1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. Kanpur : फरीदाबाद से पकड़ा गया विकास दुबे का गुर्गा प्रभात एन्काउंटर में मारा गया, भागने की कोशिश में ढेर

Kanpur : फरीदाबाद से पकड़ा गया विकास दुबे का गुर्गा प्रभात एन्काउंटर में मारा गया, भागने की कोशिश में ढेर

बताया जा रहा है कि कानपुर पुलिस जब इसे फरीदाबाद से कानपुर ले जा रही थी, तभी पनकी थाना क्षेत्र के भौती बाई पास के पास प्रभात ने पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 09, 2020 9:34 IST
Prabhat- India TV Hindi
Prabhat

कानुपर शूटआउट मामले में कल फरीदाबाद से पकड़ा गया कार्तिकेय उर्फ प्रभात मिश्रा एन्काउंटर में मारा गया है। बताया जा रहा है कि कानपुर पुलिस जब इसे फरीदाबाद से कानपुर ले जा रही थी, तभी पनकी थाना क्षेत्र के भौती बाई पास के पास प्रभात ने पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की। इसी दौरान पुलिस एनकाउंटर में प्रभात मारा गया। प्रभात विकास का करीबी साथी है, चौबेपुर की fir में ये भी शामिल है, पुलिस पहले ही इसके पास से लूटी गई पिस्टल बरामद कर चुकी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रभात मिश्र को पुलिस वैन से लेकर कानपुर आ रही थी। पुलिस की गाड़ी रास्ते मे पंचर हो गई। तभी प्रभात ने पुलिस की बंदूक लेकर भागने की कोशिश की। जिसके बाद मुठभेड़ हुई, प्रभात को गोली लगी और उसकी मौत हो गई है।

यूपी पुलिस के ADG ने प्रभात की मौत को कन्फर्म कर दिया है। पुलिस ने बयान जारी कर कहा कि आज सुबह जब कानपुर पुलिस की टीम फ़रीदाबाद में गिरफ़्तार कानपुर पुलिस हत्याकांड में शामिल एवम् कुख्यात विकास दुबे का निकट सहयोगी ख़तरनाक अभियुक्त प्रभात मिश्रा निवासी बिकरु थाना चौबेपुर को ट्रैंज़िट रिमांड पर लेकर कानपुर आ रही थी और एसटीफ की टीम इस्कॉर्ट कर रही थी। तब पनकी थाना क्षेत्र में गाड़ी पंक्चर होने पर मौक़ा पाकर अभियुक्त प्रभात द्वारा पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास किया गया। उसने पुलिस पार्टी पर अंधाधुंध फ़ायर भी किया। जिसमें एसटीफ के दो आरक्षी गम्भीर रूप से घायल हो गये। 

उल्लेखनीय है कि कल फ़रीदाबाद पुलिस ने प्रभात को 2 अन्य लोगों के साथ गिरफ़्तार किया था और इसके पास से 4 पिस्टल और 44राउंड्ज़ बरामद हुए थे जिसमे से 9mm की 2 पिस्टल बिकरु से पुलिस से लूटी हुई थी। पुलिस ने श्रवण, अंकुर और एक अन्य आरोपी प्रभात को कल कोर्ट में पेश किया था जिसके बाद कोर्ट ने तीनों को 14 दिन की पुलिस कस्टिडी में भेज दिया था। फरीदाबाद कोर्ट ने आरोपी प्रभात उर्फ कार्तिकेय को 24 घंटे के ट्रांजिट रिमांड पर कानपुर पुलिस को सौंपा था। वहीं, बाकी दो आरोपी अंकुर और श्रवण को न्यायिक हिरासत में भेजा दिया है। इसी प्रभात को लेकर पुलिस कानपुर आ रही थी। जिसकी एन्काउंटर के बाद मौत हो गई है।

 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X