Bihar News: बिहार में गोलियों की बहार है, पटना में अवैध बालू खनन को लेकर मचे घमासान में 4 की मौत

बिहार में जब से नीतीश कुमार ने आरजेडी के साथ मिलकर सरकार बनाई है, विपक्ष हल्ला मचा रहा है कि अब राज्य में फिर से जंगलराज कायम हो गया है। दरअसल, नई सरकार बनने के बाद जिस तरह से कई आपराधिक घटनाएं हुई हैं उसने पुराने जंगलराज की याद को ताजा कर दी हैं।

Reported By : Nitish Chandra Edited By : Sushmit Sinha Updated on: September 30, 2022 6:11 IST
Bihar News- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Bihar News

Highlights

  • बिहार में गोलियों की बहार है
  • पटना में अवैध बालू खनन को लेकर मचा घमासान
  • शवों की तलाश में जुटी पुलिस

बिहार में जब से नीतीश कुमार ने आरजेडी के साथ मिलकर सरकार बनाई है, विपक्ष हल्ला मचा रहा है कि अब राज्य में फिर से जंगलराज कायम हो गया है। हालांकि, विपक्ष की बात को हल्के में भी नहीं लिया जा सकता, क्योंकि नई सरकार बनने के बाद जिस तरह से कई आपराधिक घटनाएं हुई हैं उसने पुराने जंगलाराज की याद तो ताजा कर ही दी है। बिहार में एक तरफ जहां इन्वेस्टर्स मीट में सीएम नीतीश कुमार और DGP क्राइम कंट्रोल के दावे कर रहे थे, उसी बीच पटना के बिहटा में गोलीबारी की खबर आ गई। वो भी एक दो गोलियां चलने की नहीं, बल्कि इतनी गोलियां कि उसका खोखा बीनने वाला अमीर हो जाए।  

दरअसल, पटना के बिहटा में बालू घाट पर वर्चस्व को लेकर दो गुटों में खूनी संघर्ष मच गया इसमें अब तक 4 लोगों की मौत हो गई। हालांकि, अभी तक सभी शव बरामद नहीं हुए हैं। बिहार में एक तरफ जहां एनजीटी की तरफ से बालू के खनन पर रोक लगी हुई है तो दूसरी ओर बालू के अवैध खनन को लेकर आए दिन यहां हत्या और अपराध की घटनाएं सामने आ रही हैं। एक बार फिर बालू के अवैध खनन को लेकर दो गुटों में जमकर गोलीबारी हुई, जिसमें चार लोगों की मौत की पुष्टि पुलिस ने की है। जबकि कई लोगों के गोलीबारी में घायल होने की सूचना भी मिली है।

शवों की तलाश में जुटी पुलिस

पूरी घटना पटना जिले के बिहटा थानाक्षेत्र के अमनाबाद सोन नदी बालू घाट की बताई जा रही है। अमनाबाद बालू घाट पर बालू के अवैध खनन को लेकर दो गुटों में वर्चस्व को लेकर गोलीबारी की घटना आये दिन होती रहती है। फिलहाल घटना की सूचना मिलने के बाद आसपास के थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव की तलाश में जुट गई है। मृतकों की पहचान पटना जिले के मनेर थानाक्षेत्र के शत्रुघ्न, हरेंद्र और लालदेव के रूप में हुई है। जबकि चौथे मृत मजदूर की पहचान भोजपुर जिला के चांदी थाना क्षेत्र निवासी विमलेश कुमार सिंह उर्फ गोरेलाल के रूप में हुई है।

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि गुरुवार की अहले सुबह दोनो गूटों में गोलीबारी हुई, जिसमें अब तक चार लोगों की मौत की पुष्टि पुलिस ने की है। इधर घटना को लेकर कई थानों की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची है और मृतक के शव की तलाश में सोन नदी में नाव के जरिए तलाश कर रही है। बिहटा थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष शिवेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि अब तक चार लोगों की मौत की सूचना है, जिसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची है। हालांकि, अभी और शवों की खोजबीन के लिए सोन नदी में भी तलाशी अभियान जारी है। घटनास्थल के पास से काफी संख्या में खोखे बरामद हुए हैं।

SSP ने कही ये बात

पटना के एसएसपी ने एक प्रेस विज्ञप्ति के जरिये बिहटा में हुई गोलीबारी की घटना के बारे में जानकारी दी है, उन्होंने बताया कि अभी तक किसी व्यक्ति की तरफ से उनके परिवार के किसी सदस्य की मौत होने या जख़्मी होने की कोई जानकारी नहीं दी गयी है। पटना के मनेर, बिहटा के किसी अस्पताल में किसी जख़्मी के भर्ती होने की जानकारी भी नहीं मिली है। भोजपुर के विमलेश नाम के एक मजदूर की मौत होने की जानकारी पुलिस को मिली है। जख़्मी लोगों की तलाश अभी की जा रही है।

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें बिहार सेक्‍शन