China News: विरोध प्रदर्शनों से झुका चीन, कोरोना पाबंदियों में दी ढील, जानिए WHO ने क्या दिया रिएक्शन?

चीन ने लंबे समय से लगाए कोर कोविड प्रतिबंधों को भारी विरोध प्रदर्शनों के बीच शिथिल कर दिया है। हाल ही में चीन में हुए विरोध प्रदर्शनों के बीच चीन ने यह निर्णय लिया। इसी फैसले पर डब्ल्यूएचओ की ओर से भी रिएक्शन आया है। पढ़िए पूरी जानकारी।

Deepak Vyas Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: December 03, 2022 10:44 IST
कोरोना पाबंदियों में दी ढील- India TV Hindi
Image Source : FILE China: कोरोना पाबंदियों में दी ढील

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र एजेंसी यह देखकर ‘खुश’ है कि चीन कोरोना वायरस संबंधी कुछ प्रतिबंधों में ढील दे रहा है। उन्होंने कहा कि यह वाकई महत्वपूर्ण है कि सरकार उस समय अपने लोगों की सुन रही है, जब वे तकलीफ में हैं। 

डब्ल्यूएचओ के आपात सेवा निदेशक डॉ. माइकल रयान ने एक मीडिया कॉन्फ्रेंस में कहा कि उनका संगठन यह देखकर खुश है कि चीन कोविड-19 को लेकर अपनी मौजूदा रणनीति में सामंजस्य स्थापित कर रहा है। चीन के कई शहरों में पिछले हफ्ते कोविड-19 से जुड़े कड़े प्रतिबंधों के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध-प्रदर्शन हुए थे। 

यह कई दशकों में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के खिलाफ सबसे बड़ा विरोध-प्रदर्शन था। रयान ने कहा कि आरएनए मैसेंजर पर आधारित कोविड रोधी टीके, जिनका निर्माण बायो एनटेक, फाइजर और माडर्ना जैसी कंपनियों ने किया है, चीन के लिए टीकाकरण को बढ़ावा देने का एक ‘मजबूत विकल्प’ साबित हो सकते हैं। चीन के स्वदेशी टीके कम असरदार साबित हुए हैं।

वैज्ञानिकों ने कहा है कि चीनी टीके जो भी सुरक्षा प्रदान करते हैं, उसके कोरोना वायरस के ओमिक्रोन स्वरूप के उद्भव के साथ और कमजोर हो जाने की आशंका है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक, देश में 80 वर्ष से अधिक उम्र के केवल 66 फीसदी लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया गया है, जबकि इस आयु वर्ग के सिर्फ 40 प्रतिशत लोगों को बूस्टर खुराक दी गई है।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन