1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. बुलडोजर के बाद CM योगी की वसूली मुहिम शुरू, फ्री राशन लेने वाले फर्जी कार्डधारकों पर एक्शन की तैयारी

UP News: बुलडोजर के बाद CM योगी की वसूली मुहिम शुरू, फ्री राशन लेने वाले फर्जी कार्डधारकों पर एक्शन की तैयारी

सीएम योगी ने पूरे प्रदेश में जिला प्रशासन को आदेश भेजकर अपात्र कार्ड धारकों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है। इसके अलावा फ्री में गेहूं, चावल और खाद्य सामग्री लेने वाले अपात्र कार्ड धारको की लंबी फेहरिस्त बनाकर उनसे वसूली करने का आदेश दिया है।

Rituraj Tripathi Written by: Rituraj Tripathi @rocksiddhartha7
Updated on: May 17, 2022 23:25 IST
UP News- India TV Hindi
Image Source : PTI UP News

Highlights

  • बुलडोजर के बाद CM योगी की वसूली मुहिम शुरू
  • फ्री राशन लेने वाले फर्जी कार्डधारकों पर होगी कार्रवाई
  • सीएम योगी ने अपात्र कार्ड धारकों को राशन कार्ड सरेंडर करने की भी चेतावनी दी

UP News: यूपी में सीएम योगी ने एक नई मुहिम छेड़ दी है। अभी तक सीएम योगी (CM Yogi) का बुलडोजर चर्चा में था लेकिन अब वसूली अभियान भी शुरू होने वाला है। इस नई मुहिम के तहत फर्जी तरीके से राशन कार्ड बनवाकर गरीबों का निवाला छीनने वाले अपात्र कार्ड धारकों के खिलाफ कार्रवाई होगी और उनसे रिकवरी की जाएगी।

सीएम योगी ने पूरे प्रदेश में जिला प्रशासन को आदेश भेजकर अपात्र कार्ड धारकों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है। इसके अलावा फ्री में गेहूं, चावल और खाद्य सामग्री लेने वाले अपात्र कार्ड धारको की लंबी फेहरिस्त बनाकर उनसे वसूली करने का आदेश दिया है।

सीएम योगी (CM Yogi)  ने सभी अपात्र कार्ड धारकों को जल्द से जल्द राशन कार्ड सरेंडर करने की चेतावनी दी है। सीएम के इस आदेश के बाद जिला प्रशासन भी एक्शन में है और मुजफ्फरनगर में जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने जिला पूर्ति अधिकारी और समस्त राशन डीलरों के साथ एक बैठक की है। इस बैठक में जिलाधिकारी ने अपात्र कार्ड धारकों को राशन कार्ड सरेंडर करने के साथ-साथ, अपात्र कार्ड धारको की लिस्ट तैयार कराके उनसे वसूली करने का आदेश दिया है।

सैकड़ों की संख्या में अपात्र कार्ड धारक राशन सरेंडर करने पहुंचे

मुजफ्फरनगर के जिलाधिकारी के आदेश से पूरे जिले में हड़कंप मच गया और सैकड़ों की संख्या में अपात्र कार्ड धारक जिला पूर्ति अधिकारी के यहां राशन सरेंडर करने पहुंच गए। 

जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के तहत शासन का आदेश है कि लोग या तो अंतोदय पात्रता में आते हैं या फिर पात्र गृहस्थी में आते हैं। इसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में सीमा निर्धारित है। ग्रामीण क्षेत्र में 74% और शहरी क्षेत्र में 64% के अंतर्गत लोग शामिल हो सकते हैं। हमारे जनपद में बहुत सारे अपात्र लोगों ने सूचनाएं छुपाकर अंतोदय कार्ड की पात्रता ले ली। इसी तरह पात्र गृहस्थी में भी कुछ ऐसे लोग हैं जो सही में पात्र नहीं है। 

जिलाधिकारी ने कहा कि जिन लोगों ने ऐसा काम किया है, उन लोगों के खिलाफ शासन स्तर से भी आदेश हुआ है और मेरे द्वारा भी इस मामले में कार्रवाई की जा रही है। हमें जो सूचना मिली थी उसमें 800 ऐसे अंतोदय कार्ड धारक हैं, जिन्होंने खुद राशन लेना बंद कर दिया है और इसी प्रकार 13 हजार यूनिट ऐसे कार्ड धारक हैं, जो राशन लेने ही नहीं आ रहे हैं। इसके अलावा सीएम के आदेश के बाद बड़ी संख्या में कार्ड धारकों ने अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दिया है।

उन्होंने कहा कि हम कार्ड धारकों का वेरीफिकेशन कराएंगे और अगर कोई कार्डधारक अपात्र निकला तो उससे वसूली भी की जाएगी।