1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. कंगाल पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने भारत को बताई आर्थिक लाभ लेने की तरकीब

इमरान खान ने कहा, पाकिस्तान के साथ शांति मध्य एशिया में भारत को सीधी पहुंच देगा

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था की हालत दिन-ब-दिन बदतर होती जा रही है और प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के आर्थिक हितों की चिंता में लगे हुए हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 17, 2021 17:46 IST
Pakistan, Pakistan Imran Khan, Pakistan Central Asia India, Pakistan India Relations- India TV Hindi
Image Source : MEA FILE PHOTO पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था की हालत दिन-ब-दिन बदतर होती जा रही है और प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के आर्थिक हितों की चिंता में लगे हुए हैं।

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था की हालत दिन-ब-दिन बदतर होती जा रही है और प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के आर्थिक हितों की चिंता में लगे हुए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को कहा कि उनके मुल्क के साथ शांति रखने पर भारत को इसका आर्थिक लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के साथ शांति स्थापित होने की दशा में भारत को पाकिस्तानी भू-भाग के रास्ते संसाधन बहुल मध्य एशिया में सीधे पहुंचने में मदद मिलेगी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जब तक भारत पहला कदम नहीं उठा लेता, हम कुछ नहीं कर सकते हैं।

‘भारत को पहला कदम उठाना होगा’

खान ने दो दिवसीय इस्लामाबाद सुरक्षा वार्ता के उदघाटन भाषण में कहा कि उनकी सरकार ने 2018 में सत्ता में आने के बाद भारत के साथ बेहतर संबंधों के लिए हर चीज की है और अब भारत की बारी है। उन्होंने कहा, ‘भारत को पहला कदम उठाना होगा। वे जब तक ऐसा नहीं करेंगे, हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं।’ गौरतलब है कि भारत ने पिछले महीने कहा था कि वह पाकिस्तान के साथ आतंक, बैर और हिंसा मुक्त माहौल के साथ सामान्य पड़ोसी संबंध की आकांक्षा करता है। भारत ने कहा था कि इसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है कि वह आतंकवाद और शत्रुता मुक्त माहौल तैयार करे।

‘भारत के साथ केवल कश्मीर का विवाद’
बता दें कि पाकिस्तान की खस्ताहाल होती अर्थव्यवस्था के बीच इमरान लगातार भारत के साथ शांति की बात कर रहे हैं, लेकिन आतंकी संगठनों पर उन्होंने अभी भी संतोषजनक कार्रवाई नहीं की है। पिछले महीने श्रीलंका के दौरे पर जाकर भी इमरान ने भारत के साथ शांति की बात की थी। वहां उन्होंने कहा था कि भारत के साथ केवल कश्मीर का ‘विवाद’ है और इसे वार्ता के जरिए सुलझाया जा सकता है। वहीं, भारत ने कहा था कि वह आतंक, हिंसा और अस्थिरता मुक्त माहौल में पाकिस्तान के साथ रिश्ते सामान्य बनाना चाहता है और ऐसा माहौल तैयार करना पाकिस्तान की जिम्मेदारी है।

Click Mania
bigg boss 15