1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. कोरोना मामलों में तेज गिरावट के बाद जापान ने हटाई नेशनल इमर्जेंसी, शिंजो आबे ने की घोषणा

कोरोना मामलों में तेज गिरावट के बाद जापान ने हटाई नेशनल इमर्जेंसी, शिंजो आबे ने की घोषणा

कोरोना वायरस पर नियंत्रण में बेहतर परिणाम सामने आने के ​बाद जापान सरकार ने देश से नेशनल इमर्जेंसी हटा दी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: May 25, 2020 16:16 IST
Japan- India TV Hindi
Image Source : AP Japan

कोरोना वायरस पर नियंत्रण में बेहतर परिणाम सामने आने के ​बाद जापान सरकार ने देश से नेशनल इमर्जेंसी हटा दी है। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कोरोना वायसर के मामलों में तेज गिरावट के बाद स्टेट ऑफ इमरजेंसी हटाने का फैसला लिया है। इस घोषणा के बाद जापान में थमी आर्थिक गतिविधियां फिर से शुरू हो सकेंगी। बता दें कि जापान में कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए पहले 7 अप्रैल को इमरजेंसी लगाई गई थी। करीब डेढ़ महीने के बाद अब इसे हटा लिया गया है। 

जापान एक टेलीविजन पर दिए गए साक्षात्कार में प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने घोषणा करते हुए कहा है कि जापान पिछले कुछ महीने से बड़ी आपदा का सामना कर रहा था। लेकिन इसके बावजूद हमने इमरजेंसी हटाने के लिए काफी कड़े पैमाने तय कर रखे थे। अब जाकर हमने उन पैमानों को छुआ है।जिसके बाद इमरजेंसी हटाने का फैसला लिया गया है। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा है कि देश ने इसके संक्रमण को फैलने से रोकने में कामयाबी पाई है। जापान में इमरजेंसी के हटते ही विश्व की तीसरी अर्थव्यवस्था में तेजी आनी शुरू हो जाएगी। अब बिजनेस और उद्योग धंधे खोले जाने लगेंगे। इसके साथ ही स्कूलों को भी दोबारा से खोला जाएगा।

बता दें कि जापान में बाकी देशों की तुलना में करोनो वायरस के संक्रमण के कम मामले सामने आए हैं। यहां कोरोना के चलते मौतें भी कम हुई हैं। सोमवार तक जापान में कोरोना वायरस के 16,550 मामले सामने आए थेै। कोरोना के चलते जापान में कुल 820 लोगों की मौत हुई है।लॉकडाउन के दौरान टोक्यो पूरी तरह से शांत रहा। जापान में कोरोना वायरस के संक्रमण के चरम के दिनों के दौरान हर रोज करीब 700 मामले सामने आ रहे थे। जो पिछले दिनों सिर्फ कुछ दर्जन रोज रह गए थे।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X