1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. असम में बाढ़ ने मचाई भीषण तबाही, 24 जिले और 2 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, केरल में भी अलर्ट

Assam flood: असम में बाढ़ ने मचाई भीषण तबाही, 24 जिले और 2 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, केरल में भी अलर्ट

असम स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (ASDMA) ने बताया है कि बारिश के बाद लैंडस्लाइड में भी काफी नुकसान हुआ है और पहाड़ी जिला दीमा हसाओ की राज्य के बाकी हिस्सों से कनेक्टिविटी खत्म हो गई है।

Rituraj Tripathi Written by: Rituraj Tripathi @rocksiddhartha7
Published on: May 17, 2022 18:43 IST
Assam flood- India TV Hindi
Image Source : PTI Assam flood

Highlights

  • असम में भीषण बाढ़ की वजह से हालात हुए खराब
  • 24 जिलों में 2 लाख से ज्यादा लोग हुए प्रभावित
  • बाढ़ और लैंडस्लाइड से अब तक 7 लोगों के मरने की खबर

Assam flood: असम में बाढ़ ने विकराल रूप दिखाया है और भीषण तबाही मचाई है। इस बाढ़ की वजह से 24 जिलों से 2 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं और अब तक 7 लोगों की मौत की खबर है। असम (Assam flood) के जो हिस्से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं, उनमें  डिब्रूगढ़, चराईदेव, कछार, धेमाजी, दरांग और दीमा हसाओ शामिल हैं। इसके अलावा मौसम विभाग ने केरल में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। 

वहीं असम स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (ASDMA) ने बताया है कि बारिश के बाद लैंडस्लाइड में भी काफी नुकसान हुआ है और पहाड़ी जिला दीमा हसाओ की राज्य के बाकी हिस्सों से कनेक्टिविटी खत्म हो गई है। हाफलोंग की ओर जाने वाली सड़कें और रेलवे लाइन भी बाधित हैं और 15 मई से बंद हैं।

बारिश से पहुंचा नुकसान 

जिन जगहों पर लगातार बारिश हो रही है, वहां पुल और सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई हैं और नदियां खतरे के निशान के ऊपर हैं। कई जगहों पर फसले नष्ट हो गई हैं। लैंडस्लाइड की वजह से हर पल मौत का खतरा मंडरा रहा है। बारिश ने कई गांवों की हालत खराब कर दी है। बचाव कार्य के लिए राहत शिविर बनाए गए हैं और सेना, NDRF, SDRF के जवान लोगों की मदद कर रहे हैं। 

केरल के इन जिलों में अलर्ट

केरल में भारी बारिश का अलर्ट जारी हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक, कोझीकोड, मलप्पुरम, कासरगोड और कन्नूर जिलों में ऑरेंज अलर्ट है और अन्य जिलों में यलो अलर्ट है। इसके अलावा यहां के कई इलाकों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। मछुआरों को सख्त हिदायत दी गई है कि वह समुद्र में ना जाएं।