिस ने दिया बड़ा बयान

बॉर्डर पर नेपाल की पुलिस ने भारतीय की गोली मारकर हत्या की, कहा- जाली नोटों का तस्कर था

नेपाल पुलिस को खुफिया सूचना मिली थी कि जाली मुद्रा छापने की मशीन और मादक द्रव्यों को तस्करी कर नेपाल लाया जाएगा जिसके बाद 5 सदस्यीय टीम को नेपाल-भारत सीमा पर तैनात किया गया था।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 05, 2021 23:45 IST
Nepal Police kill Indian, Nepal Police, Nepal Police Indo-Nepal border, Indo-Nepal border- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY REPRESENTATIONAL नेपाल पुलिस ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि मारे गए व्यक्ति की पहचान उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के रहने वाले गोविंदा सिंह (20) के तौर पर हुई है।

काठमांडू: भारत-नेपाल बॉर्डर पर कथित तौर पर मादक पदार्थ की तस्करी और जाली मुद्रा के कारोबार में शामिल 4 भारतीयों के एक समूह के साथ मुठभेड़ के दौरान हुई गोलीबारी में नेपाली पुलिस ने एक भारतीय नागरिक को मार दिया। नेपाल पुलिस ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि मारे गए व्यक्ति की पहचान उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के रहने वाले गोविंदा सिंह (20) के तौर पर हुई है। नेपाल पुलिस को खुफिया सूचना मिली थी कि जाली मुद्रा छापने की मशीन और मादक द्रव्यों को तस्करी कर नेपाल लाया जाएगा जिसके बाद पुलिस की 5 सदस्यीय टीम को नेपाल-भारत सीमा पर तैनात किया गया था।

‘अस्पताल में इलाज के दौरान हुई मौत’

पुलिस उपाधीक्षक (DSP) अमर बहादुर थापा ने कहा, ‘तस्करों ने गश्ती दल को देखते ही उन पर गोलीबारी शुरू कर दी।’ उन्होंने कहा कि गुरुवार रात को पश्चिमी नेपाल के कंचनपुर जिले के बेलौरी नगरपालिका-8 में पुलिस ने जैसे ही उनके सामान का निरीक्षण शुरू किया गिरोह ने अचानक उनपर गोलियां चलानी शुरू कर दी। बयान में कहा गया कि नेपाल पुलिस के कांस्टेबल बीर बहादुर सऊद ने अपनी पिस्तौल से इसके बाद फायरिंग की जिसमें सिंह को गोली लगी। सिंह के सीने में गोली लगी थी और बेलौरी के ईशान मेमोरियल अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। डीएसपी थापा ने कहा, ‘पोस्टमार्टम के बाद उसका शव परिजनों को सौंपा जाएगा।’

‘मेले में शामिल होने गए थे भारतीय नागरिक’
इस बीच, पीलीभीत में पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि भारतीय नागरिक 2 अन्य लोगों के साथ नेपाल के कंचनपुर में एक मेले में शामिल होने गया था। पीलीभीत के पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश यादव के मुताबिक, गोविंदा सिंह, गुरमीत सिंह और पप्पु सिंह गुरुवार की शाम को कंचनपुर के बेलौरी बाजार में मेले में गए थे। ये तीनों ही पीलीभीत जिले के भूमिदान राघवपुरी टिला चार गांव के निवासी हैं। यादव ने कहा कि नेपाल पुलिस ने बहस के बाद उन पर गोली चलाई। नेपाल पुलिस ने कहा कि भारतीय नागरिकों का समूह मादक द्रव्यों और जाली मुद्रा की तस्करी में शामिल था। सिंह के साथ मौजूद 3 अन्य भारतीय नागरिक फरार हैं।

‘मामले की आगे जांच की जा रही है’
नेपाल पुलिस ने कहा कि इस मामले में आगे की जांच जारी है। गोलीबारी के बाद पुलिस ने मौके से जाली मुद्रा छापने की दो मशीनें, नोट छापने में इस्तेमाल होने वाला कागज, 65 ग्राम ब्राउन शुगर, 25 ग्राम अन्य मादक द्रव्य बरामद किया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X