भारतीय मूल के नागरिक ने अमेरिकी महिला का किया यौन शोषण, इस दिन सुनाई जाएगी सजा

श्रीश तिवारी एक मोटेल में बतौर मैनेजर के तौर पर काम करता है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक मोटेल चलाने वाले श्रीश तिवारी ने पीड़िता को साफ सफाई के लिए काम पर रखा था।

Avinash Rai Written By: Avinash Rai
Published on: June 04, 2023 22:59 IST
Indian origin citizen sexually assaulted American woman will be sentenced on this day- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO भारतीय मूल के नागरिक ने अमेरिकी महिला का किया यौन शोषण

अमेरिका में एक 70 वर्षीय भारतीय-अमेरिकी नागिरक को सजा हो सकती है। दरअसल पर श्रीश तिवारी नाम के शख्स पर दोष सिद्ध हो चुका है। तिवारी पर एक महिला कर्मचारी को धमकी देकर काम कराने और यौन शोषण का सिद्ध हो चुका है। अमेरिकी न्याय विभाग द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि 70 वर्षीय भारतीय-अमेरिकी नागरिक को अपनी महिला कर्मचारी से गुलामी, यौन शोषण और जबरन श्रम कराने को लेकर दोषी ठहराया गया है। बता दें कि श्रीश तिवारी एक मोटेल में बतौर मैनेजर काम करता है।  

भारतीय मूल के शख्स ने किया यौन शोषण

न्याय विभाग ने कहा कि पीड़िता को काम मिलने से पहले वह बेघर थी और नशा करती थी। महिला से उसके बच्चे को रखने का भी अधिकार छीन लिया गया था। इसके बावजूद तिवारी ने महिला को रहने के लिए घर, वकील इत्यादि मुहैया कराया और काम पर भी रखा। इस दौरान वह पीड़िता के मोटेल में आने वाले अतिथियों और कर्मचारियों के बीच बातचीत पर नजर रखता था। 

बाद में तिवारी ने पीड़िता को किसी से बात करने से मना किया और पीड़िता का यौन शोषण किया। इस दौरान वो लगातार पीड़िता को नौकरी से निकाल देने की धमकी भी देता था। साथ ही वह पीड़िता को धमकी देता था कि वह उसके नशा करने की आदतों की जानकारी बाल कल्याण एजेंसियों को दे देगा। जानकारी के मुताबिक कोर्ट में तिवारी ने खुद इस बात को स्वीकार किया है कि उसने अपनी शक्तियों का दुरुपयोग किया है और महिला को यौन कामों में शामिल होने के लिए पीड़िता को मजबूर किया है। तिवारी को 6 सितंबर को सजा सुनाई जाएगी। ऐसे में दोषी पाए गए भारतीय-अमेरिकी शख्स को अधिकतम 20 साल की सजा और ढाई लाख डॉलर तक का जुर्माना लग सकता है। 

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन