Friday, May 24, 2024
Advertisement

Russia Ukraine News : कीव पर रूस कर सकता है मिसाइल अटैक, अलर्ट जारी, लोगों से सुरक्षित जगहों पर जाने की अपील

जल्द से जल्द सुरक्षित स्थानों पर जाने का अनुरोध किया गय़ा। रूस एक बार फिर मिसाइलों से कर सकता है हमला।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 09, 2022 11:52 IST
Shelling in Kyiv, UKraine- India TV Hindi
Image Source : AP Shelling in Kyiv, UKraine

Highlights

  • रूसी सेना ने यूक्रेन के कई शहरों को घेर रखा है
  • यूक्रेन के परमाणु संयंत्र पर भी रूसी सेना का कब्जा

लवीव (यूक्रेन): युद्धग्रस्त यूक्रेन की राजधानी कीव और उसके आसपास बुधवार की सुबह एक हवाई अलर्ट घोषित किया गया और निवासियों से जल्द से जल्द सुरक्षित स्थानों में जाने का अनुरोध किया गया। क्षेत्रीय प्रशासन के प्रमुख ओलेक्सी कुलेबा ने टेलीग्राम पर कहा, ‘‘कीव क्षेत्र - हवाई अलर्ट। मिसाइल हमले का खतरा है। सभी लोग तुरंत सुरक्षित स्थानों पर चले जाएं।’’ 

यूक्रेन पर हमला करने के करीब दो हफ्ते बाद रूसी सेना ने देश की तटरेखा पर बढ़त हासिल कर ली है। अजोव सागर पर स्थित मारियुपोल को रूसी सैनिकों ने कई दिनों से घेर रखा है और 4,30,000 लोगों की आबादी वाले इस शहर में मानवीय संकट बढ़ रहा है। कई दिनों से रूसी सेना ने यूक्रेन के शहरों को घेर रखा है और नागरिकों को सुरक्षित निकालने के लिए मानवीय गलियारे बनाने की कोशिशें विफल हो गयी हैं। ऐसी जानकारी है कि दो हफ्तों से चल रही इस लड़ाई में देश भर में हजारों लोगों की मौत हो गयी है जिसमें सैन्य और असैन्य नागरिक शामिल हैं।

न्यूक्लियर प्लांट के कर्मचारियों को भाषण रिकॉर्ड करने के लिए विवश किया गया : यूक्रेन

यूक्रेन के ऊर्जा मंत्री ने कहा कि यूक्रेन के एक परमाणु संयंत्र पर कब्जा कर चुकी रूसी सेना पूरी तरह थक चुके कर्मचारियों को एक संबोधन रिकॉर्ड करने के लिए विवश कर रही है, जिसका वह दुष्प्रचार के लिए इस्तेमाल करना चाहती है। रूसी सेना ने शुक्रवार को यूरोप के सबसे बड़े जापोरिजिया परमाणु संयंत्र पर हमला कर उसे कब्जे में ले लिया था। हमले के दौरान परिसर की एक इमारत में आग लग गयी थी और एक परमाणु आपदा का खतरा पैदा हो गया था। बाद में बताया गया कि संयंत्र से किसी रेडियोधर्मी पदार्थ का रिसाव नहीं हुआ है। 

ऊर्जा मंत्री हर्मन हालुश्चेंको ने फेसबुक पर कहा कि करीब 500 रूसी सैनिक और 50 भारी हथियार संयंत्र के अंदर हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेनी कर्मचारी ‘‘शारीरिक और मानसिक रूप से थक चुके हैं।’’ रूस ने युद्ध को ‘‘विशेष सैन्य अभियान’’ बताया और कहा कि वह लक्षित हमले कर रहा है। हालुश्चेंको का दुष्प्रचार का संदर्भ देना ऐसा प्रतीत हो रहा है कि वह बताना चाहते हैं कि रूसी सेना यह दिखाने की कोशिश कर ही है कि वह यूक्रेन के नागरिकों या बुनियादी ढांचों को खतरे में नहीं डाल रही है। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement