1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अन्य देश
  5. दुनियाभर के कोरोना आंकड़े क्या कहते हैं? WHO ने विश्लेषण किया

दुनियाभर के कोरोना आंकड़े क्या कहते हैं? WHO ने विश्लेषण किया

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि पिछले सप्ताह दुनियाभर में कोरोना वायरस के करीब 40 लाख मामले दर्ज किए गए, जो नए मामलों को देखते हुए दो महीने से अधिक समय में पहली बड़ी गिरावट है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: September 15, 2021 19:06 IST
दुनियाभर के कोरोना आंकड़े क्या कहते हैं? WHO ने विश्लेषण किया- India TV Hindi
Image Source : AP दुनियाभर के कोरोना आंकड़े क्या कहते हैं? WHO ने विश्लेषण किया

जिनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि पिछले सप्ताह दुनियाभर में कोरोना वायरस के करीब 40 लाख मामले दर्ज किए गए, जो नए मामलों को देखते हुए दो महीने से अधिक समय में पहली बड़ी गिरावट है। हाल के सप्ताह में कोविड-19 के 44 लाख मामले दर्ज किए गए हैं। WHO ने मंगलवार को जारी अपने साप्ताहिक आंकड़ों में बताया कि पिछले सप्ताह की तुलना में दुनिया के सभी क्षेत्रों में मामलों में कमी देखी गई है। वहीं, दुनियाभर में मौतों की संख्या में भी कमी आई है और यह लगभग 62,000 दर्ज की गई। सबसे ज्यादा कमी दक्षिण पूर्वी एशिया में आई है जबकि मौतों में अफ्रीका में सात प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। 

सबसे ज्यादा नए मामले अमेरिका, ब्रिटेन, भारत, ईरान और तुर्की में आए तथा वायरस का बेहद संक्रामक स्वरूप ‘डेल्ट’ अब 180 देशों में पहुंच गया है। WHO ने यह भी कहा कि वयस्कों की तुलना में कोविड-19 से बच्चे एवं किशोर कम प्रभावित हैं। संगठन ने कहा कि 24 साल से कम उम्र के लोगों की वायरस के कारण मृत्यु का प्रतिशत करीब 0.5 प्रतिशत है। 

इस बीच फ्रांस में बुधवार तक स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड रोधी टीका नहीं लगाया गया तो वे काम पर नहीं जा सकेंगे, क्योंकि देश में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगवाना अनिवार्य है और इसकी समय सीमा का बुधवार अंतिम दिन है। देश में करीब तीन लाख स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण नहीं हुआ है, जिससे अस्पतालों को भय है कि उनके यहां कर्मियों की कमी हो सकती है। 

वहीं, कंबोडिया शुक्रवार से छह से 11 साल की उम्र के बच्चों का कोविड रोधी टीकाकरण शुरू करेगा। प्रधानमंत्री हुन सेन ने बुधवार को कहा कि यह कदम इसलिए उठाया जा रहा है ताकि बच्चे सुरक्षित तरीके से स्कूल जाना शुरू कर सकें, जो कोरोना वायरस महामारी की वजह से लंबे समय से बंद हैं। 

उन्होंने एक ऑडियो संदेश में कहा कि उन्हें उम्मीद है कि कार्यक्रम के तहत करीब 18 लाख बच्चों को टीका लगाया जाएगा। इस कार्यक्रम में चीन निर्मित सिनोवैक टीके का इस्तेमाल किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह तीन से पांच वर्ष के बच्चों का भी जल्द टीकाकरण कराने पर विचार कर रहे हैं।

Click Mania
Modi Us Visit 2021